July 18, 2024, 7:53 pm

2000 Note Ban: सेंट्रल नोएडा में बदले गए इतने नोट, बदलने का लक्ष्य पूरा, जानें क्या है आखिरी तारीख

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday September 25, 2023

2000 Note Ban: सेंट्रल नोएडा में बदले गए इतने नोट, बदलने का लक्ष्य पूरा, जानें क्या है आखिरी तारीख

2000 Note Exchange: जैसा की आपको पता ही होगा की आने वाले समय में 2000 के नोट नहीं चलेगें. जिस को लेकर सरकार ने तैयारी पूरी कर ली है. और जनता को पहले से ही अलटीमेटम दे दिया था. अब वो समय आ ही गया है. जब आपकी जेब में 2000 का नोट(2000 Note Ban)नहीं दिखेगा. जिले में 35 बैंकों की 570 शाखाएं संचालित हो रही हैं। वहीं, एटीएम की संख्या 820 हैं. 23 मई से दो हजार के नोट बदलने की घोषणा के बाद लीड बैंक ने 37.5 लाख नोट बदलने का लक्ष्य रखा गया था. इसे पूरा कर लिया गया है.

दो हजार के नोट (2000 Note Ban) बदलने की अंतिम तिथि से पांच दिन पहले ही जिले के बैंकों ने लक्ष्य पूरा कर लिया है. 35 बैंकों की 570 शाखाओं में 37.5 लाख नोट यानी 750 करोड़ रुपये जमा हो गए हैं. बैंक अधिकारियों के अनुसार सबसे अधिक नोट सितंबर माह में बैंकों में पहुंचे हैं. इससे पहले शुरुआती माह में इतना आंकड़ा रहा था. वहीं, नोट जमा कराने में सेट्रल नोएडा अव्वल रहा. इसके अलावा लोगों ने इन नोटों को जमा कराकर इनकी निकासी ऑनलाइन की है. 750 करोड़ में से जिले के लोगों ने केवल 250 करोड़ ही बदलवाएं हैं, बाकी 500 करोड़ अपने खातों में जमा कराए.

अहम है कि जिले में 35 बैंकों की 570 शाखाएं संचालित हो रही हैं। वहीं, एटीएम की संख्या 820 हैं। 23 मई से दो हजार के नोट बदलने की घोषणा के बाद लीड बैंक ने 37.5 लाख नोट बदलने का लक्ष्य रखा गया था। इसे पूरा कर लिया गया है। जिला लीड बैंक मैनेजर विदुर भल्ला बताते हैं कि समय से पहले ही लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। हालांकि नोटबंदी वाले हालात नहीं रहे हैं। बहुत आसानी से सभी नोट बदले गए हैं। इसके लिए 23 मई से ही 600 अतिरिक्त कर्मचारी शाखाओं पर तैनात किए गए थे।

उस वक्त औसतन 12 से 15 करोड़ तक एक दिन में बैंकों में पहुंचे थे वहीं, सितंबर में एक दिन में औसतन 18 से 20 करोड़ तक जमा हुए हैं। जुलाई व अगस्त माह में बाढ़ की वजह से बैंकों में नोट ज्यादा संख्या में जमा नहीं हो पाए थे। लीड बैंक अधिकारियों की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में भी अच्छा खासा पैसा जमा हुआ है। वहीं लोगों ने पैसा जमा कराने और निकालने के लिए एटीएम की सुविधा का ज्यदा इस्तेमाल किया है। इसका कारण फॉर्म के झंझटों से बचने के लिए लोगों ने ऐसा किया है।
सेंट्रल नोएडा में बदले गए इतने नोट
अधिकारियों के अनुसार सेंट्रल नोएडा से 282 करोड़ व ग्रामीण इलाकों से 100 करोड़ रुपये बदले गए हैं। साथ ही सेंट्रल नोएडा ने दिए हुए लक्ष्य को सबसे पहले पूरा भी किया है। 15 सितंबर तक ही यहां पूरे लक्ष्य की प्राप्ति कर ली गई थी।
इस दौरान बढ़ा ऑनलाइन ट्रांजेक्शन
इस दौरान ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का ग्राफ भी बढ़ा है। विदुर भल्ला बताते हैं कि जहां पहले आमतौर पर जिले में 144 करोड़ तक ऑनलाइन ट्रांजेक्शन किया जाता था वहीं, इस अवधि के दौरान 175 करोड़ तक भी पहुंचा है। इससे डिजिटल प्लेटफॉर्म को भी काफी बढ़ावा मिला है।
एटीएम से ट्रांजेक्शन पर जताया भरोसा
जिले के लोगों ने पैसे जमा करने और निकालने के लिए एटीएम का सहारा लेने में सहूलियत समझी है। एटीएम से 400 करोड़ रुपये की लेनदेन की गई है। बाकी के 350 करोड़ लोगों ने बैंकों में जाकर बदले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.