February 21, 2024, 5:33 pm

Greater Noida News: नोएडा एयरपोर्ट से दिल्ली एयरपोर्ट तक पहुंचने में लगेंगे सिर्फ 80 मिनट, तैयार होगी रैपिड रेल परियोजना की DPR

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday January 24, 2024

Greater Noida News: नोएडा एयरपोर्ट से दिल्ली एयरपोर्ट तक पहुंचने में लगेंगे सिर्फ 80 मिनट, तैयार होगी रैपिड रेल परियोजना की DPR

Greater Noida News: दिल्ली और नोएडा वासियों के लिए यातायात से जुड़ी बड़ी खुशखबरी है। नोएडा एयरपोर्ट से दिल्ली एयरपोर्ट जाने में सिर्फ 80 मिनट का समय लगेगा। इसके लिए जल्द ही गाजियाबाद से ग्रेटर नोएडा होकर नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को जोड़ने के लिए रैपिड रेल का संचालन होगा। एनसीआरटीसी (NCRTC) को इसकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई है। यह कार्य करीब छह माह में पूरा होगा। यमुना अथॉरिटी ने डीपीआर तैयार करने के लिए 6.39 करोड़ रुपये धनराशि जारी कर दी है।

क्या है पूरा मामला

खबर के अनुसार ग्रेटर नोएडा में गाजियाबाद से ग्रेटर नोएडा होकर नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Noida International Airport) को जोड़ने के लिए रैपिड रेल का संचालन होगा। एनसीआरटीसी (NCRTC) को इसकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई है। यह कार्य करीब छह माह में पूरा होगा। यमुना प्राधिकरण  ने डीपीआर तैयार करने के लिए 6.39 करोड़ रुपये धनराशि जारी कर दी है।

Advertisement
Advertisement

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट को रैपिड रेल कनेक्टिविटी  के लिए एनसीआरटीसी से व्यावहारिकता रिपोर्ट तैयार कराई गई थी। एनसीआरटीसी ने अपनी रिपोर्ट में गाजियाबाद (आरआरटीएस कॉरिडोर) से ग्रेटर नोएडा वेस्ट, सूरजपुर कासना रोड, होते हुए नोएडा एयरपोर्ट तक रैपिड रेल संचालन का सुझाव दिया था। इस कॉरिडोर को दो चरण में बनाने का सुझाव है। पहले चरण में गाजियाबाद से ईकोटेक छह तक व दूसरे चरण में ईकोटेक छह से एयरपोर्ट तक दूसरे चरण में इसे बनाने की योजना है। इस कॉरिडोर 12 स्टेशन होंगे। इस पर रैपिड रेल के साथ मेट्रो का भी संचालन हो सकेगा। मिट्टी की जांच शुरू हो चुकी है।

80 मिनट में दिल्ली से पहुंचेंग नोएडा एयरपोर्ट

नेशनल कैपिटल रीजन ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एनसीआरटीसी) परियोजना रिपोर्ट तैयार करेगा। इस कॉरिडोर के जरिए आईजीआई एयरपोर्ट से नोएडा एयरपोर्ट तक 80 मिनट व गाजियाबाद से 50 मिनट में पहुंचा जा सकेगा। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से अक्टूबर 2024 में यात्री सेवाओं की शुरुआत हो जाएगी। एयरपोर्ट की कनेक्टिविटी की योजनाओं का खाका तैयार किया जा रहा है। मेरठ, मोदीनगर, गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा वेस्ट से नोएडा एयरपोर्ट से तीव्र गति से जुड़ने के लिए आरआरटीएस (रैपिड रेल ट्रांजिट सिस्टम) परियोजना की तैयार की जा रही है।

यह कॉरिडोर नोएडा एयरपोर्ट को दिल्ली व आईजीआई एयरपोर्ट से कनेक्टिविटी देगा। सराय काले खां रेलवे स्टेशन से 70 मिनट में और मेरठ से 85 मिनट में यात्री नोएडा एयरपोर्ट पहुंच सकेंगे। कॉरिडोर की लंबाई 72.2 किमी होगी, इसमें 25 स्टेशन होंगे। ब्लू लाइन व एक्वा लाइन मेट्रो को भी इससे जोड़ा जाएगा। आरआरटीएस और मेट्रो को समान ढांचे पर संचालित करने के लिए 14 मेट्रो स्टेशन जोड़े जा सकेंगे।

यह भी पढ़ें…

Delhi Dog Attack: पालतू कुत्ते ने 2 साल के मासूम पर किया हमला, बचाने में गिर पड़ी मां

2031 तक तैयार होगा पहला चरण

कॉरिडोर का निर्माण दो चरणों में होगा। पहले चरण में गाजियाबाद से ईकोटेक 6 के बीच 37.15 किमी का कॉरिडोर 2031 तक बनकर तैयार होगा। दूसरा चरण ईकोटेक 6 से नोएडा एयरपोर्ट तक 35.11 किमी का कॉरिडोर बनेगा। यह 2041 तक पूरा होगा। रूट पर गाजियाबाद आरआरटीएस, गाजियाबाद साउथ, ग्रेटर नोएडा वेस्ट (सेक्टर 4), ग्रेटर नोएडा (सेक्टर 2), नालेज पार्क 5, सूरजपुर, परी चौक, इकोटेक-5, दनकौर, यीडा नार्थ (सेक्टर-18), यीडा सेंट्रल (सेक्टर-21, 35) और नोएडा एयरपोर्ट स्टेशन होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.