February 1, 2023, 8:57 pm

Fraud with Housewife: 10 रुपये के शाही पनीर ने लगवाया.. 1.75 लाख रुपये का चूना। ऐसे हुए साइबर क्राइम के शिकार

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday December 13, 2022

Fraud with Housewife: 10 रुपये के शाही पनीर ने लगवाया.. 1.75 लाख रुपये का चूना। ऐसे हुए साइबर क्राइम के शिकार

Fraud with Housewife: नोएडा और ग्रेटर नोएडा में साइबर क्राइम (Cyber Crime Noida) के मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. शायद ही कोई ऐसा दिन गुजरता होगा जब ऐसी घटनाएं सामने ना आती हो. एक बार फिर ऐसा ही एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. जहां महज 10 रुपये की शाही पनीर की सब्जी का लालच देकर करीब 1 लाख 75 हजार रुपये ठग लिए. इस बार ठगी ने एक हाउसवाइफ को अपना शिकार बनाया।

कहां का है मामला ?

ग्रेटर नोएडा की एक हाउसिंग सोसायटी में महिला (Fraud with Housewife) अपने परिवार के साथ रहती हैं. बीते दिनों महिला ने एक रेस्टोरेंट से ऑनलाइन फूड ऑर्डर किया था, लेकिन यहा कॉल रेस्टोरेंट में नहीं लगी, यह कॉल साइबर क्रिमिनल को लगा. साइबर ठगों ने महिला को झांसा दिया कि वह केवल ₹10 में खाना ऑर्डर (Shahi Paneer In Rs 10) कर सकती हैं, ठगों के झांसे में महिला आ गई और ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करने लगी. इसी दौरान महिला के क्रेडिट कार्ड से पौने दो लाख रुपए उड़ गए. पीड़ित महिला ने इस मामले में मुकदमा दर्ज करवाया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

जानकारी के मुताबिक ग्रेटर नोएडा के डेल्टा-1 सेक्टर में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर का परिवार रहता है. बीते दिनों सॉफ्टवेयर इंजीनियर की पत्नी घर पर थी. इसी दौरान उन्होंने ऑनलाइन खाना ऑर्डर (Online Food Order) करने का सोचा, उन्होंने ग्रेटर नोएडा के एक रेस्टोरेंट्स से खाना ऑर्डर करने के लिए कॉल किया. कॉल रिसीव करने वाले ने कहा कि हम उनको ₹250 में एक थाली देंगे. फ़ूड उनके घर पर डिलीवर्ड होगा. ठगों ने महिला को झांसा दिया कि केवल 10 रुपये देकर वह एडवांस ऑनलाइन बुकिंग कर सकती हैं. बाकी पैसे होम डिलीवरी पर दे सकती हैं.

पीड़िता ने बताया कि वह वह ठगों के झांसे में आ गई और ठगों द्वारा व्हाट्सएप  (Cyber Fraud by Whatsapp) पर भेजे गए लिंक पर क्लिक कर दिया. क्लिक करने के बाद जब वह क्रेडिट कार्ड से फूड ऑर्डर कर रही थी, उसी दौरान उनके अकाउंट से 1.75 लाख रुपए कट गए. उसके बाद जब महिला ने उन आरोपियों के पास कॉल किया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया और बाद में स्विच ऑफ कर लिया. जिसके बाद पीड़िता को ठगी का अहसास हुआ.

ये भी पढ़ें-

Parents protest at school: नोएडा के इस स्कूल के खिलाफ अभिभावकों ने किया प्रदर्शन, अर्धनग्न होकर पहुंचे डीएम कार्यालय

इस मामले में पीड़िता ने पुलिस को शिकायत दी है. पुलिस ने शिकायत के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया है. बता दें कि, पिछले कुछ दिनों के दौरान नोएडा और ग्रेटर नोएडा में ऐसे मामले काफी ज्यादा बढ़े हैं. सबसे गंभीर और चिंताजनक बात यह है कि पढ़े-लिखे लोग साइबर ठगी का सबसे ज्यादा शिकार हो रहे हैं.

साइबर ठगी से ऐसे बचें
  • किसी भी अनजान लिंक पर क्लिक न करें.
  • किसी से भी अपना ओटीपी व एटीएम का पासवर्ड शेयर न करे.
  • मुफ्त कुछ नहीं मिलता, मुफ्त मिलने संबंधी काल पर अलर्ट हो जाएं.
  • अगर कोई आपके खाते की केवाईसी के लिए काल करता है तो कह दें कि आप खुद बैंक चले जाएंगे.
  • कभी अकाउंट, पेटीएम, गूगल-पे से जुड़ी किसी सहायता के नाम पर यदि कोई व्यक्ति काल कर आपसे टीम व्यूवर, ऐनीडेस्क जैसे एप डाउनलोड करने को कहे तो फोन तुरंत काट दें.
  • इंटरनेट मीडिया पर किसी भी अनचाहे ई-मेल, एसएमएस या मैसेज में आए अटेचमेंट को खोलने या क्लिक करने से हमेशा बचें.
  • ईमेल, वेबसाइट और अज्ञात ई-मेल भेजने वालों के स्पेलिंग एक बार जरूर चेक कर लें. क्योंकि ठग मिलती जुलती स्पेलिंग से ठगी का शिकार बनाते हैं.
  • विभिन्न साइटों पर अपने पासवर्ड न दोहराएं.
  • पासवर्ड नियमित रूप से बदलें. पासवर्ड मुश्किल बनाएं.

यह भी पढ़ें:-

Athiya Shetty KL Rahul Wedding Date: केएल राहुल-अथिया शेट्टी की शादी अगले साल, सामने आई वेडिंग डेट

Leave a Reply

Your email address will not be published.