February 1, 2023, 9:08 pm

Electricity bill: बिजली बिल नहीं भरा तो इस सोसाइटी की बिजली काटी, ऐसे बिल्डर की करतूतों की सजा रेजिडेंट्स को क्यों ?

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday December 13, 2022

Electricity bill: बिजली बिल नहीं भरा तो इस सोसाइटी की बिजली काटी, ऐसे बिल्डर की करतूतों की सजा रेजिडेंट्स को क्यों ?

Electricity bill: हरियाणा (Haryana) के सोनीपत में तनेजा डेवलेपर्स इंफ्रास्ट्रक्चर ( Taneja Developers Infrastructure) प्रबंधन की ओर से बकाया 7.62 करोड़ रुपये का बिल जमा न कराने पर बिजली निगम की टीम ने किंग्सबरी सोसाइटी (Kingsbury Society) के तीन कनेक्शन काट दिए हैं. इससे किंग्सबरी सोसाइटी के फ्लैटों में रहने वाले 2500 परिवारों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. बिजली कनेक्शन काटने के बाद फ्लैट में अब सोसाइटी में डीजी सेट चलाकर बिजली आपूर्ति शुरू कर दी गई है.

बिजली निगम की ओर से टीडीआई प्रबंधन को बकाया बिल जमा कराने के लिए बार-बार नोटिस जारी किए जा रहे थे. उसके बावजूद टीडीआई प्रबंधन ने छह माह से बिल की बकाया राशि जमा नहीं कराई.

राई के उपमंडल अभियंता का कहना है कि प्रबंधन की तरफ से जब तक बकाया बिल जमा नहीं कराई जाएगी, तब तक बिजली कनेक्शन नहीं जोड़ा जाएगा. रेजिडेंट्स का कहना है कि बिल्डर ने बकाया राशि जमा नहीं कराई तो आंदोलन करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा. टीडीआई बिल्डर ने कई अलग-अलग सोसाइटी बना रखी है. जिनमें किंग्सबरी सोसाइटी व टस्कन सिटी भी शामिल हैं. बिजली निगम की ओर से इन सोसाइटी के लिए बार-बार बिजली बिल भेजे जा रहे हैं. टीडीआई के नवज्योति प्राइवेट लिमिटेड के कनेक्शन पर 1 करोड़ 97 लाख 70 हजार 182 रुपये बिजली बिल बकाया है.

वहीं, टीडीआई के दूसरे कनेक्शन पर 2 करोड़ 36 लाख 63 हजार 284 रुपये बकाया है. इसके साथ ही तीसरे कनेक्शन पर 3 करोड़ 28 लाख 56 हजार 788 रुपये बकाया है. तीनों कनेक्शनों पर करीब छह माह से यह राशि बकाया है.

नोटिस जारी करने के बावजूद बिल्डर की तरफ से बिल जमा नहीं कराया जा रहा था. ऐसे में बिजली निगम की ओर से कार्रवाई करते हुए तीन कनेक्शनों को काट दिया है. अब सोसाइटी के रेजिडेंट्स को बिजली संकट का सामना करना पड़ेगा.

बता दें कि, सोसाइटी में 3300 फ्लैट हैं. जिनमें 2500 परिवार रहते हैं. हर परिवार बिजली बिल 6.50 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से जमा कराता है. साथ ही बिजली गुल होने पर जेनरेटर से बिजली 29 रुपये प्रति यूनिट मिल रही है. रेजिडेंट्स का आरोप है कि एडवांस बिजली बिल देने के बावजूद बिल्डर की तरफ से बिल की राशि जमा नहीं कराई जा रही है. बिजली कनेक्शन काटने के बाद फ्लैट में अब सोसाइटी में डीजी सेट चलाकर  व्यवस्था की गई है.

डीजल जनरेटर से बिजली आपूर्ति करने के कारण रेजिडेंट्स को ज्यादा खर्च करना पड़ेगा. 8 दिसंबर को वह बिल्डर से मिले थे. उस दिन बिल्डर ने बकाया राशि जमा कराने के लिए बिजली निगम से चार दिन का समय मांगा था. चार दिन बीत जाने के बावजूद बिल्डर ने बिल की बकाया राशि जमा नहीं कराई. इस पर बिजली निगम ने सोसाइटी के तीनों कनेक्शन काट दिए है. कनेक्शन कटने की वजह से अब उनकी परेशानी बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें-

Ghaziabad crime: घर के बाहर बैठी महिला से लूट, घटना का CCTV आया सामने, जांच में पुलिस

किंग्सबरी सोसाइटी के तीन कनेक्शन काट दिए गए हैं. करीब छह माह से टीडीआई प्रबंधन पर 7 करोड़ 62 लाख 90 हजार 854 रुपये बकाया है. बार-बार नोटिस जारी करने के बावजूद बकाया राशि जमा नहीं कराई गई. ऐसे में सोसाइटी की बिजली काटनी पड़ी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.