February 21, 2024, 5:28 pm

Electricity Issues: नोएडा में 60 हजार से अधिक बिजली के बकायेदार, विद्युत विभाग ने वसूली के लिए अपनाया ये रास्ता….

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday February 5, 2024

Electricity Issues: नोएडा में 60 हजार से अधिक बिजली के बकायेदार, विद्युत विभाग ने वसूली के लिए अपनाया ये रास्ता….

Electricity Issues: नोएडा में विद्युत विभाग कड़ी चेतावनी देने के बाद भी बिजली के बकायेदार बिल का भुगतान नहीं कर रहे है।बिजली बकायदारों की संख्या 60 हजार से अधिक बताई जा रही है। बता दें की नोएडा हाईटेक शहर है और यहां पर 24 घंटे बिजली उपलब्ध रहने का दावा किया जाता है। इस बीच, बिजली विभाग की तरफ से बकायेदारों के खिलाफ बड़ा एक्शन शुरू होने जा रहा है। विद्युत विभाग जिन लोगों का बिजली का बिल बकाया है उनके को कनेक्शन को जल्द ही काटना शुरू करेगा।

क्या है पूरा मामला

नोएडा (Electricity Issues) में बिजली बकायदारों की संख्या 60 हजार के पार हो गई है। विद्युत विभाग के बार बार सूचना देने के बावजूद भी लोग बिल का भुगतान करने में लापरवाही दिखा रहे हैं। ऐसे में बिजली विभाग की तरफ से बकायेदारों के खिलाफ बड़ा एक्शन शुरू होने जा रहा है। सोमवार से बिजली का बकाया नहीं देने वाले लोगों का कनेक्शन काटने की तैयारी कर ली गई है। बकायेदारों की सूची में कुछ उपभोक्ताओं ने कनेक्शन लेने के बाद एक बार भी बिल जमा नहीं किया है। शहर के लोगों पर करीब 200 करोड़ रुपए बिजली का बकाया है। बता दें कि एकमुश्त समाधान योजना में बकायेदारों को सरचार्ज में सौ फीसदी तक छूट दी गई थी। इसके बाद भी काफी लोगों ने योजना का लाभ नहीं उठाया।

सिर्फ 15 हजार उपभोक्ताओं ने जमा किए बिल

बिजली विभाग के अधिकारियों ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले में 3.5 लाख बिजली उपभोक्ता हैं। इनमें से 75 हजार उपभोक्ताओं पर 210 करोड़ रुपये से अधिक का बिल बकाया था। इनमें हर उपभोक्ता का बकाया दस हजार रुपये से अधिक था। तीन फरवरी तक करीब 15 हजार लोगों ने करीब दस करोड़ रुपये जमा करा दिए। बाकी बचे 60 हजार उपभोक्ताओं के खिलाफ सोमवार से अभियान चलाया जाएगा। इन पर करीब 200 करोड़ रुपये का राजस्व बकाया है।

यह भी पढ़ें…

Flat Issues In Supertech: नॉर्थ आई में फ्लैट के नाम पर ठगी.. पुलिस ने दर्ज किया केस.. सुपरटेक के दलालों से बचकर रहना!

काटा जाएगा कनेक्शन

अधिकारियों ने बताया कि विद्युत निगम के बकायेदारों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। इसके तहत बकाया नहीं देने वाले लोगों का कनेक्शन काटा जाएगा। यह अभियान 15 फरवरी तक जारी रहेगा। जेई और एसडीओ को बकायेदारों के खिलाफ कार्रवाई का लक्ष्य दिया जाएगा। जिस एसडीओ और जेई के क्षेत्र में लाइन लॉस ज्यादा होगा, उसके खिलाफ अब कार्रवाई की जाएगी।

इससे पहले भी बिजली विभाग दे चुका है चेतावनी

पिछले दिनों विद्युत निगम व मीटर रीडरों के द्वारा एक दूसरे पर अवैध वसूली के लगाए गए आरोपों के बाद निगम ने एजेंसी के साथ साझा अभियान चलाकर मीटरों की जांच पड़ताल शुरू की है। पहले दो दिनों की जांच में चौकाने वाले खुलासे हुए थे। जिसमें करीब 40 से अधिक मीटरों में स्टोर रीडिंग मिली थी। अभियान के तहत रबूपुरा क्षेत्र में मीटरों की रीडिंग की छानबीन की गई। जिसमें करीब 40 मीटरों में स्टोर रीडिंग मिली थी। इसमें मीटर रीडरों की मिलीभगत की संभावना जताई जा रही है। वहीं सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हो रहा था। इसमें एक व्यक्ति मशीन से मीटर की डिस्पले को खराब कर रहा है। विद्युत निगम के अभियंताओं के साथ बिलिंग एजेंसी के सुपरवाइजर के साथ चलाए गए साझा अभियान में ये बातें सामने आई थीं।

निगम अभियंताओं ने बताया कि रबूपुरा क्षेत्र के मेहंदीपुर गांव के निवासी फरियाद के बिजली मीटर में साढ़े छह हजार रीडिंग स्टोर मिली थी। इसी तरह मीरा देवी के मीटर में करीब 1200 रीडिंग स्टोर मिली है। फूल खां के मीटर में 4800 यूनिट स्टोर मिली थी। जुबैदा और नूर जहां के बिजली मीटर में 1500-1500 रीडिंग स्टोर मिली है। इसी तरह 40 से अधिक उपभोक्ताओं के मीटरों में स्टोर रीडिंग मिली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.