July 18, 2024, 7:18 pm

BJP central election committee meeting: इस फॉर्मूला से मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी जीतेगी चुनाव, बन गई रणनीति!

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday August 17, 2023

BJP central election committee meeting: इस फॉर्मूला से मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी जीतेगी चुनाव, बन गई रणनीति!

BJP central election committee meeting: दिल्ली में पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर बीजेपी केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हुई. जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और अमित शाह समेत चुनावी राज्यों के कई बड़े नेता शामिल हुए. इस बैठक में मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में ‘सी’ और ‘डी’ कैटेगरी में सीटों को बांटकर उस पर काम करने की प्लानिंग बनी है. बताया जा रहा है की पीएम मोदी ने कमजोर सीटों पर सबसे ज्यादा फोकस करने की बात कही है.

कमजोर सीटों पर जल्द होगा उम्मीदवारों का ऐलान

सूत्रों के मुताबिक मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के कमजोर सीट यानी ‘सी’ और ‘डी’ कैटेगरी की सीटों पर इस बार उम्मीदवारों का ऐलान इस बार जल्दी कर दिया जाऐगा, ताकि उम्मीदवारों को तैयारी करने का पूरा मौका मिले. बता दें कि, सी कैटेगरी की सीटें वैसी हैं जहां बीजेपी दो से अधिक बार हारी है और जब जीती भी है तब वोट का अंतर काफी कम का रहा है. वहीं डी कैटेगरी की सीट वैसी सीटें हैं जहां बीजेपी कभी नहीं जीती है. ऐसे में इन सीटों पर सबसे ज्यादा फोकस किया जाएगा.

मध्य प्रदेश पर ज्यादा फोकस

बीजेपी का सबसे ज्यादा फोकस मध्य प्रदेश पर बना हुआ है. खुद गृहमंत्री अमित शाह ने यहां कमान संभाल रखी है. प्रदेश में 27 सीटें पिछले चुनाव में ऐसी रही थी कि जहां पार्टी 1000 से कम वोट से हारी थी. इसलिए यहां सबसे ज्यादा फोकस करने के लिए कहा गया है. इन सीटों पर उम्मीदवारों के पैनल पर भी चर्चा हुई है. इसके अलावा 102 एस्पिरेशन सीट पर भी चर्चा हुई जो पिछली बार बीजेपी हार गई थी. इसमें 22 बिलकुल कमजोर यानी डी कैटेगरी की सीट पर भी चर्चा हुई है. जहां बीजेपी के जीत का मार्जिन एक हजार से भी कम का है. बैठक पर सभी सीटों को लेकर चर्चा हुई. इसके अलावा भूपेंद्र यादव ने चुनावी तैयारी पर एक समीक्षा रिपोर्ट रखी.

मध्य प्रदेश के लिए विभिन्न एजेंसियों से कैंपेम और मीडिया मैनेजमेंट के लिए प्रेजेंटेशन लिए गए है. उन सभी कामों की सूची पर चर्चा की जा रही है.

बैठक में मध्य प्रदेश से आई पार्टी की इंटरनल रिपोर्ट पर भी चर्चा हुई है. जिसमें बताया गया है की बीजेपी संगठन और केंद्र सरकार को लेकर जनता में नाराजगी नहीं है. लेकिन लंबे समय से सत्ता में रहने की वजह से समर्थकों और कोर वोटर्स में उदासीनता है. इसलिए इस उदासीनता को दूर करना सबसे जरूरी काम है.

ये भी पढ़ें-

Delhi Metro video: “मेट्रो तुम्हारे बाप की है” बोलकर भिड़ गईं दो आंटियां, अब हो रही VIRAL

 

छत्तीसगढ़ में पांच सीटें

छत्तीसगढ़ में डी कैटेगरी की 5 सीट है. जबकि टोटल 90 विधानसभा सीट हैं. 90 सीटों में से ए और बी कैटेगरी में बीजेपी ने करीब 63 सीटें रखी है. बाकि कमजोर 27 सीटें सी और डी कैटेगरी में रखी गई है. सी कैटेगरी में 22 सीटें है जहां बीजेपी कम वोटों से जीतती है. डी कैटेगरी में 5 सीटें है. यहां बीजेपी ने कभी जीत हासिल नहीं की. बीजेपी अभी से प्रत्याशियों के चयन की प्रक्रिया में जुट गई है, ताकि चुनाव से पहले सभी प्रत्याशियों को अपने प्रचार का पूरा मौका मिले. इसके अलावा कमजोर सीटों पर बड़े नेताओं को भी फोकस करने के निर्देश दिए हैं.

बता दें कि, इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, अमित शाह, शिवराज सिंह चौहान, नरेंद्र सिंह तोमर, वीडी शर्मा, कैलाश विजयवर्गीय, भूपेंद्र यादव, अश्विनी वैष्णव प्रमुख रूप से उपस्थित है। जबकि छत्तीसगढ़ से भी रमन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव, नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.