May 19, 2024, 2:21 pm

Noida News: इन इलाकों में कॉलेज जाने वाले स्टूडेंट्स खुलेआम करते हैं ऐसा, नहीं मानते हैं कोई नियम…

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday April 18, 2024

Noida News: इन इलाकों में कॉलेज जाने वाले स्टूडेंट्स खुलेआम करते हैं ऐसा, नहीं मानते हैं कोई नियम…

Noida News: दिल्ली एनसीआर के इन इलाकों में अगर आपके बच्‍चे पढ़ने आ रहे हैं तो सावधान होने की जरूरत है। इंस्‍टीट्यूट और कॉलेजों का हब नोएडा अब तंबाकू और सिगरेट का भी हब बनता जा रहा है। यहां स्टूडेंट्स खुलेआम सिगरेट का धुआं उड़ाते मिल जाएंगे। कई इलाकों में बैन होने के बावजूद वे कोई भी नियम कानून नही मानते हैं।

क्या है पूरा मामला

बतादें, नोएडा (Noida News) शहर वैसे तो एजुकेशन इंस्‍टीट्यूट्स, यूनिवर्सिटीज और कॉलेजों का हब है। यहां हजारों की संख्‍या में शैक्षिक संस्‍थान हैं और लाखों बच्‍चे पढ़ाई करते हैं लेकिन यहां पढ़ाई के लिए आने वाले छात्र-छात्राओं ने अब इसे तंबाकू और सिगरेट का हब बना दिया है। यहां सैकड़ों की संख्‍या में छात्र-छात्राएं खुलेआम सिगरेट पीते और धुआं उड़ाते मिल जाएंगे। नोएडा टोबेको कंट्रोल सेल ने पिछले एक साल में ऐसे सैकड़ों बच्‍चों को पकड़ा है और उनके चालान किए हैं। नोएडा टोबेको कंट्रोल सेल में डिस्ट्रिक्‍ट कंसल्‍टेंट डॉ. श्‍वेता खुराना ने बताया कि नोएडा की दो जगहें तंबाकू या तंबाकू उत्‍पादों की हब बनती जा रही हैं। यहां कॉलेज जाने वाले छात्र-छात्राएं सिर्फ सिगरेट ही नहीं पीते, बल्कि इलेक्‍ट्रॉनिक सिगरेट भी पीते हुए मिल जाएंगे।

नियमों का हो रहा उल्‍लंघन

नियमानुसार यूनिवर्सिटी, कॉलेज, स्‍कूल या अन्‍य किसी शैक्षिक संस्‍थान के 100 यार्ड तक कोई भी तंबाकू उत्‍पाद नहीं बेचा जा सकता लेकिन नोएडा में कई ऐसे शैक्षिक संस्‍थान हैं, जिनके आसपास इन नियमों का उल्‍लंघन हो रहा है। यहां सिगरेट बेची भी जा रही हैं और छात्र-छात्राएं खरीदकर पी भी रहे हैं। टोबेको सेल कई बार यहां छापेमारी भी कर चुकी है।

282 छात्रों के हुए चालान

नोएडा जिले की टोबेको सैल ने 1 अप्रैल 2023 से लेकर 31 मार्च 2024 तक कुल 282 छात्रों के चालान किए हैं। ये वे छात्र हैं जो कॉलेज परिसर से 100 मीटर के दायरे में धूम्रपान करते मिले हैं। जबकि अन्‍य जगहों पर धूम्रपान करने वालों की संख्‍या तो हजारों में होगी। इनमें 176 चालान तो सिर्फ जानी-मानी एक ही यूनिवर्सिटी के छात्रों के किए गए हैं।

यह भी पढ़ें…

RCS Chat: RCS देगा WhatsApp को टक्कर, बिना इंटरनेट के भी भेज सकेंगे मैसेज

ये दो जगहें धूम्रपान में सबसे आगे

डॉ. खुराना बताती हैं कि नोएडा में सेक्‍टर 125 के आसपास टॉप यूनिवर्सिटी और नॉलेज पार्क का इलाका धूम्रपान में सबसे आगे हैं। नॉलेज पार्क के आसपास 70 से ज्‍यादा प्राइवेट इंस्‍टीट्यूशंस हैं। जहां स्‍टूडेंट्स धूम्रपान करते हैं. ये सिर्फ सिगरेट ही नहीं पीते बल्कि कई सिगरेट में चरस और गांजा तक भरा होता है।

स्वास्थ्य के लिए है बेहद खराब

इस मामले में डॉ. श्‍वेता कहती हैं कि तंबाकू और सिगरेट युवाओं के लिए बेहद नुकसानदेह है। डीएम के नेतृत्‍व में बनी कमेटी एनसीओआरडी इसे लेकर छात्रों को लगातार जागरुक भी कर रही है। हालांकि नोएडा में ये चीजें बढ़ती जा रही हैं। इनकी वजह से छात्रों को कम उम्र में लत लगने, फेफड़े संबंधी रोग होने, कैंसर आदि का खतरा बढ़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.