December 9, 2022, 1:55 am

नोएडा में बंद रहेंगी शराब-मीट की दुकानें, DM ने इस कारण लिया फैसला

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday July 12, 2022

नोएडा में बंद रहेंगी शराब-मीट की दुकानें, DM ने इस कारण लिया फैसला

Liquor-meat shops to remain closed in Noida: नोएडा में शराब और मीट की दुकानें बंद रहेंगी। ये खबर आपको चौंका सकती है लेकिन गौतमबुद्ध नगर के डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट सुहास एलवाई ने जो नया और अहम फैसला लिया है उसके मुताबिक शराब और मीट की दुकानें बंद रहेंगी।

इस कारण लिया फैसला 

14 जुलाई से सावन (Sawan) का महीना शुरू हो रहा है. इसी महीने में कांवड़ यात्रा (Kanwar Yatra) भी होती है. खासतौर पर वेस्ट यूपी में कांवड़ यात्रा जोर शोर से निकलती है. 12 अगस्त तक कांवड़ यात्रा चलेगी. कांवड़िए गंगाजल (Gangajal) लेकर नोएडा (Noida) के रास्ते होते हुए दिल्ली (Delhi) की ओर जाते हैं. इसी के चलते नोएडा प्रशासन कांवड़ यात्रा की तैयारियों में जुट गया है.

यह भी पढ़ें :-

नीले रंग की फूलों वाली बिकिनी पहन मौनी रॉय ने आसमान में भरी उड़ान, फैंस हैरान

कब से कब तक बंद रहेगी दुकानें 

हाल ही में गौतम बुद्ध नगर के डीएम ने सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ इस संबंध में एक बैठक भी थी. बैठक के दौरान ही कांवड़ यात्रा वाले रूट पर शराब (Liquor) और मीट (Meat) की दुकानें बंद करने का फैसला लिया गया है. आदेश के तहत 14 जुलाई से 12 अगस्त तक दुकानें बंद रहेंगी. नोएडा से गुजरने के दौरान कांवड़ यात्रा को लेकर किसी भी तरह की कोई परेशानी न आए. कांवड़ यात्रा बिना किसी रुकावट के नोएडा से होते हुए दिल्ली की ओर निकल जाए इसके लिए कई तरह के कदम उठाए जा रहे हैं. नोएडा प्रशासन और पुलिस दिन-रात तैयारियों में लगे हुए हैं. ट्रैफिक बिना रुके लगातार चलता रहे और कांवड़ यात्रा भी आराम से निकल जाए इसके लिए खास प्लान बनाया गया है.

कांवड़ यात्रा में डायवर्ट रहेगी रूट 

मीटिंग में ट्रैफिक डायवर्जन का भी फैसला लिया गया है. वहीं कांवड़ यात्रा वाले रूट पर संचालित शराब और मीट की दुकानों की लिस्ट बनाई जा रही है. 14 जुलाई से लिस्ट के मुताबिक सभी दुकानों को 12 अगस्त तक के लिए बंद करा दिया जाएगा

कांवड़ यात्रा भगवान शिव की प्रतीक है. कांवड़ यात्रा हर साल सावन के महीने में होती है. यात्रा के दौरान शिव भक्त उत्तराखंड में हरिद्वार, गोमुख और गंगोत्री से गंगा नदी का जल लेने जाते हैं. जल लेने के बाद पैदल ही इस जल को लेकर अपने गांव और मोहल्ले के शिव मंदिर में गंगाजल से शिवलिंग का जलाभिषेक करते हैं.

पढ़ें: नोएडा-ग्रेटर नोएडा में गलत बिजली कनेक्शन देने का मामला, 3 इंजीनियरों को किया बर्खास्त

कांवड़ यात्रा की तैयारी तेज
कांवड़ यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं पर हेलीकॉप्टर से फूलों की वर्षा की भी तैयारी की जा रही है. गौरतलब है कि कोरोना के कारण पिछले दो साल से कांवड़ यात्रा बाधित रही थी. इस बार कोरोना संक्रमण की सामान्य स्थिति होने से सरकार कांवड़ यात्रा संचालन को लेकर तैयारियां कर रही है. खासतौर से पश्चिमी यूपी में कांवड़ यात्रा बड़े ही हर्ष और उल्लास के साथ निकलती है. अगले महीने 14 जुलाई से सावन का महीना शुरू हो जाएगा और इसके साथ ही कांवड़ यात्रा की भी शुरुआत हो जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.