February 25, 2024, 7:33 am

Noida Farmers Protest: किसान आंदोलन के कारण शहर में लगा भयानक जाम, अभिभावकों के साथ पैदल घर जा रहे स्कूली बच्चे

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday February 8, 2024

Noida Farmers Protest: किसान आंदोलन के कारण शहर में लगा भयानक जाम, अभिभावकों के साथ पैदल घर जा रहे स्कूली बच्चे

Noida Farmers Protest: नोएडा में किसान आंदोलन के कारण भयानक जाम की समस्या पैदा हो गई। जिसकी वजह से लोग कई कई घंटो से ट्रैफिक में फंसे हुए हैं। सबसे ज्यादा परेशानी स्कूली बच्चों को हो रही है, क्योंकि जाम की वजह से स्कूल बसें बच्चो को उनके घरों पर ड्रॉप नही कर पा रही हैं। इस वजह से बच्चो के अभिभावक बच्चों को बसों से उतारकर पैदल ही घर ले जा रहे हैं। ट्रैफिक पुलिस चाह कर भी किसी की कोई सहायता नही कर पा रही है।

क्या है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार नोएडा ( Noida Farmers Protest) की सड़कों पर किसानों के जत्थे धरने दे रहे हैं। ऐसे में नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे, 130 मीटर एक्सप्रेसवे, दादरी-सूरजपुर-छलेरा मार्ग और शहर की तमाम भीतरी सड़कों पर भारी ट्रैफ़िक जाम है। इस परेशानी का खामियाजा लाखों बच्चों को भी चुकाना पड़ रहा है। बुधवार की सुबह स्कूल जाते वक़्त बस ट्रैफ़िक जाम में फँस गईं। छुट्टी के बाद घर लौटने में भी बच्चों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कई स्कूलों के बच्चों को तो अभिभावक बसों से उतार कर पैदल घर लेकर गए हैं। बच्चे दो-दो घंटे की देरी से घर पहुंच रहे हैं। अभिभावक और स्कूल प्रशासन परेशान हैं। सड़कों पर स्कूल बसें खड़ी हैं और मजबूर बच्चे क़ैद हैं। चाहकर भी नोएडा ट्रैफ़िक पुलिस किसी की कोई मदद नहीं कर पाई।

सुबह से सड़कों पर किसानों की भीड़

गौतमबुद्ध नगर के किसानों ने करीब 10 दिन पहले ऐलान कर दिया था। किसानों के करीब बीस संगठनों ने महापंचायत करके संयुक्त घोषणा की। किसानों ने कहा था कि हम लोग पिछले क़रीब एक साल से लगातार आंदोलन कर रहे हैं। किसानों की पंचायत, महापंचायत और धरना-प्रदर्शन चल रहे हैं। सरकार और विकास प्राधिकरण के कानों पर जूं नहीं रेंग रही है। लिहाज़ा, अब दिल्ली जाकर संसद को अपनी बात सुनानी पड़ेगी। किसानों ने 8 फ़रवरी को दिल्ली कूच का ऐलान किया था। इस घोषणा के मुताबिक बुधवार की सुबह नोएडा, ग्रेटर नोएडा, ग्रेटर नोएडा वेस्ट, दनकौर, ज़ेवर, रबूपुरा, दादरी, सिकंदराबाद, बुलंदशहर, खुर्जा, अलीगढ और ग़ाज़ियाबाद से किसानों के समूह मंगलवार की रात और बुधवार की सुबह नोएडा-ग्रेटर नोएडा पहुंचे। अब सुबह 11 बजे से किसानों के जत्थों ने दिल्ली की तरफ़ कूच किया है।

यह भी पढ़ें…

Delhi Metro News: इस मेट्रो स्टेशन का एक हिस्सा अचानक गिरने से मचा हड़कंप, एक की मौत…कई घायल

आगे क्या हो सकता है

मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए किसानों का दिल्ली में दाख़िल होना संभव नहीं है। किसान संगठनों के पदाधिकारियों से हुई बातचीत में पता चला कि किसान अब बोर्डर पर ही महापंचायत करेंगे। इस महापंचायत में आगे की रणनीति पर फ़ैसला लिया जाएगा। संभावना है कि किसान बोर्डर पर ही डेरा डाल देंगे। ऐसे में नोएडा-दिल्ली के बीच सड़क अगले कुछ दिनों के लिए बंद रह सकती है। पुलिस और प्रशासन किसानों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। अफ़सरों का कहना है कि धरना स्थल पर वापस लौट जाएं। दूसरी तरफ किसान दिल्ली में घुसकर संसद जाने की ज़िद पर अड़े हुए हैं। ऐसे में दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का यह आंदोलन अगले कुछ दिनों के लिए बंद रह सकती है। पुलिस और प्रशासन किसानों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। अफ़सरों का कहना है कि धरना स्थल पर वापस लौट जाएं। दूसरी तरफ किसान दिल्ली में घुसकर संसद जाने की ज़िद पर अड़े हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.