July 18, 2024, 6:55 pm

Noida news: नोएडा की इस सोसायटी के एक फ्लैट में भरा पानी, जान जाते-जाते बची

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday September 15, 2023

Noida news: नोएडा की इस सोसायटी के एक फ्लैट में भरा पानी, जान जाते-जाते बची

Noida news: नोएडा जैसे खूबसूरत शहर में बने फ्लैट्स में रहने वाले लोगों की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. करोड़ों के फ्लैट सुविधाओं के नाम पर जीरो है. इन सोसाइटियों में आए दिन लिफ्ट खराब होने, पार्किंग की समस्या अब आम हो चली है. जबकि इन सोसाइटियों में रहने वाले लोगों से मेंटेनेंस के नाम पर बिल्डर अच्छी खासी रकम वसूलते हैं. ताजा मामला नोएडा की एक सोसायटी का है. जहां बीती रात एक सेवानिवृत आईएएस अफसर का फ्लैट तालाब में तब्दील हो गया.

क्या है पूरा मामला ?

नोएडा के सेक्टर-128 स्थित जेपी विश टाउन सोसाइटी (JP Wish Town Society) का मामला है. जहां बीती रात एक सेवानिवृत आईएएस अफसर का फ्लैट तालाब में तब्दील हो गया. बता दें कि, जेपी विश टाउन में लगभग 13 टावर हैं, जिनमें करीब 1500 फैमिली रहती है. इन्हीं में सेवानिवृत आईएएस अफसर और वर्तमान में एम्स गोरखपुर के निदेशक देश दीपक वर्मा, तीसरे टावर की चौथी मंजिल पर फ्लैट नंबर 402 में दो साल पहले अपने परिवार के साथ रहने आए थे.

फ्लैट में भरा पानी

उन्होंने बताया कि गुरुवार की रात वे खाना खाकर अपने रूम में लेटे ही थे कि अचानक फ्लैट के एक हिस्से से पानी गिरने की आवाज उन्हें और परिवार के सदस्यों को सुनाई दी. इस पर उन्होंने आकर देखा कि फ्लैट से जा रही पानी की लाइन टूट गई है और घर में एक बड़े फाउंटेन की तरह पानी लगातार बह रहा है. देखते ही देखते घर में पानी भरने लगा. इससे वहां अफरा तफरी का माहौल सा बन गया.

सिक्योरिटी और मेंटेनेंस मैनेजर ने नहीं उठाया फोन

सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी देश दीपक वर्मा ने बताया कि इस घटना के बाद वह सिक्योरिटी सुपरवाइजर और मेंटेनेंस मैनेजर को लगातार फोन करते रहे, लेकिन किसी ने फोन नहीं उठाया. काफी देर बाद सिक्योरिटी ऑफिस का फोन उठा और एक गार्ड उनके पास पहुंचा. तब तक फ्लैट के एक हिस्से में पानी भर चुका था. वहां पहुंचे सिक्योरिटी गार्ड ने जाकर किसी तरह पानी बंद कराया. उन्होंने बताया फ्लैट में पानी भरने के कारण एक हिस्से में करंट भी उतर आया था. गनीमत रही कि कोई हादसा नहीं हुआ. उनका कहना है  कि अगर वे लोग सो गए होते तो पूरे फ्लैट में बाढ़ की स्थिति हो जाती.

ये भी पढ़ेें-

Action on Lift Collapse: आम्रपाली सोसाइटी सील! 4 मजदूरों की मौत के बाद लिया गया फैसला

देश दीपक वर्मा ने बताया कि यहां सोसाइटी में मेंटेनेंस के नाम पर मोटी रकम ली जाती है, लेकिन इसकी एवज में सुविधाएं जीरो हैं. यहां पार्किंग की समस्या और बेसमेंट में डॉगी फीडिंग जैसी समस्याओं से यहां के लोगों को रोजाना ही दो चार होना पड़ता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.