February 6, 2023, 2:11 am

Kanpur suicide: कानपुर में टीचर के टॉर्चर पर स्कूल की छत से कूदी छात्रा, करते थे जलील

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday December 15, 2022

Kanpur suicide: कानपुर में टीचर के टॉर्चर पर स्कूल की छत से कूदी छात्रा, करते थे जलील

Kanpur suicide: कानपुर से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां 10वीं क्लास की छात्रा ने स्कूल की पहली मंजिल से छलांग (student jumped from first floor of school) लगा दी. इससे स्कूल में हड़कंप मच गया. स्कूल मैनेजमेंट ने छात्रा को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया. वहां छात्रा का इलाज चल रहा है. डॉक्टरों का कहना है कि छात्रा को कोई गंभीर चोट नहीं लगी है. वह खतरे से बाहर है.

क्या है मामला?

मीरपुर कैंट में छात्रा शिवानी गुप्ता रहती है. वह छावनी परिषद बालिका जूनियर हाईस्कूल (Girls Junior High School)में 10वीं में पढ़ती है. बुधवार को क्लास चल रही थी तभी छात्रा ने खुदकुशी की  (student tried to commit suicide) कोशिश की. छात्रा का कहना है कि स्कूल के एक टीचर उसे रोज टॉर्चर (school teacher tortures) करते हैं. उसकी बेइज्जती करते हैं. इसी से तंग आकर उसने सुसाइड करने की कोशिश की है. मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी.

क्लास में जलील करते हैं टीचर

शिवानी ने बताया, ”घनश्याम सर कई दिनों से टॉर्चर कर रहे हैं. क्लास की मॉनिटर के कहने पर वह मुझे टॉर्चर करते हैं. क्लास से पूरे दिन के लिए बाहर निकाल देते हैं. वह कहते हैं कि घोड़ी जैसी हो गई हो, अक्ल नहीं है. ऐसा ही बहुत कुछ बोल कर वह जलील करते थे. इसकी शिकायत मैंने प्रिंसिपल मैडम से की, तो उन्होंने मेरी बात ही नहीं सुनी. उन्होंने मुझे क्लास के बाहर खड़ा कर दिया. इसके बाद मैं खुद ही छत से कूद गई.

ये भी पढ़ें-

Noida latest news: 3 बच्चों की मां प्रेमी संग फरार, पति ने पुलिस से लगायी मदद की गुहार

हॉस्पिटल में चल रहा इलाज

छात्रा के छत से कूदते ही स्कूल में अफरा-तफरी मच गई. स्कूल मैनेजमेंट ने छात्रा को ग्वालटोली के प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया. उसी स्कूल में कक्षा-6 में पढ़ने वाली छात्रा की छोटी बहन ने घर पहुंचकर उसके कूदने के बारे में बताया. इसके बाद मां और परिवार के अन्य लोग हॉस्पिटल पहुंचे.

ये देंखे-

पुलिस ने छात्रा का मेडिकल कराया

जानकारी मिलते ही पुलिस हॉस्पिटल पहुंची. पुलिस ने छात्रा का मेडिकल कराकर परिजन और छात्रा का बयान लिया. इसके बाद साथी छात्राओं और स्कूल प्रबंधन का बयान भी दर्ज किया. पुलिस ने बताया कि पीड़ित परिवार तहरीर देंगे, तो मामले में शिक्षक के खिलाफ FIR दर्ज की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.