June 23, 2024, 7:23 pm

Gurugram crime: पत्नी की साड़ी हुई चोरी, सिक्योरिटी गार्ड ने पड़ोसी को मार दी गोली

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday August 17, 2023

Gurugram crime: पत्नी की साड़ी हुई चोरी, सिक्योरिटी गार्ड ने पड़ोसी को मार दी गोली

Gurugram crime: हरियाणा के गुरुग्राम से मर्डर का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जिसमें साड़ी चोरी का आरोप लगने पर एक सिक्योरिटी गार्ड ने अपने पड़ोसी की गोली मारकर हत्या कर दी. मरने वाला भी पेशे से सिक्योरिटी गार्ड था, जिस पर आरोपी की पत्नी ने साड़ी चुराने का आरोप लगाया था. पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है, फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है. घटना 15 अगस्त की है.

क्या है मामला ?

जानकारी के अनुसार, बिहार का रहने वाला पिंटू कुमार (30) गुरुग्राम के नाथूपुरा गांव में रहता था. जिस बिल्डिंग में पिंटू रह रहा था, उसमें ही अलग कमरा लेकर उत्तर प्रदेश का अजय कुमार (42) भी अपनी पत्नी रीना के साथ रहता था. पिंटू और अजय दोनों ही सिक्योरिटी गार्ड का काम करते थे. घटना वाले दिन (15 अगस्त) अजय कुमार रात 8 बजे ड्यूटी से लौटा. अजय की पत्नी रीना ने उसे बताया कि पड़ोसी पिंटू ने उसकी साड़ी चुरा ली है. पत्नी की शिकायत के बाद अजय, पिंटू से बात करने पहुंचा. बार-बार पूछने पर भी पिंटू साड़ी चुराने के आरोप से इनकार करता रहा. इस बात को लेकर ही कुछ ही देर में दोनों के बीच बहस शुरू हो गई. अजय अपने कमरे में गया और वहां से बंदूक ले आया. उस बंदूक से अजय ने पिंटू के पेट में गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई.

मृतक पिंटू के रूममेट अशोक कुमार ने पुलिस को बताया कि जब अजय अपने कमरे से बंदूक निकालकर लाया तो मैंने उसे रोकने की बहुत कोशिश की. मैंने तुरंत अजय से बंदूक छीन ली. लेकिन उसने बौखलाकर दोबारा मुझसे बंदूक छीन ली और सीधे पिंटू के पेट में फायर कर दिया. गोली लगने के बाद मैं घायल पिंटू को लेकर नजदीकि अस्पताल पहुंचा, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

ये भी पढ़ें-

Noida news: नोएडा की 6 सोसाइटी में स्ट्रक्चरल ऑडिट की तैयारी, जानिए क्यों है जरूरी?

पिंटू की मौत के बाद पुलिस ने अजय को हिरासत में ले लिया और उसके खिलाफ डीएलएफ फेज-3 पुलिस स्टेशन में हत्या का मामला दर्ज कर लिया. आरोपी अजय कुमार से उसकी लाइसेंसी बंदूक भी जब्त कर ली गई है. फिलहाल, अजय से आगे की पूछताछ की जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.