December 8, 2022, 3:51 pm

छोटी बचत योजनाओं पर बढ़ सकती है ब्याज दर, PPF, NSC, सुकन्या समृद्धि के लिए अच्छी खबर

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday May 31, 2022

छोटी बचत योजनाओं पर बढ़ सकती है ब्याज दर, PPF, NSC, सुकन्या समृद्धि के लिए अच्छी खबर

Interest rate may increase on small savings schemes: पोस्ट ऑफिस (post office) की छोटी बचत योजनाओं में निवेशकों की दिलचस्पी लंबे अरसे से रही है. ये न सिर्फ कम जोखिम वाली निवेश योजनाएं होती हैं बल्कि इन योजनाओं में बैंकों की तुलना में ब्याज भी ज्यादा मिलता है. इसके अलावा इसे सरकार का भी समर्थन हासिल होता है. लेकिन लंबे समय से इन बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बढ़ोतरी नहीं हुई है.

इन योजनाओं के निवेशकों को अगले महीने अच्छी खबर मिल सकती है. जानकारी के अनुसार सरकार इन योजनाओं की ब्याज दरों में बढ़ोतरी पर विचार कर रही है. छोटी बचत योजनाओं में नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एनएससी), सुकन्या समृद्धि योजना, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना, पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (पीपीएफ) जैसी योजनाएं शामिल हैं.

पढ़ें: पीएम मोदी ने क्यों कहा- मेरी मां को अपनी मां का चेहरा तक याद नही है?

केंद्र सरकार हर तीन महीने पर छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों की समीक्षा करती है. काफी समय से इनकी दरों में परिवर्तन नहीं हुआ है. मार्च में हुई समीक्षा में भी दरें अपरिवर्तित रखी गई थी. अब अगली समीक्षा जून में होगी. ऐसे में आप कह सकते हैं कि आगे भी सरकार दरों को स्थिर रख सकती है. लेकिन इसके बढ़ने की संभावना कुछ वजहों से संभव है.

रिजर्व बैंक ने इसी महीने रेपो रेट में अचानक से 40 बेसिस प्वाइंट की वृद्धि की है. महंगाई को नियंत्रित करने के लिए यह कदम उठाया गया है. इस वजह से सभी तरह का कर्ज महंगा हो गया है. दूसरी ओर, निवेशकों को इससे ज्यादा रिटर्न मिलने लगा है. तमाम सरकारी और निजी बैंकों ने फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) और रेकरिंग डिपॉजिट (RD) की ब्याज दरें बढ़ा दी हैं. इससे सरकार पर छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बढ़ोतरी का दबाव बन गया है. सरकार इन योजनाओं में की गई निवेश राशि का इस्तेमाल बुनियादी ढांचा क्षेत्र की विभिन्न योजनाओं में करती है. अगर बैंकों की ब्याज दर छोटी बचत योजनाओं से ज्यादा हो गई तो निवेशक इनसे हाथ खींच कर बैंकों के एफडी और आरडी में निवेश करने लगेंगे. इससे सरकार को पूंजी की कमी हो सकती है. इसलिए भी छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बढ़ोतरी की संभावना बन रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.