May 29, 2024, 6:26 pm

Kota News: कोटा की ‘मौत वाली रस्सी’! 2 और स्टूडेंट ने दी जान.. DM ने टेस्ट पर लगाई रोक

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday August 28, 2023

Kota News: कोटा की ‘मौत वाली रस्सी’! 2 और स्टूडेंट ने दी जान.. DM ने टेस्ट पर लगाई रोक

Kota News: कोटा में स्टूडेंट्स के सुसाइड का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं रहा है. पढ़ाई के प्रेशर में स्टूडेंट्स यहां लगातार जान दे रहे हैं. रविवार को भी दो स्टूडेंट्स ने टेस्ट सीरीज में कम नंबर आने से तंग आकर सुसाइड कर (students committed suicide in Kota) लिया. घटना के बाद कोटा जिला कलेक्टर ने कोटा के सभी कोचिंग इंस्टिट्यूट में स्टूडेंट्स के समय-समय पर लिए जाने वाले टेस्ट और आगे होने वाले टेस्ट पर अगले दो महीने तक रोक लगा दी है. बच्चों के मानसिक सम्मेलन और सुरक्षा की व्यवस्था के तहत यह फैसला लिया गया है.

पहला सुसाइड केस 

रविवार दोपहर को करीब तीन बजे महाराष्ट्र के रहने वाले आविष्कार संभाजी कासले (16) ने अपने कोटा में कोचिंग इंस्टीट्यूट की छठी मंजिल से कूदकर सुसाइड कर लिया. स्टूडेंट कोटा के तलवंडी इलाके में तीन साल से रह रहा था. वह यहां NEET की तैयारी कर रहा था. वह रविवार को कोचिंग इंस्टीट्यूट में टेस्ट देने के लिए आया था.

दूसरा सुसाइड केस

इसके बाद रात सात बजे कुन्हाड़ी के लैंडमार्क एरिया में रहने वाला आदर्श (18) अपने कमरे में फंदे से लटका मिला. आदर्श बिहार के रोहतास जिले का रहने वाला था. स्टूडेंट नीट की तैयारी के लिए चार महीने पहले ही कोटा आया था. यहां लैंडमार्क एरिया में भाई-बहन के साथ फ्लैट लेकर रह रहा था. जानकारी के अनुसार,  फ्लैट में अलग-अलग तीन कमरे हैं. रविवार को टेस्ट देकर आने के बाद आदर्श अपने कमरे में चला गया था. सात बजे उसकी बहन ने उसे खाना खाने के लिए आवाज लगाई, लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया. इसके बाद उसने कजिन भाई को बुलाया. दोनों ने काफी देर दरवाजा खटखटाया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. इसके बाद दोनों भाई-बहनों ने दरवाजा तोड़ा. फंदे पर आदर्श को लटका देख दूसरे फ्लैट में रह रहे लोगों को जानकारी दी. इसके बाद उसे फंदे से उतारकर अस्पताल लेकर पहुंचे. जहां उसे बचाने के लिए सीपीआर दी गई, लेकिन बचाया नहीं जा सका.

पुलिस ने बताया, शुरुआती जांच में सामने आया है कि आदर्श के कोचिंग संस्थान के टेस्ट में लगातार कम नंबर आ रहे थे. 700 में से वह सिर्फ 250 नंबर तक ही अचीव कर पा रहा था. इसे लेकर वह परेशान था. माना जा रहा है कि इसी के चलते उसने फंदा लगाया. पुलिस ने बताया कि अभी तक कोई सुसाइड नोट नही मिला है. पेरेंट्स के आने के बाद कमरे की तलाशी लेंगे.

ये भी पढ़ें-

Girl Attacked Father in noida: नोएडा में बेटी ने पिता को मारा चाकू, खुद को गैस से जलाने की कोशिश की

 

टेस्ट पर लगाई रोक

कोटा कलेक्टर ने 12 अगस्त को गाइडलाइन जारी कर कोचिंग संचालकों को सख्त हिदायत दी थी कि संडे के दिन कोई टेस्ट नहीं करवाएं जाएं. इसके बावजूद भी टेस्ट को लेकर रविवार के दिन ही दो बच्चों के सुसाइड के मामले सामने आए हैं. घटना के बाद कलेक्टर ने रविवार रात को आदेश जारी किए हैं. इन आदेशों के अनुसार अब कोई भी कोचिंग संस्थान दो महीने तक बच्चों के कोचिंग टेस्ट नहीं लेगा. दो सुसाइड एक दिन में होने और टेस्ट में नंबर कम आने से परेशान होने की बात सामने आने के बाद कलेक्टर ने यह आदेश जारी किए है. दरअसल, ज्यादातर कोचिंग के टेस्ट संडे को होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.