July 18, 2024, 8:28 pm

Noida news: इस सेक्टर में पानी की सप्लाई ठप! लोग टैंकर मंगाकर कर रहे गुजारा

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday September 1, 2023

Noida news: इस सेक्टर में पानी की सप्लाई ठप! लोग टैंकर मंगाकर  कर रहे गुजारा

Noida news: नोएडा शहर में जहां बीते दिन एक तरफ लोग धूमधाम से रक्षाबंधन का त्यौहार मना रहे थे वहीं, दूसरी तरफ सेक्टर-122 में रहने वाले हजारों लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए जूझ रहे थे. यहां के लोगों का कहना है कि हाईराइज सोसाइटी होने के बावजूद यहां पर नोएडा प्राधिकरण की तरफ से कोई सुविधा नहीं दी जा रही है. इसकी शिकायत कई बार अथॉरिटी के अधिकारियों से की गई,  लेकिन वे इसको नजरअंदाज कर रहे हैं.

क्या हुआ रक्षाबंधन के दिन

नोएडा के सेक्टर-122 की हाईराइज सोसाइटियों के लोगों को अक्सर परेशानी झेलनी पड़ती है. फिलहाल सेक्टर में सबसे बड़ी समस्या पानी की है. सेक्टर में पिछले पांच दिनों से पानी की सप्लाई नहीं हो रही है. अगर हो भी रही है तो पानी का प्रेशर काफी कम है. मोटर चलाने के बावजूद पानी नहीं आ रहा है. इसके कारण सेक्टर के लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है. मजबूरन सेक्टर के लोग पानी का टैंकर खरीदकर अपनी जरूरतें पूरी कर रहे हैं. इसकी शिकायत नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों से की गई है. रक्षाबंधन के दिन भी लोगों को इन परेशानियों को झेलना पड़ा है.

इसके अलावा नो पावर कट और नो ट्रिपिंग डिस्ट्रिक्ट होने के बावजूद सेक्टर में बिजली कटौती से आम आदमी परेशान हो गया है. सेक्टर में घंटों बिजली कटौती ने लोगों के पसीने छुड़ा दिए है. लोग बिजली सप्लाई की मांग को लेकर निगमकर्मी और अधिकारियों को फोन करते रहते हैं, लेकिन वहां से कोई जवाब नहीं मिलता है. साथ ही कम वोल्टेज की समस्या भी बढ़ी है. इससे लोगों के बिजली उपकरण भी फुंक रहे हैं. इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हो रही है.

ये भी पढ़ें-

Kaushal Kishore News: केंद्रीय मंत्री के घर पर ”हत्याकांड”, शख्स की गोली मारकर हत्या

लोगों ने बताया कि सेक्टर में कूड़ा उठाने वाली गाड़ी कम आ रही है. इसके कारण सेक्टर में कूड़ा उठाने वाले कर्मचारियों की लापरवाही के चलते चारों तरफ कूड़े का ढेर लगा रहता है. कूड़े के ढेर के चलते आवारा कुत्ते अक्सर उसे सड़क पर बिखेर देते हैं. इसके चलते सेक्टर में संक्रामक बीमारियों के फैलने का खतरा बना रहता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.