February 21, 2024, 5:55 pm

Greater Noida West News: इस सोसाइटी में तेज हुआ मंदिर बनाने का संघर्ष, बिल्डर के खिलाफ एकजुट हुए निवासी

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday January 23, 2024

Greater Noida West News: इस सोसाइटी में तेज हुआ मंदिर बनाने का संघर्ष, बिल्डर के खिलाफ एकजुट हुए निवासी

Greater Noida West News: अयोध्या में श्री राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के साथ ही ग्रेनो वेस्ट की पंचशील ग्रीन्स-1 सोसाइटी में मंदिर बनाने के लिए संघर्ष तेज हो गया है। निवासियों का कहना है की देशवासियों के लिए 22 जनवरी को वो शुभ घड़ी आई, जिसका इंतजार हर भारतवंशी सदियों से कर रहा था। जब हम सबके आराध्य भगवान श्रीराम के बालस्वरूप की प्राण प्रतिष्ठा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई। इसी सिलसिले में सोसाइटी में भी मंदिर का निर्माण होना चाहिए, जिसके लिए लंबे समय से संघर्ष हो रहा है। लेकिन इतने प्रयासों के बावजूद भी बिल्डर मंदिर बनने देना नही चाहता है। सोसाइटी के लोगों को अपने आराध्य भगवान श्रीराम के मंदिर के लिए अभी और संघर्ष करना पड़ेगा। सोमवार को सोसाइटी के लोगों द्वारा भगवान की पूजा के लिए पार्किंग में अस्थाई मंदिर में पूजा करना बिल्डर को बेहद नागवार गुजरा। उसी समय से मुद्दा बेहद गरमा गया है।

क्या है पूरा मामला

नोएडा और ग्रेटर नोएडा समेत सभी देशवासियों के लिए 22 जनवरी को वो शुभ घड़ी आई, जिसका इंतजार हर भारतवंशी सदियों से कर रहा था। जब हम सबके आराध्य भगवान श्रीराम के बालस्वरूप की प्राण प्रतिष्ठा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई। जिसके उत्साह में पूरे देश में एक बार फिर दिवाली मनाई गई और लोगों को मंगलकामनाएं दी गईं। किन्तु, उत्तर प्रदेश के शो-विंडो नोएडा की एक सोसाइटी के लोगों को अपने आराध्य भगवान श्रीराम के मंदिर के लिए अभी और संघर्ष करना पड़ेगा। सोमवार को सोसाइटी के लोगों द्वारा भगवान की पूजा के लिए पार्किंग में अस्थाई मंदिर में पूजा करना बिल्डर को बेहद नागवार गुजरा। मामला पंचशील ग्रीन्स-1 सोसाइटी का है।

Advertisement
Advertisement

सोसाइटी निवासियों ने किया पूजन

एक तरफ पूरा भारतवर्ष श्रीराम विग्रह की प्राण-प्रतिष्ठा में हर्षोल्लास एवं समरसता से व्यस्त था, वहीं ग्रेटर नोएडा वेस्ट की एक सोसाइटी पंचशील ग्रीन्स-1 के निवासी बिल्डर के दबाव से लड़ते हुए मंदिर निर्माण का प्रयास कर रहे थे। आखिर, लगभग 5000 निवासियों ने बिल्डर के तमाम विरोध के बावजूद सोसाइटी में मंदिर स्थापना के लिये भूमि पूजन कर दिया। सोसायटी में इस ऐतिहासिक काम से संपूर्ण सोसाइटी राममय हो गई। निवासियों ने कीर्तन भजन गायन, सुंदरकाण्ड पाठ एवं मंत्रोच्चारण के साथ हवन करके भगवान का स्वागत किया एवं एक दिव्य मंदिर बनाने का संकल्प लिया। अब सोसायटी में जल्द ही एक भव्य मंदिर के निर्माण का इंतजार है। बता दें कि पंचशील ग्रीन्स-1 के निवासी लंबे समय से सोसायटी में मंदिर निर्माण के लिए प्रयासरत हैं।

मंदिर को दी पार्किंग की जगह

सोसाइटी के निवासियों का कहना है कि यहां के निवासी काफी लंबे समय से मंदिर की मांग करते आ रहे हैं। क्योंकि पूरी पंचशील ग्रीन्स-1 सोसाइटी में कोई आस्था का केंद्र नहीं है। इसलिए निवासी यहां एक मंदिर निर्माण के लिए प्रयासरत हैं। बता दें कि सोसाइटी में 2200 फ्लैट हैं। जिनमें रहने वाले 1700 लोगों ने ल‍िखकर दे द‍िया क‍ि हम मंद‍िर चाहते हैं। यहां के लोगों का कहना है कि यहां के रजिडेंट्स अपनी पार्किंग की जगह में भी मंदिर बनवाने को तैयार हैं। लोग अपनी पार्क‍िंग को ल‍िख‍ित में मंद‍िर के नाम कर चुके हैं, लेकिन बिल्डर को फिर भी दिक्कत है। लोगों ने बताया कि मंदिर निर्माण को लेकर पहले भी तीन बार हंगामा हो चुका है।

बीजेपी नेता है बिल्डर

ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित पंचशील ग्रीन्स-1 सोसाइटी के लोगों का कहना है कि बिल्डर सोसाइटी में मंदिर नहीं बनने दे रहा है। वह बीजेपी नेता जिला पंचायत अध्यक्ष अमित चौधरी का भाई है। निवासियों का यह भी आरोप है कि बिल्डर अनुज चौधरी भी बीजेपी से जुड़ा हुआ है, इसलिए पुलिस भी उसके दबाव में है।

यह भी पढ़ें…

Ayodhya Ram Mandir: अयोध्या जाने के लिए बड़ा ऑफर, केवल 1622 रुपये में फ्लाइट का टिकट

सांसद ने भी दिया आश्वासन

सोसाइटी के निवासियों ने बताया कि यहां के लोग मंदिर निर्माण के लिए प्राधिकरण अधिकारियों से लेकर सांसद तक को मामले से अवगत करा चुके हैं, फिर भी आश्वासन के अलावा कोई हल नहीं निकल सका है। लोगों ने बताया कि करीब एक महीने पहले गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ. महेश शर्मा भी होने वाले आम चुनावों के मद्देनजर सोसाइटी में पहुंचे थे। उन्होंने सोसाइटी के लोगों को आश्वस्त भी किया था कि मंदिर निर्माण में वे उनके साथ हैं। लोगों का कहना है कि इसके अलावा उन्होंने मंदिर निर्माण के लिए आर्थिक मदद का भी आश्वासन दिया था। लेकिन, फिर भी कोई मांग पर कोई सुनवाई नहीं हुई।

बता दें कि पिछले साल भी लोगों ने श्रीराम भक्त हनुमान की मूर्ति यहां पूजन के लिए स्थापित की थी। किन्तु, उसे भी बिल्डर ने हटवाया दिया था। जिसके बाद सोसाइटी में जमकर हंगामा हुआ था। कई दिनों तक सोसाइटी में पुलिस तैनात थी। अब एक बार फिर सोसाइटी में मंदिर निर्माण का मुद्दा गरमाता जा रहा है। जबकि इस संबंध में बिल्डर का कहना है कि सोसाइटी के नक्शे में कहीं भी मंदिर के लिए जगह आरक्षित नहीं है। नियम के अनुसार, सोसाइटी में मंदिर निर्माण नहीं हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.