February 25, 2024, 8:15 am

Ram Mandir Ayodhya Update: योगीराज द्वारा बनाई गई मूर्ति की विशेषताएं, क्या हैं तैयारियां

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday January 16, 2024

Ram Mandir Ayodhya Update: योगीराज द्वारा बनाई गई मूर्ति की विशेषताएं, क्या हैं तैयारियां

Ram Mandir Ayodhya Update: अयोध्या में भगवान श्रीराम की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर तैयारियां जोरों पर है। सोमवार को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने राम मंदिर परिसर की ये नई तस्वीरें साझा कीं। इनमें राम मंदिर की भव्यता और सुंदरता दिखाई दे रही है। 22 जनवरी को राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होगी, 500 साल के इंतजार के बाद राम लला अपने महल में विराजित होंगे। जिसे लेकर हर तरफ खुशी का माहौल है। हर राम भक्त को इस दिन का बेसब्री से इंतजार था।

क्या है पूरा मामला

अयोध्या में राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां जोरों पर हैं। राम मंदिर में स्थापित होने वाली रामलला की मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकार अरुण योगीराज की मां सरस्वती ने कहा कि मैं बहुत खुश हूं, यह पिछले छह महीनों में उसने जो किया उसका नतीजा है। उसके पिता उसकी कला देखकर खुश होते।

Advertisement
Advertisement

इस पल का लंबे समय से इंतजार था: शारदा पीठ के शंकराचार्य

शारदा पीठ के शंकराचार्य जगदगुरु सदानंद सरस्वती ने कहा कि भागवान राम का प्रत्येक भक्त और सनातन धर्म का अनुयायी 22 जनवरी को राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर बेहद खुश है। हम इस पल का लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। यह जगह सदियों से विवादित रही। कोर्ट के आदेश के अनुसार मंदिर का निर्माण हो रहा है और अब प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है। ये बहुत पहले ही हो जाना चाहिए था।

राम मंदिर परिसर में बजाए जाएंगे शास्त्रीय भारतीय वाद्ययंत्र

मंदिर ट्रस्ट ने सोमवार को कहा कि उत्तर प्रदेश के पखावज से लेकर तमिलनाडु के मृदंग तक, अयोध्या में राम मंदिर प्रतिष्ठा समारोह का जश्न मनाने के लिए देश भर के विभिन्न शास्त्रीय वाद्ययंत्र बजाए जाएंगे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय ने कहा कि 22 जनवरी को भव्य समारोह के दौरान प्रदर्शन करने के लिए भारत के विभिन्न हिस्सों से संगीतकारों का चयन किया गया है।

पहले ये मूर्तियां बना चुके हैं योगीराज

  • केदारनाथ में आदि शंकराचार्य की 12 फीट ऊंची प्रतिमा
  • मैसूर में स्वामी रामकृष्ण परमहंस की प्रतिमा
  • मैसूर के राजा की 14़ 5 फीट ऊंची सफेद अमृत शिला प्रतिमा
  • मैसूर के चुंचनकट्टे में हनुमान जी की 21 फीट ऊंची प्रतिमा
  • संविधान निर्माता डॉ़ बीआर आंबेडकर की 15 फीट ऊंची प्रतिमा

चयनित मूर्ति की नौ विशेषताएं

  • श्याम शिला की आयु हजारों साल होती है, यह जल रोधी होती है।
  • चंदन, रोली आदि लगाने से मूर्ति की चमक प्रभावित नहीं होगी।
  • पैर की अंगुली से ललाट तक रामलला की मूर्ति की कुल ऊंचाई 51 इंच है।
  • चयनित मूर्ति का वजन करीब 150 से 200 किलो है।
  • मूर्ति के ऊपर मुकुट व आभामंडल होगा।
  • श्रीराम की भुजाएं घुटनों तक लंबी हैं।
  • मस्तक सुंदर, आंखे बड़ी और ललाट भव्य है।
  • कमल दल पर खड़ी मुद्रा में मूर्ति, हाथ में तीर व धनुष होगा।
  • मूर्ति में पांच साल के बच्चे की बाल सुलभ कोमलता झलकेगी।

मंगेशकर परिवार भी होगा रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का हिस्सा

सिंगिंग इंडस्ट्री को अपनी आवाज से मधुर करने वाली आशा भोसले के साथ उनकी बहन उषा मंगेशकर को भी निमंत्रण मिला है। बता दें कि अक्षय कुमार, कंगना रणौत, टाइगर श्रॉफ, जैकी श्रॉफ, हरिहरन, रजनीकांत, अमिताभ बच्चन, रणबीर कपूर, आलिया भट्ट और रणदीप हुड्डा समेत कई मशहूर हस्तियों को अयोध्या में राम मंदिर ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह का निमंत्रण मिला है।

कान्हा को भी मिले मथुरा की जन्मभूमि: नीतीश भारद्वाज

महाभारत सीरियल में भगवान कृष्ण की भूमिका निभाने वाले नीतीश भारद्वाज ने कहा है कि भगवान राम की तरह कृष्ण को भी उनकी मथुरा की जन्मभूमि वापस मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जन्मस्थान की तुलना किसी भी अन्य स्थान से नहीं की जा सकती। एतिहासिक प्रमाणों से यह स्थापित हो गया है कि भगवान कृष्ण काल्पनिक पात्र नहीं थे। द्वारका से मिले प्रमाणों ने उन्हें इतिहास पुरूष के रूप में स्थापित कर दिया है। अब ऐसे इतिहास पुरुष भगवान कृष्ण को बिना कोई देरी किए उनकी जन्मभूमि मिलनी चाहिए।

यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष अजय राय ने पार्टी नेता दीपेंद्र हुड्डा, सुप्रिया श्रीनेत और अन्य के साथ हनुमान गढ़ी मंदिर में पूजा-अर्चना की। सभी ने मंदिर में पुष्प और प्रसाद चढ़ाकर भगवान का आशीर्वाद लिया।

कांग्रेस प्रदेश के अयोध्या दौरे के बीच कुछ लोगों ने पार्टी के उतारे झंडे

यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय और दीपेंद्र हुड्डा समेत कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल आज अयोध्या दौरे पर है। इस बीच कुछ अराजक लोगों ने अयोध्या राम मंदिर के बाहर कांग्रेस का झंडा को उतारते हुए देखा गया।

550 साल की गुलामी को दूर करके अब शुभ घड़ी आई: केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा, ‘बहुत प्रसन्नता का विषय है और पूरा देश हर्षोल्लासित है कि 550 साल की गुलामी को दूर करके आज भगवान राम की प्रतिमा की प्रतिष्ठा का समय आ गया है…देश रामराज्य की स्थापना की तरफ बढ़ेगा।’

यह भी पढ़ें…

Business News: ज्यादा दिन नही चलेगी अनलिमिटेड डाटा की मौज, टेलीकॉम कंपनियां करेंगी बड़ा बदलाव

अरुण योगीराज द्वारा कृष्णशिला पर निर्मित मूर्ति का हुआ चयन

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कर्नाटक के प्रसिद्ध मूर्तिकार अरुण योगीराज द्वारा कृष्णशिला पर निर्मित मूर्ति का चयन भगवान श्री रामलला सरकार के श्री विग्रह के रूप में प्रतिष्ठित होने हेतु किया गया है।

एआई और ड्रोन से रखी जा रही पैनी नजर

अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए गए हैं। अयोध्या जोन के आईजी प्रवीण कुमार ने बताया कि सीसीटीवी, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, तकनीक, कैमरा, ड्रोन और मानव श्रृंखला की मदद से हम कार्रवाई कर रहे हैं।

खिलाड़ी से लेकर लेखक, वैज्ञानिक आदि प्रतिष्ठित लोग भी होंगे शामिल

चंपत राय ने बताया कि प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में देश के गणमान्य लोगों को आमंत्रित किया गया है। इसमें खिलाड़ी, लेखक, वैज्ञानिक सहित अलग-अलग विधाओं के प्रतिष्ठित लोगों को बुलाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.