May 19, 2024, 2:25 pm

BJP MLC Dinesh kumar goyal case: मोबाइल पिक करते ही फंस गए बीजेपी MLC.. लड़की ने न्यूड वीडियो कॉल से फंसाया.. Sextortion के हुए शिकार.. अब केस दर्ज

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday September 14, 2023

BJP MLC Dinesh kumar goyal case: मोबाइल पिक करते ही फंस गए बीजेपी MLC.. लड़की ने न्यूड वीडियो कॉल से फंसाया..  Sextortion के हुए शिकार.. अब केस दर्ज

BJP MLC Dinesh kumar goyal case:भाजपा के एमएलसी दिनेश कुमार गोयल (BJP MLC Dinesh Kumar Goyal) को अश्लील वीडियो कॉल करके ब्लैकमेलिंग का प्रयास किया गया. उन्हें रविवार को एक अनजान नंबर से अश्लील वीडियो कॉल आई. जिसके बाद सोमवार को गैंग के एक सदस्य ने खुद को साइबर सेल से बताते हुए अश्लीलता की शिकायत मिलने की बात कही. घटना के संबंध में एमएलसी दिनेश कुमार गोयल ने केस दर्ज कराया है.

क्या है पूरा मामला ?

यूपी विधान परिषद के सदस्य दिनेश गोयल को सेक्सटॉर्शन में फंसाने की कोशिश का मामला सामने आया है. उन्होंने इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया है. एमएलसी दिनेश गोयल ने शिकायत में बताया कि उन्हें अंजान नंबर से मोबाइल पर वीडियो कॉल आई. उस समय वह पत्नी के साथ बैठे थे. कॉल ऑन करने पर लड़की अश्लील हरकत करते दिखाई दी. वह समझ नहीं पाए कि मामला क्या है. इसलिए उन्होंने तुरंत फोन बंद कर दिया. दूसरे दिन 11 सितंबर को दोबारा दूसरे मोबाइल नंबर से कॉल आई. फोन करने वाले ने अपना नाम ऋषिपाल शुक्ला बताया. उसने खुद को द्वारिका सेक्टर-16 साइबर थाने में तैनात बताया. फोन करने वाले शख्स ने कहा कि आपके खिलाफ लड़की ने छेड़छाड़ की शिकायत की है.

वीडियो कॉल रिसीव करते ही लड़की ने की अश्लील हरकत

छेड़छाड़ की बात सुनकर एमएलसी के पैरों तले जमीन खिसक गई. दिनेश गोयल ने फोन करने वाले शख्स के आरोप को झूठा बताते हुए थाने में शिकायत की. पुलिस ने एमएलसी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर जांच साइबर सेल को सौंप दिया है. साइबर सेल मामले की जांच में जुट गई है. पता लगाया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस की तरफ से आया फोन असली है या ब्लैकमेल करने वाले गैंग के सदस्य की तरफ से कॉल किया गया था.

ये भी पढ़ें-

accident news: सोसाइटी में बड़ा हादसा.. कार सवार ने मासूम को रौंदा.. खूब हुआ हंगामा

सेक्सटॉर्शन मामले की जांच में जुटी पुलिस

सेक्सटॉर्शन के जरिए ठगी करनेवाली गैंग कई लोगों को शिकार बनाती है. दिनेश गोयल का मामला राजनीति से जुड़ा होने के कारण हाईप्रोफाइल हो गया है. उन्होंने पुलिस को दोनों नंबरों का हवाला देते हुए शिकायत की है. बता दें कि, साइबर अपराधी अश्लील कॉल के जरिए लोगों को फंसाकर ठगी का शिकार बनाते हैं. जुलाई के महीने में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल को भी सेक्सटॉर्शन में फंसाने की कोशिश की गई थी.

क्या होता है सेक्सटॉर्शन

आजकल साइबर ठग लोगों से सेक्सुअल ब्लैकमेलिंग यानी सेक्सटॉर्शन से वसूली कर रहे हैं. वेबकैम, मोबाइल या वीडियो कॉल के जरिए किसी की सेक्स गतिविधियों या न्यूड तस्वीरों को रिकॉर्ड करके उसके जरिए ब्लैकमेल करने को सेक्सटॉर्शन कहते हैं. अब भारत में भी इसके मामले बढ़ रहे हैं. स्कूल और कॉलेज में पढ़ने वाले युवा, बिजनेसमैन, पॉलिटिक्स से जुड़े लोगों को आमतौर पर इस रैकेट का शिकार बनाया जाता है.

कैसे बना सेक्सटॉर्शन शब्द

सेक्सटॉर्शन वर्चुअल सेक्स और फिर होने वाली उगाही से मिलकर बना है. इसमें साइबर ठग फेक आईडी बनाकर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते हैं. फेंडली माहौल बनाने के बाद अश्लील बातें की जाती हैं. कुछ देर या दिन बाद यह बातें वीडियो कॉल शुरू हो जाती हैं. फिर इन्ही रिकॉर्डेड विडियो के जरिए ब्लैकमेलिंग की जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.