June 15, 2024, 7:09 pm

Flood In Noida: पहाड़ का ‘आफत’ नोएडा पहुंचा, कई इलाकों में बढ़ी परेशानी। अलर्ट पर एडमिनिस्ट्रेशन

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday July 13, 2023

Flood In Noida: पहाड़ का ‘आफत’ नोएडा पहुंचा, कई इलाकों में बढ़ी परेशानी। अलर्ट पर एडमिनिस्ट्रेशन

Flood In Noida: हथिनीकुंड बैराज से पानी छोड़े जाने के बाद एक बार फिर दिल्ली समेत नोएडा में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. पहाड़ी क्षेत्रों में लगातार बारिश का पानी नदियों में बहकर नीचे आने से नोएडा (Noida Flood) में भी बाढ़ आ गई है.नोएडा के सेक्‍टर-124, 125, 135 के खादर क्षेत्र में यमुना नदी का पानी घरों और खेतों को डुबो चुका है। यही हालात सेक्‍टर- 137 की है जहां सड़कों पर लगभग डेढ़ फुट पानी भरा हुआ है। बाढ़ की वजह से आम जनता परेशान है। प्रशासन पानी में फंसे लोगों को बाहर निकाल रहा है और उन्‍हें खाना और पानी पहुंचा रहा है।

पारस टियरा सोसाइटी के बाहर बाढ़!

नोएडा के सेक्टर 137 में भी यमुना नदी का पानी (Flood In Noida) पहुंच गया है. यहां के पारस टिएरा (Paras Tierea) सोसाइटी के अंदर और बाहर इस कदर पानी इकट्ठा हो गया जैसे ये सोसायटी नहीं कोई तालाब हो। बारिश की वजह से सोसायटी के गेट नंबर 1 पर 2 से 2.5 फीट तक पानी भर गया है। जिससे सोसायटी में रहने वाले लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एंट्री- एग्जिट गेट से ना तो कोई अंदर आ पा रहा है ना ही बाहर जा पा रहा है। जिसे देखते हुए गेट नंबर 3 को फिलहाल इमरजेंसी के लिए खोल दिया गया है। आपको बता दें..सोसायटी के बेसमेंट में भी पानी भर गया है जिसने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। सोसायटी के बाहर की सड़क भी बारिश में डूब गई है। आपको बता दें पारस टिएरिया अपार्टमेंट में 32 टावर हैं जिनके अंदर 3,954 फ्लैट्स में करीब 15 हजार लोग रहते हैं। सोसायटी के अंदर और बाहर पानी भर जाने से लोगों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में शिवानी शर्मा ने एक ट्वीट करते हुए बताया कि किस तरह सेक्टर 137 के रोड पर पानी जमा है.

 

लोगों में नाराजगी

सेक्‍टर 125 में लोग जिला प्रशासन से खासे नाराज हैं। यहां का खादर क्षेत्र वह इलाका है जहां दूसरे प्रदेशों से लोग आकर मेहनत-मजदूरी करते हैं। ये लोग खेतों में और घरों में पानी भरे होने से बेहद परेशान हैं। बारिश और उमस भी धूप में खुले में रहने को मजबूर हैं। इनका कहना है कि प्रशासन इनके पास खाना-पानी नहीं पहुंचा रहा है। मासूम बच्‍चे पानी के ब‍िना बेहाल हैं। सेक्टर-125 से सेक्टर-135 के खादर क्षेत्र में यमुना नदी का पानी भरा होने की वजह से किसानों की लाखों रुपए की बाजरा और धान की फसलें पानी में डूब गई हैं। इससे पहले बुधवार को भी नोएडा के सेक्टर-168 स्थित गोशाला में यमुना नदी का पानी भारी मात्रा में पहुंच गया था। फायर डिपार्टमेंट ने 100 से अधिक गायों और दूसरे जानवरों को यहां से रेस्‍क्‍यू किया था।

ट्रैफिक एडवायजरी जारी

लगातार बारिश होने से यमुना का जल स्तर बढने के कारण खाख ट्रैफिक एडवायजरी भी जारी किया गया है.

  1.  ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे, यमुना एक्सप्रेस-वे से आकर नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे से कालिन्दी कुंज बॉर्डर/डीएनडी बॉर्डर होकर जाने वाला यातायात चिल्ला रेड लाईट से दिल्ली में प्रवेश कर गन्तव्य की ओर जा सकेगा।
  2.  यमुना एक्सप्रेस-वे से आकर नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे से कालिन्दी कुंज/डीएनडी बॉर्डर होकर दिल्ली जाने वाला यातायात परीचौक से कस्बा कासना होकर ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे से गन्तव्य की ओर जा सकेगा।
  3. ग्रेटर नोएडा की ओर से आकर नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे होकर दिल्ली/गाजियाबाद की ओर जाने वाला यातायात परीचौक से सूरजपुर, बिसरख, किसान चौक होकर गन्तव्य की ओर जा सकेगा।
  4.  ग्रेटर नोएडा की ओर से आकर नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे होकर दिल्ली/गाजियाबाद की ओर जाने वाला यातायात सैक्टर 18 से एलीवेटेड मार्ग होकर गन्तव्य की ओर जा सकेगा।
  5.  आवश्यक वस्तु सेवा/आकस्मिक वाहनों को आवश्यकतानुसार गन्तव्य की ओर भेजा जायेगा।
  6. वाहन चालक कालिन्दी कुंज, डीएनडी मार्ग पर आवागमन से बचे। अत्यधिक आवश्यकता होने पर ही चिल्ला बॉर्डर एवं अन्य वैकल्पिक मार्गाें का प्रयोग कर ही गन्तव्य की ओर जाये।
  7. यातायात असुविधा उत्पन्न होने पर यातायात हेल्प लाइन नम्बर 9971009001 पर सम्पर्क कर सकते है। कृपया असुविधा से बचने हेतु वैकल्पिक मार्गाें का प्रयोग करे।

यह भी पढें:-

FIR Against Builder: अब इस नामी बिल्डर के खिलाफ दी गई तहरीर, निर्माण में लापरवाही बरती

Leave a Reply

Your email address will not be published.