February 25, 2024, 6:52 am

Yoga Ashram In Greater Noida: योग और अध्यात्म को बढ़ावा देने के लिए बनेगा आश्रम, प्रस्ताव को मिली मंजूरी…

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday February 5, 2024

Yoga Ashram In Greater Noida: योग और अध्यात्म को बढ़ावा देने के लिए बनेगा आश्रम, प्रस्ताव को मिली मंजूरी…

Yoga Ashram In Greater Noida: ग्रेटर नोएडा में योग और अध्यात्म को बढ़ावा देने के लिए दिए गए प्रताव को मंजूरी मिल गई है। इसके लिए नोएडा एयरपोर्ट के पास यीडा सिटी में एक आश्रम का निर्माण किया जायेगा।इससे औद्योगिक गतिविधियों के साथ योग, पर्यावरण संरक्षण और अध्यात्म को भी बढ़ावा मिलेगा। इस आश्रम में 242 फीट ऊंची आदियोगी शिव की प्रतिमा को स्थापित किया जायेगा। जिसके लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय से सैद्धांतिक सहमति मिल गई है। इसके लिए कुछ दिन पहले सीएम योगी आदित्यनाथ को प्रस्ताव सौंपा गया था।

क्या है पूरा मामला

खबर के अनुसार ग्रेटर नोएडा (Yoga Ashram In Greater Noida) के यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियों के साथ योग, पर्यावरण संरक्षण और अध्यात्म को भी बढ़ावा दिया जाएगा। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर के पास सेक्टर-23डी में ईशा फाउंडेशन द्वारा योग आश्रम विकसित किए जाने की तैयारी चल रही है। इसके लिए प्राधिकरण से 200 एकड़ जमीन मांगी गई है। यहां आदियोगी शिव की 242 फीट ऊंची प्रतिमा स्थापित की जाएगी। यह दुनिया की सबसे ऊंची आदियोगी शिव की प्रतिमा होगी। बताया जा रहा है कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय से इसकी सैद्धांतिक सहमति मिल गई है। इससे संबंधित प्रस्ताव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दिया गया था।

आज की भागदौड़ भरी व तनावपूर्ण जिंदगी में योग और अध्यात्म का महत्व बढ़ता जा रहा है। इसको देखते हुए ईशा फाउंडेशन के संस्थापक सद्गुरू जग्गी वासुदेव यीडा सिटी में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास आश्रम बनाना चाह रहे हैं। एयरपोर्ट के नजदीक होने की वजह से यह काम आसान नहीं है। बताया जाता है कि कई माह के प्रयास के बाद आश्रम में आदियोगी शिव की प्रतिमा लगाने की सैद्धांतिक सहमति नागरिक उड्डयन मंत्रालय से मिल चुकी है। प्राधिकरण ने इसके लिए 200 एकड़ जमीन सेक्टर-23डी में चिन्हित कर ली गई है। यह सेक्टर एयरपोर्ट के पास स्थित है। प्राधिकरण अधिकारियों का कहना है कि संस्था द्वारा जमीन के लिए आवेदन करने पर आगे की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

यह भी पढ़ें…

CP Laxmi Singh In Matrishakti Summit: नोएडा में मातृशक्ति ने दिखाई ताकत, एक हजार महिलाओं की प्रतिभागिता

कोयम्बटूर में आदियोगी की 112 फीट की मूर्ति है स्थापित

बता दें कि तमिलनाडु के कोयम्बटूर स्थित ईशा योग परिसर में आदियोगी शिव की सबसे ऊंची 112 फीट की मूर्ति स्थापित है। यह संगठन योग, पर्यावरण संरक्षण और सामाजिक कार्य के क्षेत्र में सक्रिय है। जग्गी वासुदेव का युवाओं के बीच अच्छा खासा क्रेज है। यीडा सिटी में योग व आध्यात्मिक केंद्र खोलने के लिए कई संस्थाओं ने जमीन देने की मांंग की है। इसकी जरूरत को महसूस करते हुए इससे संबंधित स्कीम लॉन्च की जा सकती है। इससे योग, पर्यावरण संरक्षण और आध्यात्मिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.