July 18, 2024, 7:52 pm

Ghaziabad dog attack: बच्चे के अंदर कुत्तों के जैसे लक्षण, कोई भी हॉस्पिटल इलाज करने को तैयार नहीं

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday September 5, 2023

Ghaziabad dog attack: बच्चे के अंदर कुत्तों के जैसे लक्षण, कोई भी हॉस्पिटल इलाज करने को तैयार नहीं

Ghaziabad dog attack: गाजियाबाद से एक हैरान करने वाली खबर सामने आ रही है. यहां एक बच्चे  के अंदर कुत्तों के जैसे लक्षण पैदा हो गए हैं. दरअसल, गाजियाबाद में एक 14 साल के बच्चे को पड़ोस की रहने वाली महिला के कुत्तों ने कुछ महीने पहले काटकर जख्मी कर दिया था. बच्चे ने डर से अपने घर में यह बात छुपाई और कुछ महीने बाद उसे कुत्ते के काटने का रिएक्शन इतना हुआ कि बच्चे के अंदर कुत्तों के जैसे लक्षण पैदा हो गए हैं. एक तरफ परिजन बच्चे की हालत को देखकर परेशान है, वहीं दूसरी तरफ उस बच्चे को सरकारी अस्पताल से कोई भी इलाज मुहैया नहीं कराया जा रहा है. इससे पीड़ित परिवार आज दर की ठोकरें खाने को मजबूर है.

क्या है पूरा मामला ? 

मामला गाजियाबाद का है. यहां चरण सिंह कालोनी निवासी याकूब ने बताया कि पड़ोसी महिला के कुत्ते ने उसके बेटे को काटा है. यहां कुत्तों का आतंक देखने को मिल रहा है. मौहल्ले के कई बच्चों को इन कुत्तों ने काटा है. लेकिन महिला कुत्ते को खुले में रखती है. अब उनके बच्चे की जान पर बन आई है, लेकिन उन्हें कहीं भी इलाज नहीं मिल पा रहा है. कोई भी हॉस्पिटल इलाज करने के लिए तैयार नहीं है.

ये भी पढ़ें-

Rajasthan news: तहसीलदार पर महिला पटवारियों ने लगाया गंभीर आरोप, कहता है-‘आपकी आंखें नशीली हैं, बीयर पीती हो क्या…?

कुत्ते के काटने के बाद से पीड़ित परिवार लगातार दिल्ली व अन्य हॉस्पिटलों में चक्कर काट रहा है. पीड़ित को सरकार द्वारा चलाई जा रही एंबुलेंस भी नहीं उपलब्ध हो पाई. पीड़ित ने प्राइवेट एंबुलेंस हायर कर बच्चों के इलाज के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है. प्राइवेट एंबुलेंस का किराया अभी तक 10 हजार रुपए के पार पहुंच चुका है. गरीब परिवार अपने बच्चे के इलाज के लिए चंदा तक ले रहा है. इसके बावजूद उनकी कोई मदद नहीं कर रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.