June 15, 2024, 8:08 pm

Delhi G-20 summit: G-20 को लेकर दिल्ली में रहेंगी ये पाबंदियां? घर से निकलने से पहले जानें ये बातें

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday September 5, 2023

Delhi G-20 summit: G-20 को लेकर दिल्ली में रहेंगी ये पाबंदियां? घर से निकलने से पहले जानें ये बातें

Delhi G-20 summit: दिल्ली में 9 और 10 सितंबर को जी-20 शिखर सम्मेलन (Delhi G-20 summit) होगा. जी-20 के लिए सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए कई सेवाओं पर रोक लागा दी गई है. इसके लिए दिल्ली को सजाया जा रहा है. राजधानी की सुरक्षा भी बढ़ाई गई है. इसके लिए कई ऑनलाइन सेवाओं पर रोक लगा दी गई है. हालांकि, कुछ चीजों पर ये पाबंदी नहीं है.

इन ऑनलाइन डिलीवरी सेवाओं पर रोक

ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि 25 अगस्त को पुलिस द्वारा जारी ट्रैफिक सलाह में कोई बदलाव नहीं किया गया है. आवश्यक सेवाएं जैसे डाक और मेडिकल सेवाएं, मरीज के टेस्ट की अनुमति पूरी दिल्ली में रहेगी. कमर्शियल गतिविधियों की अनुमति नहीं होगी. दवाओं को छोड़कर सभी ऑनलाइन डिलीवरी सेवाओं पर रोक रहेगी. उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं के लिए दी गई अनुमतियों का सम्मान किया जाएगा. मेट्रो की बात करें तो मेट्रो सेवा बाधित नहीं होगी. हालांकि, मोती बाग, बीकाजी कामा प्लेस, मुनिरका, आरके पुरम, आईआईटी और सदर बाजार कैंटोनमेंट मेट्रो स्टेशन पर आवागमन बंद रहेगा.

सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन पूरी तरह से रहेगा बंद

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन पूरी तरह से बंद रहेगा, क्योंकि यह आयोजन स्थल के सबसे नजदीक का मेट्रो स्टेशन है. धौला कुआं, खान मार्केट, जनपथ, सुप्रीम कोर्ट और बीकाजी कामा प्लेस को सेंसिटिव मेट्रो स्टेशनों की लिस्ट में रखा गया है. वीआईपी मूवमेंट और सुरक्षा प्रतिबंधों के कारण स्टेशनों पर 10-15 मिनट के लिए गेट बंद हो सकते हैं. प्रगति मैदान (सुप्रीम कोर्ट) के अलावा अन्य स्टेशनों पर मेट्रो सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी. दिल्ली पुलिस ने 39 संवेदनशील मेट्रो स्टेशनों को बंद करने की एडवाइजरी वापस ले ली है. अब केवल प्रगति मैदान मैदान मेट्रो स्टेशन बंद रहेगा.

ये भी पढ़ें-

Ghaziabad dog attack: बच्चे के अंदर कुत्तों के जैसे लक्षण, कोई भी हॉस्पिटल इलाज करने को तैयार नहीं

 

G-20 शिखर सम्मेलन 9-10 सितंबर तक

नई दिल्ली में होटल बुकिंग, हवाई अड्डे या रेलवे स्टेशन से यात्रा करने वाले लोगों को बोर्डिंग पास और बुकिंग कागज दिखाने पर जाने की अनुमति दी जाएगी. हो सकता है कि उस समय सुरक्षा प्रतिबंधों के कारण 10-15 मिनट की देरी हो सकती है लेकिन उन्हें प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. बता दें कि, G20 नेताओं का शिखर सम्मेलन 9-10 सितंबर को प्रगति मैदान में नवनिर्मित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्र  भारत मंडपम में आयोजित होने वाला है.

इसमें 30 से अधिक देशों के राष्ट्राध्यक्ष, यूरोपीय संघ और आमंत्रित गेस्ट देशों के शीर्ष अधिकारियों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के 14 प्रमुखों के भाग लेने की संभावना है. जी-20 के समूह में 19 देश शामिल हैं. इनमें अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, दक्षिण कोरिया, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, टर्की, यूनाइटेड किंगडम और यूनाइटेड राज्य और यूरोपीय संघ के नाम हैं .

Leave a Reply

Your email address will not be published.