June 15, 2024, 6:25 pm

अगर मिले अवैध हथियार तो खैर नहीं, UP-STF ने शुरू की कार्रवाई

Written By: गली न्यूज

Published On: Sunday June 4, 2023

अगर मिले अवैध हथियार तो खैर नहीं, UP-STF ने शुरू की कार्रवाई

उत्तरप्रदेश में योगी आदित्यनाथ ने पुलिस और STF को आश्वासन दे दिया है की उत्तरप्रदेश में सुव्यस्थित सुशासन स्थापित किया जाये UP-STF भी योगी के निर्देश से सक्रिय हो गई है किसी भी संदिग्ध के ख़िलाफ़ पैनी नज़र से जाँच पड़ताल की जा रही है।(illegal arms)इल्लीगल हथियार रखने वाले सभी अपराधियों पर नकेल कसी जा रही है यूपी STF ने फर्जी  लाइसेंस में सपा विधायक अभय सिंह के साले संदीप सिंह की कुंडली खंगाल रही है। इसमें सामने आया है कि उसने मुख्तार अंसारी गिरोह से मिलकर नागालैंड से 28 लाइसेंस बनवाए थे।यही नहीं उसने फर्जी लाइसेंस पर कई बार असलहे बेचे खरीदे।जिसमें उसके पास से बरामद इंग्लैंड मेड राइफल औऱ इटली की पिस्टल कानपुर के सुदर्शन आर्मरी से खरीदे गए थे।

STF ने गन हाउस से मांगा ब्योरा

सूत्रों के मुताबिक, STF ने विदेशी हथियार बेचने वाले गन हाउस पर अपनी नजर लगा दी है। साथ ही अभी तक की जांच में संदेह के घेरे में आए गन हाउस से विदेशी हथियारों की बिक्री का ब्योरा मांगा है।

कई जिलों में ट्रांसफर हुए थे शस्त्र लाइसेंस

आपको बता दें कि STF की जांच में सामने आया है कि संदीप ने एक ही समय पर नगालैंड से करीब 28 लाइसेंस बनवाए थे। जिन्हें यूपी के कई जिलों में ट्रांसफर कराया था। जिसके बाद STF ने अपनी जाँच की रफ़्तार बढ़ाई लखनऊ, अयोध्या, गाजीपुर, मऊ, जौनपुर  और वाराणसी में नागालैंड के साथ दूसरे प्रदेश से स्थानांतरित हुए लाइसेंस की जांच शुरू कर दी है।

क्या कहा असलहा विभाग से जुड़े कर्मचारियों ने ?

सूत्रों के मुताबिक, असलहा विभाग से जुड़े कर्मचारियों ने फर्जी लाइसेंस के विषय में कई अहम जानकारियां दी है। संदीप गन हाउस से विदेशी असलहे खरीदता और बेचता था। मगर, गन हाउस वालों ने बिना सत्यापन उसे गन बेच दी। संदीप के अयोध्या से बने पिस्टल के लाइसेंस पर सुदर्शन आर्म्स कानपुर से पिस्टल चार दिसम्बर 2018 को और रायफल 24 जुलाई 2004 को खरीदी दी थी। नगालैंड से बने लाइसेंस पर नंदा गन हाउस से 18 फरवरी, 2019 को मेड इन इंग्लैंड राइफल ली थी और पुरानी रायफल अधिकारी गन हाउस में एक मई 2003 को बेची।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.