June 12, 2024, 9:30 pm

Dog Bites Death: कुत्ते के काटने से हर साल 20 हजार लोगों की होती है मौत.. इतना तो आतंकवादी घटनाओं में भी नहीं होता। कुत्ता काट ले तो क्या करें क्या न करें

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday October 11, 2023

Dog Bites Death: कुत्ते के काटने से हर साल 20 हजार लोगों की होती है मौत.. इतना तो आतंकवादी घटनाओं में भी नहीं होता। कुत्ता काट ले तो क्या करें क्या न करें

Dog Bites Death: अक्सर हम कुत्ते के काटने की घटनाओं के बारे में सुनते हैं. कई बार हम रिएक्ट करते हैं तो कई बार अनसुना करके अपने रोजमर्रा की जिंदगी में मशगुल हो जाते हैं. लेकिन क्या आपको पता है कि भारत दुनिया का पहला ऐसा देश है जहां कुत्ते के काटने से सबसे ज्यादा मौत होती है. एक रिपोर्ट के मुताबिक रेबीज ग्रस्त जानवरों के काटने से हर साल 20 हजार लाेगाें की मौतें भारत में हो जाती हैं. जबकि विश्व में इसका आंकड़ा 60 हजार का है. यानी 60 हजार में से 20 हजार लोग केवल भारत में ही रेबीज वाले जानवर से हो जाता है. ऐसे में इस बात की खास जरुरत है कि आपको पता हो कि अगर कुत्ता काट ले तो क्या करना चाहिए

सावधानी बेहद जरूरी

डॉगी पालने का शौक किसी को भी हो सकता है लेकिन कुत्‍ता पालना इतना आसान भी नहीं है. अगर आपके घर में बच्‍चे हैं तो आपको बहुत सावधान (Dog Bites Death) होने की जरूरत है. बहुत ज्‍यादा लाड़-प्‍यार से पाले गए कुत्‍ते भी कई बार गुस्‍से में या खेल-कूद में काट लेते हैं या खरोंच देते हैं. जिससे रेबीज होने का खतरा होता है. दुनिया में रेबीज से होने वाली कुल मौतों में 36 फीसदी मौतें भारत में होती हैं. यहां रेबीज से हर साल  20 हजार लोगों की जान जाती है. इनमें बच्‍चों की संख्‍या ज्‍यादा है क्‍योंकि बच्‍चे कुत्‍तों का आसान शिकार होते हैं.

बच्‍चों को ज्‍यादा काटते हैं कुत्‍ते

भारत में रिपोर्ट किये गए रेबीज़ के लगभग 30 से 60 फीसदी मामलों और मौतों में 15 साल से कम उम्र के बच्‍चे शामिल हैं. यानि कुत्‍ते बच्‍चों को सबसे आसान शिकार मानते हैं. इसके अलावा बच्चों में काटने या खरोंचने के निशान को अक्सर पहचाना नहीं जाता एवं रिपोर्ट नहीं किया जाता, जिसकी वजह बच्‍चों में रेबीज का खतरा बढ़ जाता है. भारत में मानव रेबीज के लगभग 97 फीसदी मामलों के लिये कुत्ते जिम्मेदार हैं, इसके बाद बिल्लियां (2%), गीदड़, नेवले एवं अन्य (1%) हैं.

यह भी पढ़ें:-

Noida News: सोसाइटी में कुत्ता विवाद पर ‘फसाद’.. BJP युवामोर्चा के नेता के साथ मारपीट, वीडियो हुआ वायरल

कुत्ता काटे तो क्या करें

तो आज आपको जो हम बताने जा रहे हैं वो बेहद काम की चीज है. अगर किसी भी पालतू या आवारा कुत्‍ते ने काट लिया है तो तुरंत उस जगह को धो देना चाहिए. इसके बाद घर में रखे डिटर्जेंट साबुन जैसे कि रिन या सर्फ एक्सेल साबुन को घाव पर रगड़कर इस जगह को अच्‍छी तरह गर्म पानी से साफ कर लेना चाहिए. अगर जख्म बहुत गहरा है तो इस जगह पर पहले साबुन से धोएं और उसके बाद बीटाडिन मलहम लगा लें.

कुत्ता काटे तो क्या न करें

भारत में कुत्तों या अन्य जानवरों के काटने के बाद अब भी ग्रामीण एरिया में काटे गए घाव के स्थान पर हल्दी, चूना और मिर्ची लगाने अंधविश्वासी परंपरा है, जोकि रेबीज की बीमारी को थामने की बजाए और बढ़ा देती है. ध्यान रखें कि कुत्ता काटने के बाद घाव पर पट्टी नहीं बांधना चाहिए. घाव पर तेल, हल्दी या किसी घरेलू चीज को लगाने से बचें. घाव को धोने के बाद तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

यह भी पढ़ें:-

Controversy over dog: गाजियाबाद में कुत्ता घुमाने को लेकर हुआ विवाद, दिव्यांग को पीटा, डॉग मालिक पर FIR

Leave a Reply

Your email address will not be published.