November 29, 2022, 7:43 am

Monkeys terror in Ghaziabad: नहीं थम रहा बंदरों का आतंक, अब तक 75 बच्चों को काटकर किया घायल

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday November 9, 2022

Monkeys terror in Ghaziabad: नहीं थम रहा बंदरों का आतंक, अब तक 75 बच्चों को काटकर किया घायल

Monkeys terror in Ghaziabad: गाजियाबाद में बंदरों के आतंक से सभी परेशान है. लोग घरों से बाहर आने में भी डर रहे है. पार्कों में खेलने वाले बच्चे और टहलने के लिए आने वाले लोगों को इन बंदरों से काफी परेशानी हो रही है. बंदर कभी भी लोगों पर हमला कर देते है. पार्कों में खेलने वाले कई बच्चों को बंदरों ने काटकर जख्मी भी कर दिया है. बच्चे और बुजुर्गों ने पार्कों में जाना छोड़ दिया है.

क्या है मामला ?

गाजियाबाद में बंदरों का आतंक (Monkeys terror in Ghaziabad) बना हुआ है. बंदर झुंड बनाकर घूमते रहते हैं. नगर निगम के शहर में छोटे और बड़े 1250 पार्क हैं. ज्यादातर पार्क कॉलोनियों के अंदर हैं. उनमें सुबह और शाम चहल पहल रहती है. पार्कों में बच्चे खेलते हैं तो बुजुर्ग और महिलाएं बड़ी संख्या में टहलने आती हैं. लेकिन पार्कों में बंदरों (Monkeys) का कब्जा होने से लोगों डरे हुए है. पार्क में खेलते हुए बच्चों पर बंदर हमला कर रहे हैं. बंदर महिलाओं और बुजुर्गों के पीछे दौड़ पड़ते हैं. नगर निगम की ओर से बंदरों को पकड़ने के लिए कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है.

https://gulynews.com/ को मिली जानकारी के अनुसार  पिछले दो महीने में 75 बच्चों को बंदरों ने काटकर घायल किया. वह अस्पतालों में एंटी रैबीज का इंजेक्शन लगवाने पहुंचे. इसी तरह बुजुर्गों को काटकर घायल कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें-:

Delhi crime: ऑनलाइन शादी का झांसा देकर लड़कियों से करता था रेप और ठगी, अपने आप को बताता था इस कंपनी का HR

बता दें कि, बंदरों के काटने से रैबीज की बीमारी होती है. घाव के पास तेज खुजली और जलन होने लगती है. इसके लिए समय पर एंटी रैबीज इंजेक्शन लगवाना बहुत जरूरी है. इंजेक्शन नहीं लगवाने से पीड़ित दिमागी रूप से बीमार पड़ जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.