February 6, 2023, 6:03 am

Lucknow News: निजी स्कूल में दो बहनों के पढ़ने पर एक की फीस भरेगी यूपी सरकार, जानिए कब से?

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday January 26, 2023

Lucknow News: निजी स्कूल में दो बहनों के पढ़ने पर एक की फीस भरेगी यूपी सरकार, जानिए कब से?

Lucknow News: योगी सरकार एक और बड़ी योजना शुरू करने जा रही है. यहां निजी स्कूलों में दो बहनों के पढ़ने पर एक की फीस राज्य सरकार भरेगी. इसके लिए अगले वित्त वर्ष (financial year) के बजट में प्रावधान किया जा रहा है. इससे प्राथमिक, उच्च प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में पढ़ने वाली लाखों स्टूडेंट को लाभ मिलेगा. शासन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) की इस घोषणा को लागू करने की तैयारी कर ली है

बता दें कि, कुछ समय पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अगर किसी स्कूल में दो सगी बहनें पढ़ती हैं, तो एक की फीस माफ करने के लिए उस स्कूल के प्रबंधन से अनुरोध किया जाए. अगर प्रबंधन के स्तर से ऐसा नहीं हो पाता है तो उनमें से एक बहन की फीस की भरपाई राज्य सरकार करेगी.

अब इस प्रस्ताव को अगले साल के बजट में शामिल करने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग ने प्रस्ताव भेज दिया है. जानकारी के अनुसार, इसके लिए एक करोड़ रुपये के टोकन राशि की व्यवस्था की जाएगी. जैसे-जैसे मांग बढ़ेगी, वैसे-वैसे और राशि विभाग को दी जाएगी. टोकन राशि दिए जाने से वित्तीय नियमों के मद्देनजर मद (हेड) खुल जाएगा. इससे जरूरत के अनुसार बजट आवंटन में कोई दिक्कत नहीं आएगी.

ये भी पढ़ें-

Padma Awards: पद्म पुरस्कारों का ऐलान, मुलायम सिंह यादव समेत 6 लोगों को मिलेगा पद्म विभूषण, देखें पूरी लिस्ट

PWD के बजट में भी बढ़ोतरी की संभावनाएं-

2024 लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश सरकार सड़कों के लिए बजट में भी बढ़ोतरी कर रही है. अभी तक फोकस चालू कार्यों को पूरा करने पर था, लेकिन अगले वित्त वर्ष में नए कामों (शेड्यूल ऑफ न्यू डिमांड्स) के लिए भी पर्याप्त राशि का भुगतान होगा. इसमें ग्रामीण इलाकों की सड़कों को न्यूनतम 5 मीटर चौड़ी करने के लिए ठीकठाक पैसों की व्यवस्था होगी.

वहीं, प्रमुख जिलास्तरीय सड़कों और राज्य राजमार्गों को भी न्यूनतम 7 मीटर तक चौड़ी करने की योजना बनाई जा रही है. इसके अलावा सिंचाई विभाग और नगर विकास विभाग के लिए भी कई नई योजनाओं के लिए पैसा दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.