June 12, 2024, 10:06 pm

Raksha Bandhan: मेरठ की राष्ट्र सेविका समिति की पांच बहनों ने पीएम मोदी को बांधी राखी, रक्षामंत्री को भी इस टोली ने बांधी राखी

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday August 31, 2023

Raksha Bandhan: मेरठ की राष्ट्र सेविका समिति की पांच बहनों ने पीएम मोदी को बांधी राखी, रक्षामंत्री को भी इस टोली ने बांधी राखी

Raksha Bandhan: देशभर में आज रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जा रहा है. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को भी राष्ट्र सेविका समिति, मेरठ (Rashtra Sevika Samiti, Meerut) की पांच बहनों ने राखी बांधी. जिनमें प्रांत कार्यवाहिका सुकंज, नोएडा से महानगर कार्यवाहिका इंद्राणी मुखर्जी व महानगर संपर्क प्रमुख अनीता जोशी, गाजियाबाद विभाग से प्रांत सह शारीरिक प्रमुख दीप्ति व महानगर कार्यवाहिका कविता शामिल थी.

इसके अलावा दिल्ली में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्कूली बच्चों के बीच जाकर रक्षाबंधन मनाया. इस दौरान स्कूली बच्चों ने पीएम मोदी की कलाई पर राखी बांधी और उनसे बात की. प्रधानमंत्री मोदी भी बच्चों के बीच बेहद खुश नजर आए.

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को बांधी राखी

वहीं, गाजियाबाद व नोएडा की 20 बहनों ने केंद्र टोली सदस्य सुरींद्रा के साथ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) को राखी बांधी. वहीं, राष्ट्र सेविका समिति की राखी 26 अगस्त को इंडिया गेट से शुरू हुई, समिति की 42 बहनों ने हरमंदिर साहिब, जलियांवाला बाग , दुर्गियाना मंदिर के दर्शन किए. इसके अलावा अटारी वाघा बॉर्डर पर जाकर बहनों ने 28 अगस्त को देश की सुरक्षा में तैनात सीमा सुरक्षा बल के जवानों को राखी बांधी.

ये भी पढ़ें-

UP International Trade Show: यूपी में 21 सितंबर से शुरू होगा इंटरनेशनल ट्रेड शो, जानिए- खास बातें

 

प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों की दीं रक्षाबंधन की शुभकामनाएं

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) का पर्व बहन और भाई के बीच अटूट विश्वास और अपार प्रेम को समर्पित है. यह हमारी संस्कृति का एक पवित्र त्योहार है. उन्होंने कहा कि यह पर्व लोगों के जीवन में स्नेह और सद्भाव की भावनाओं को मजबूत करे. बहनों द्वारा अपने भाइयों की कलाई पर ‘राखी’ बांधने की प्रथा यूं ही सदैव बनी रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.