April 18, 2024, 10:50 pm

Noida news: स्कूल में “जय श्रीराम” का नारा लगाने पर स्टूडेंट की पिटाई, प्रिंसिपल ने घरवालों को दी धमकी

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday August 17, 2023

Noida news: स्कूल में “जय श्रीराम” का नारा लगाने पर स्टूडेंट की पिटाई, प्रिंसिपल ने घरवालों को दी धमकी

Noida news: नोएडा में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला है. जहां पर एक पीड़ित ने आरोप लगाया है कि स्कूल में “जय श्रीराम” के नारे लगाने पर स्कूल प्रिंसिपल ने उनके बच्चे को स्कूल से निकाल दिया. पीटीआई ने उनके बच्चे के साथ मारपीट भी की. जिसकी वजह से उनका बच्चा तनाव में चला गया है. पीड़ित लड़के के पिता ने इस शिकायत पुलिस, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश शिक्षा मंत्री, जिलाधिकारी गौतमबुद्ध नगर और केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष से की है. बता दें कि, 14 अगस्त का मामला है और पीड़ित परिवार दादरी का रहने वाला है.

क्या है पूरा मामला ? 

पीड़ित स्टूडेंट के पिता दीपक शर्मा ने पुलिस से शिकायत करते हुए कहा- मेरा 15 साल का बेटा लक्ष्य शर्मा सेंथुड कॉन्वेंट स्कूल विद्यानगर में पढ़ाई करता है. वह कॉमर्स 11वीं क्लास का स्टूडेंट है. बीते 14 अगस्त को मेरा बेटा अपनी क्लास में पढ़कर रहा था. इस दौरान अन्य क्लासों से “जय श्रीराम” के नारे का शोर सुनाई दिया. इसको सुनकर मेरे बेटे ने भी “जय श्री राम” के नारे लगाना शुरू कर दिया. इतनी सी बात पर  पीटीआई यतीश और अन्य महिला टीचरों ने मेरे बेटे लक्ष्य को क्लास से बाहर निकाल दिया. जहां पर मेरे बेटे से यतीश और महिला टीचरों ने कहा कि “क्या बात है, तू बड़ा राम भक्त हो गया है. लेकिन इतना सुनने के बावजूद भी मेरे बेटे ने कुछ नहीं कहा. यह बात यतीश को अच्छी नहीं लगी और उसने मेरे बेटे को लात-घूसों से पीटना शुरू कर दिया. जिसमें मेरा बेटा घायल हो गया और डर गया है. स्कूल की छुट्टी होने पर लक्ष्य को स्कूल लेने पहुंचे उसके चाचा विक्रांत शर्मा ने गुमशुम देखा तो कारण पूछा. इसके बाद पीड़ित ने पूरी बात अपने चाचा को बता दी. इसकी शिकायत लेकर मेरा भाई विक्रांत शर्मा प्रिंसिपल आशा शर्मा के पास पहुंचा, लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी. उल्टा प्रिंसिपल ऑफिस से भगा दिया.

दीपक शर्मा ने आगे बताया कि घर आने के बाद मेरे बेटे लक्ष्य शर्मा ने अपने आपको कमरे में बंद कर लिया. घर वालों की काफी समझाने के बाद मेरे बेटे ने दरवाजा खोला और इसकी शिकायत दोबारा घरवालों से की. परिजन पूरे मामले की शिकायत लेकर दोबारा से प्रिंसिपल आशा शर्मा के पास पहुंचे, लेकिन इस पर प्रिंसिपल ने कुछ नहीं कहा. पीटीआई टीचर को बुलाकर उल्टा हमको ही दोषी बताया. जब हमने इसका विरोध किया तो प्रिंसिपल आशा शर्मा ने हमसे कहा कि अब तुम्हारा बच्चा इस स्कूल में नहीं पड़ेगा. चाहे फिर कुछ भी हो जाए.

ये भी पढ़ें-

BJP central election committee meeting: इस फॉर्मूला से मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी जीतेगी चुनाव, बन गई रणनीति!

दीपक शर्मा का आरोप है कि स्कूल प्रिंसिपल आशा शर्मा ने उनके बेटे लक्ष्य शर्मा को स्कूल से निकाल दिया है. जिसकी वजह से उनका बेटा तनाव में चला गया है. वह बुरी तरीके से डरा है. पीड़ित ने आगे आरोप लगाते हुए कहा कि क्या जय श्रीराम के नारे लगाना इतना बड़ा पाप हो गया है कि किसी बच्चे को स्कूल से निकाल दिया जाए. इस मामले में पीड़ित परिवार ने पुलिस से मदद की गुहार लगाई है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.