December 9, 2022, 1:47 am

Bloating issue: सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है ब्लोटिंग! अवॉइड न करें

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday November 24, 2022

Bloating issue: सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है ब्लोटिंग! अवॉइड न करें

Bloating issue:  ज्यादा खाना खाने से पेट फूलने या ब्लोटिंग (bloating) की समस्या होना आम बात है. हालांकि अगर सामान्य डाइट लेने के बाद भी आपको पेट फूलने की शिकायत  रहती है तो इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. ऐसी समस्या के लिए आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. ये किसी बीमारी का भी संकेत हो सकता है.

पेट फूलने की समस्या

ब्लोटिंग (bloating) की समस्या का सामना अधिकतर लोगों को करना पड़ता है. यह समस्या तब होती है जब आप बहुत ज्यादा खाना खा लेते हैं और पेट में गैस बनने लगती है. पेट फूलने के कारण बहुत से लोगों को दर्द का सामना भी करना पड़ता है. बहुत से लोग ऐसे भी हैं जो ब्लोटिंग की समस्या होने पर टहलने लगते हैं या पानी पी लेते हैं. जिसके बाद यह समस्या अपने आप ही दूर हो जाती है. लेकिन कई लोगों को बार-बार या काफी लंबे समय तक ब्लोटिंग की समस्या से जूझना पड़ता है जो किसी गंभीर बीमारी का संकेत हो सकता है. ऐसे में जरूरी है कि आप ब्लोटिंग के संकेतों और लक्षणों को इग्नोर ना करें.

पढ़ें: https://gulynews.com/26-prisoners-found-hiv-positive-in-district-jail-of-gautam-budh-nagar/

अगर आपको बार-बार इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो जरूरी है कि आप डॉक्टर से संपर्क करें ताकि किसी गंभीर बीमारी से बचा जा सकें.

ब्लोटिंग किन बीमारियों का संकेत है ?

पेट में होने वाली ब्लोटिंग कई तरह कैंसर का एक संकेत या लक्षण हो सकती है. लाइफस्टाइल और खानपान में बदलाव करने के बावजूद भी अगर आपको ब्लोटिंग की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो डॉक्टर को दिखाना एक अच्छा आइडिया हो सकता है.

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर आपको लगातार 2 हफ्तों तक ब्लोटिंग की समस्या सामना करना पड़ रहा है तो यह चिंता का विषय है.

भूख लगने में बदलाव

भूख में बदलाव होना कई तरह के कैंसर का शुरुआती संकेत होता है. जिसमें ब्रेस्ट, पैनक्रियाटिक, कोलन और पेट का कैंसर शामिल है. ब्लोटिंग आपके खाने के तरीके पर असर डालती है और कैंसर में भी बदल सकती है. इसके कारण आपकी भूख पर भी असर पड़ता है जिससे व्यक्ति का पेट भरा हुआ लगता है और उसे बिल्कुल भूख नहीं लगती. इसके साथ ही व्यक्ति में उल्टी और मतली के लक्षण भी दिखाई देते हैं.

दर्द- लगातार ब्लोटिंग होना और पेट भरा हुआ महसूस करना ओवेरिन कैंसर का सबसे कॉमन शुरुआती संकेत है. अगर ब्लोटिंग के अलावा आपको पेट में सूजन भी नजर आती है. तो यह खतरे का संकेत हो सकता है. अन्य शुरुआती संकेतों  में कुछ भी खाते समय तुरंत पेट भर जाना, अपच शामिल है. बहुत से ऐसे फेक्टर हैं जो ओवेरियन कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं. इसमें आपकी उम्र 50 साल से ज्यादा होना या ओवेरियन या ब्रेस्ट कैंसर की फैमिली हिस्ट्री होना शामिल है.

थकान- अगर आपको ब्लोटिंग (Bloating issue) के साथ ही थकान भी महूसस हो रही है तो यह कई दिक्कतों का संकेत हो सकता है. इसके दो मुख्य संकेत हार्ट फेलियर और लिवर डिजीज है. हेल्थ एक्सपर्ट्स ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर आपको ब्लोटिंग के साथ ही शरीर में फ्लूइड की कमी का की कमी का सामना करना पड़ रहा है तो इसका मतलब है कि यह समस्या आपके लिवर और हार्ट पर बुरा असर डाल रही है.

पढ़ें: https://gulynews.com/controversy-over-dog-walking-in-ghaziabad/

शरीर में फ्लूइड के निर्माण के कारण पेट के आसपास के एरिया में सूजन या दर्द का सामना करना पड़ सकता है जो हार्ट फेलियर का एक संकेत है.

हार्ट फेलियर के बाकी लक्षणों में शामिल है थकान, सांस लेने में दिक्कत और घबराहट का होना. लिवर की बीमारी फ्लूइड (Fluid) के निर्माण और ब्लोटिंग से भी भी जुड़ी होती है. आमतौर पर यह एक धीमी प्रक्रिया है, जहां आप इसे पेट के निचले हिस्से में महसूस करना शुरू करते हैं.जैसे-जैसे यह आगे बढ़ती है, पेट में फ्लूइड का लेवल काफी ज्यादा बढ़ने लगता है. लिवर डिजीज के अन्य संकेतों में शामिल हैं- पीलिया, थकान और आसानी से शरीर पर नील पड़ जाना.

Leave a Reply

Your email address will not be published.