February 21, 2024, 5:46 pm

UP News: गौहत्या के आरोप में बजरंग दल के नेता समेत 6 लोग हुए गिरफ्तार, ऐसे हुआ खुलासा

Written By: गली न्यूज

Published On: Saturday February 3, 2024

UP News: गौहत्या के आरोप में बजरंग दल के नेता समेत 6 लोग हुए गिरफ्तार, ऐसे हुआ खुलासा

UP News: यूपी के मुरादाबाद में गो रक्षा के नाम पर राजनीति करने और गो पालक होने दावा करने वाले ही गो हत्या और गो तस्करी जैसे धंधों में शामिल पाए गए। मुरादाबाद पुलिस ने गो हत्या के आरोप में बजरंग दल नेता मोनू विश्नोई सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है की आरोपी अनैतिक कार्य कराने के लिए पुलिस पर दबाव बनाते थे। छजलैट थाना क्षेत्र की घटना है।

क्या है पूरा मामला

खबर के अनुसार यूपी (UP News) के मुरादाबाद में बजरंगदल का नेता जिलाप्रमुख सुमित उर्फ मोनू विश्नोई जो खुद को गो रक्षक बताता था वह ही गोकशी का मुख्य आरोपी निकला है। पुलिस के मुताबिक 16 जनवरी को थाना छजलैट इलाके के कावण पथ पर गो वंश के कुछ अवशेष मिले थे। जबकि दूसरी घटना भी थाना छाजलेट के ग्राम चेतराम में 28 जनवरी को हुई जहां गो हत्या के बाद गो मांस पड़ा हुआ मिला था।

पुलिस को दोनो ही घटनाओं की सूचना बजरंगदल संगठन के कार्यकर्ता द्वारा दी गई थी। जिसके बाद गोहत्या का खुलासा न होने और आरोपियों से मिलीभगत का आरोप लगाते हुए बजरंगदल कार्यकर्ताओं ने मोनू विश्नोई नाम के युवक जिसे बजरंगदल जिला प्रमुख बताया जा रहा है उसके नेतृत्व में थाने के बाहर धरना प्रदर्शन किया गया। हिंदू संगठन के प्रदर्शन के बाद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच शुरू की।

एसएसपी मुरादाबाद ने मामले के खुलासे के लिए पुलिस टीम का गठन किया। जांच में दोनो घटनाएं संदिग्ध पाई गई। जिसके बाद पुलिस ने “ऑपरेशन पॉसिबल” चलाया, जिसके तहत पुलिस ने दोनो ही घटनाओं की बारीकी से जांच की। पुलिस को सूचना देने वाले व्यक्ति से गहराई से पूछताछ की गई और घटनास्थल पर मिले कपड़े, पर्स और मोबाइल नंबर को सर्विलांस की मदद से ट्रेस किया गया। इससे मामले का खुलासा परत दर परत होता गया।

यह भी पढ़ें…

Animal Cruelty Video: इस सोसाइटी में एक बच्चे ने कुत्ते के बच्चे को बिल्डिंग से फेंका, दर्दनाक मौत…सामने आया वीडियो

दूसरी घटना के बारे में पुलिस ने बताया की 28 जनवरी को पुलिस को गोहत्या की जानकारी मिली थी। जांच के दौरान घटनास्थल पर पुलिस को एक पर्स और एक पैंट बरामद हुई। इस दौरान एक मोबाइल नंबर भी सामने आया। पुलिस ने नंबर के बारे में पता किया तो ये महमूद नाम के एक शख्स का निकला। पुलिस ने महमूद से बात की तो उसने बताया कि शहाबुद्दीन और जमशेद नाम के दो व्यक्ति अपने एक भाई की मौत के पीछे उसे और उसके परिवार को जिम्मेदार मानते हैं। यहां से जांच के तार शहाबुद्दीन तक पहुंचे और मामले का खुलासा हुआ। जिसमे मुख्य आरोपी मोनू विश्नोई समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.