February 6, 2023, 4:31 am

Google Layoff: Google ने किया छंटनी का ऐलान, CEO ने बताई वजह

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday January 20, 2023

Google Layoff: Google ने किया छंटनी का ऐलान, CEO ने बताई वजह

Google Layoff: दिग्गज टेक कंपनी गूगल (Google) ने छंटनी  की घोषणा की है. पैरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक (Alphabet Inc) के 12 हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का ऐलान किया गया है. गूगल के अनुसार, छंटनी ग्लोबल लेवल पर की जा रही है. इनमें सबसे अधिक असर अमेरिकी कर्मचारियों पर पड़ेगा. 20 जनवरी को गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक ने ऐलान किया है. यानी कंपनी ग्लोबल वर्कफोर्स के 6% में कटौती कर रही है. गूगल के सीईओ सुदंर पिचाई (Google CEO Sundar Pichai) ने ईमेल के जरिए कहा कि निकाले गए कर्मचारियों के प्रति मेरी सहानुभूति है. इस समय हम जहां है, उसकी मैं पूरी जिम्मेदारी देता हूं. इसके अलावा सुदंर पिचाई ने कंपनी से निकाले गए कर्मचारियों की मदद का भी ऐलान किया है.

बता दें कि, यह खबर कंपनी के समाचार ब्लॉग पर प्रकाशित की गई थी. जिसमें गूगल के सीईओ सुदंर पिचाई (Google CEO Sundar Pichai) ने कहा कि कंपनी ने पिछले दो साल में उल्लेखनीय बढ़ोतरी के दौर में नियुक्तियां की थी, लेकिन आर्थिक रूप से तब की परिस्थितियां आज से अलग थी.

सुंदर पिचई ने ली जिम्मेदारी

मेटा (Facebook)-ट्विटर (Twitter) और अमेजन (Amazon) जैसी कंपनियों ने अपने वर्क फोर्स में भारी कटौती की है. इस लिस्ट में अब गूगल अल्फाबेट का भी नाम जुड़ने वाला है. कर्मचारियों के भेजे ई-मेल में कंपनी के सीईओ सुंदर पिचई ने कहा कि छंटनी से जुड़े फैसलों की वो पूरी पूरी जिम्मेदारी लेते हैं. उन्होंने कहा कि हमारा फोकस बढ़ाने, कॉस्ट बेस में बदलाव करने, टैलेंट और पूंजी को आगे में है.

गूगल अल्फाबेट में छंटनी ग्लोबल लेवल पर होगी. अल्फाबेट ने पहले ही कर्मचारियों को ईमेल कर दिया है, जबकि अन्य देशों में स्थानीय रोजगार कानूनों और नियमों के कारण प्रक्रिया में अधिक समय लगेगा.

सुंदर पिचई ने कही ये बात

पिचई ने कहा- ‘Googlers, मेरे पास शेयर करने के लिए एक मायूस करने वाली खबर है. हमने 12 हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का फैसला किया है. इस संबंध में हमने पहले ही अमेरिका में कर्मचारियों को एक अलग ईमेल भेज दिया है. इसका अर्थ ये है कि कुछ कर्मचारियों को अलविदा कहना होगा, जिन लोगों को नियुक्त करने के लिए हमने कड़ी मेहनत की और जिनके साथ काम करना पसंद किया. मुझे इसके लिए बहुत खेद है. मैं उन फैसलों की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं जो हमें यहां तक ले गए.

Microsoft ने निकाले 10 हजार कर्मचारी

बीते दिनों Microsoft ने ग्लोबल लेवल पर अपने 10,000 कर्मचारियों को बाहर निकाल दिया.  ये आंकड़ा कंपनी की कुल वर्क फोर्स का करीब 5 फीसदी है. माइक्रोसॉफ्ट में करीब 2 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं.

ये भी पढ़ें-

Noida news: नोएडा की इस सोसायटी में बड़ा हादसा, छठी मंजिल से गिरा मासूम, संभलकर रहें

मेटा से लेकर अमेजन तक में छंटनी

फेसबुक की पैरेंट कंपनी Meta ने भी बीते साल मंदी (Recession) का हवाला देते हुए कॉस्ट कटिंग के नाम पर छंटनी की ऐसी तलवार चलाई थी, कि 11,000 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया था. ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) ने साल 2023 कीशुरुआत में ही अपने कर्मचारियों को एक बड़ा झटका देते हुए हजारों की छंटनी (Amazon Layoff) का ऐलान कर दिया.

छंटनी की वजह-
  • टेक कंपनियों ने कोरोना के समय मांग पूरी करने के लिए जमकर भर्तियां की.
  • कोरोना का मुश्किल दौर निकलने के बाद लोगों ने ऑफिस जाकर काम करना शुरू किया, इससे कंपनियों की कमाई घटी और खर्च बढ़ गए.
  • दुनियाभर में महंगाई से लागत में इजाफा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.