February 6, 2023, 2:50 am

Agra Dog shot: भौंक-भौंककर बच्चे की मौत, गांव के लोगों ने कुत्ते को मारी गोली, डेढ़ महीने पहले मासूम को काटा था

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday December 15, 2022

Agra Dog shot: भौंक-भौंककर बच्चे की मौत, गांव के लोगों ने कुत्ते को मारी गोली, डेढ़ महीने पहले मासूम को काटा था

Agra Dog shot: आगरा में 8 साल के नैतिक की जिस कुत्ते के काटने से मौत हुई थी, उस कुत्ते को गांव वालों ने मार दिया है. बच्चे की रैबीज से मौत होने के चलते गांव में कुत्ते को लेकर दहशत का माहौल था, बच्चे की मौत के अगले दिन उस कुत्ते ने दो और बच्चों को काट लिया था. जिससे लोगों में गुस्सा भी था.

गुस्साए गांव के लोगों ने उस कुत्ते को घेर लिया. खेत में कुत्ते को गोली मार दी गई. बाद में उसे दफन कर दिया गया. नैतिक को डेढ़ महीने पहले इसी कुत्ते ने काटा था, उसको रैबीज हो गया था. नैतिक में कुत्ते की तरह हरकते करने के लक्षण शुरू हुए, परिवार के समझ पाने से पहले ही कुत्ते की तरह आवाज निकालते हुए बच्चे ने दम तोड़ दिया.

नैतिक को कुत्ते ने काटा था

रुदमुली गांव के अरविंद भदौरिया के 8 साल के बेटे नैतिक को कुत्ते के काटने के बाद रैबीज हो गया था, जिसके कुछ ही बाद उसकी मौत हो गई. जिसके बाद से परिवार सदमे में है. माता-पिता का रो-रो कर बुरा हाल है. दो दिन से माता-पिता ने बेटे की याद में कुछ खाया तक नहीं है. मां अपने बेटे की तस्वीर को देखकर रो रही है. पिता का कहना है कि काश, बेटे ने एक बार बताया होता कि कुत्ते ने काटा है तो शायद ये सब नहीं होता.

वहीं, अरविंद भदौरिया को सांत्वना देने के लिए गांव वालों की भीड़ लगी थी. इसी बीच गांव वालों को पता चला कि उस कुत्ते ने थोड़ी देर पहले गांव के दो और बच्चों को काट लिया है. इस खबर के बाद लोगों में गुस्सा और बढ़ गया. सबने मिलकर पागल कुत्ते को गांव से बाहर खदेड़ने का सोच लिया. सब लोग कुत्ते की तलाश करने लगे. उसी समय वो कुत्ता दिखाई दिया. उसके पीछे गांव के वाल्मीकि समाज के लोग डंडा लेकर दौड़ रहे थे. उन लोगों ने बताया कि वो कुत्ता उनके जानवरों को काट आया है. ऐसे में वो उसको मार रहे थे. लेकिन कुत्ता भाग गया. अब सभी लोग कुत्ते की तलाश में जुट गए. कुत्ता गांव के बाहर खेत में मिला.

पहले पत्थर-डंडे मारे, फिर गोली मार दी

गांव के लोगों ने उसे घेर लिया. कुत्ते पर पत्थर- लाठी डंडे बरसाए. ऐसे में कुत्ता हमलावर हो गया. कुत्ते के काटने के चलते डर के कारण लोग पीछे हट गए. कुत्ता एक करब में घुस गया. काफी देर तक उसमें दुबका रहा. जब बहुत देर तक वो बाहर नहीं निकला तो डंडे मारकर उसे बाहर निकाला गया. बाद में ग्रामीणों ने सहमति कर कुत्ते को जान से मारने का निर्णय लिया. खेत में कुत्ते को गोली मार दी. फिर उसे गांव के बाहर ले जाकर दफना दिया गया.

ये भी पढ़ें-

Noida suicide: नोएडा की इस सोसाइटी में महिला ने किया सुसाइड, उस वक्त पति गया था जिम

कुत्ते के बच्चों का भी मार चुका था

गांव वालों ने बताया कि कुत्ता पागल हो गया था. पिछले दो माह से वो बहुत हिंसक हो गया था. कुत्ते के छोटे बच्चों को वो मारकर खा गया था. उसने एक दिन पहले गांव के एक पालतू कुत्ते को भी काट खाया था. बताया गया है कि उस कुत्ते की हालत भी खराब हो गई है.

स्कूल जाते हुए डॉगी ने काटा था

आगरा के बाह तहसील के रुदमुली गांव के अरविंद भदौरिया का 8 साल का बेटा नैतिक अच्छेलाल पब्लिक स्कूल की चौथी क्लास में पढ़ता था. पड़ोसियों के मुताबिक, करीब डेढ़ महीने पहले स्कूल जाते हुए उसको कुत्ते ने काट लिया था. चोट ज्यादा नहीं आई थी. इसलिए बच्चे ने घर में कुत्ते काटने के बारे में किसी को कुछ नहीं बताया. पिता अरविंद के मुताबिक, 7 दिन पहले अचानक उनके बेटे की हरकतें कुछ अजीब हो गईं. वो बात-बात पर जीभ निकालने लगता था. फिर अजीब हरकतें करने लगता था. शरीर को अजीब तरीके से मोड़कर बैठने लगा. शुरू में उन्हें लगा कि ये उसकी शरारत है. तबीयत ज्यादा बिगड़ने पर जब उसे आगरा के SN मेडिकल कॉलेज ले गए, तो पता चला की उसे रैबीज हो गया है. 2 दिन इलाज के बाद उसने दम तोड़ दिया.

परिजनों ने नैतिक का अंतिम संस्कार कर दिया है. पिता अरविंद का कहना है कि गांव के आस-पास आवारा कुत्ते बहुत हैं, वो बच्चों के ऊपर झपटते हैं. प्रधान से कहा है कि वो सरकारी मदद लेकर कुत्तों को पकड़वा कर गांव से दूर छुड़वाएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.