February 1, 2023, 10:14 pm

Delhi crime news: सीनियर स्टूडेंट्स ने धागे से कस दिया दूसरी क्लास के बच्चे का प्राइवेट पार्ट, जांच में पुलिस

Written By: गली न्यूज

Published On: Saturday December 31, 2022

Delhi crime news: सीनियर स्टूडेंट्स ने धागे से कस दिया दूसरी क्लास के बच्चे का प्राइवेट पार्ट, जांच में पुलिस

Delhi crime news: नई दिल्ली के एक स्कूल से चौंकाने वाली खबर सामने आई है. यहां किदवई नगर स्थित एनडीएमसी स्कूल (NDMC School) स्कूल के कुछ स्टूडेंट्स ने मिलकर दूसरी क्लास में पढ़ने वाले स्टूडेंट (8) के प्राइवेट पार्ट को नायलॉन के धागे से बांध दिया. इस घटना की जानकारी परिवारवालों को तब चली जब वह बच्चे को नहलाने के लिए ले गए. परिजनों ने बच्चे का मेडिकल कराया, गनीमत है कि बच्चे की हालत ठीक है.

क्या है मामला ?

नई दिल्ली के किदवई नगर स्थित एनडीएमसी स्कूल (NDMC School) स्कूल के कुछ स्टूडेंट्स ने मिलकर दूसरी क्लास में पढ़ने वाले स्टूडेंट (8) के प्राइवेट पार्ट को नायलॉन के धागे से बांध दिया. इस घटना की जानकारी परिवारवालों को तब चली जब वह बच्चे को नहलाने के लिए ले गए. परिजनों ने बच्चे का मेडिकल कराया, गनीमत है कि बच्चे की हालत ठीक है. पुलिस मामले में जांच कर रही है.

दिल्ली पुलिस (Delhi police) का कहना है कि वह पीड़ित बच्चे को लेकर स्कूल गई थी ताकि जिन स्टूडेंट्स ने यह हरकत की, उनकी पहचान हो सके और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए, लेकिन बच्चा किसी को नहीं पहचान सका. पुलिस अब फिर बच्चे को लेकर स्कूल जाएगी और कोशिश करेगी कि आरोपी स्टूडेंट्स की पहचान हो सके ताकि उनके खिलाफ कार्रवाई की जा सके.

पुलिस को कैसे मिली जानकारी 

पुलिस को इस घटना की जानकारी अस्पताल से उस वक्त चली जब बच्चे के पिता उसे अस्पताल ले गए थे. दरअसल, अस्पताल से एक पीसीआर कॉल पर पुलिस को किसी ने जानकारी दी कि एक 8 साल के बच्चे को यहां इलाज के लिए लाया गया है और उसके प्राइवेट पार्ट को स्कूल के सीनियर स्टूडेंट्स ने नायलॉन के धागे से बांध दिया.

सूचना मिलने पर पुलिस की एक टीम अस्पताल पहुंची और बच्चे के पिता समेत डॉक्टर्स से घटना के संबंध में जानकारी ली.

ये भी पढ़ें-

Mayawati nephew marriage: इस लड़की से शादी करेंगे मायावती के भतीजे आकाश आनद

पुलिस को बताया गया कि बच्चे की हालत सामान्य है. हालांकि, कुछ समय तक उसे डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया. फिर अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद पुलिस उसे अपने साथ स्कूल में लेकर गई ताकि इस आरोप में शामिल लोगों की पहचान हो सके. फिलहाल बच्चे ने उन स्टूडेंट्स को पहचाना नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.