February 21, 2024, 4:47 pm

Ghaziabad News: संपत्तिकर बकायदारों पर सख्ती, 146 दिन में 7 परिसर सील

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday January 18, 2024

Ghaziabad News: संपत्तिकर बकायदारों पर सख्ती, 146 दिन में 7 परिसर सील

Ghaziabad News: गाजियाबाद से संपत्तिकर बकायदारों से जुड़ी बड़ी खबर है। संपत्तिकर बढ़ाने पर उपजे विवाद के बीच नगर निगम ने बकायेदारों पर तेजी से शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पिछले सात दिनों में निगम ने 146 परिसर सील कर दिए हैं। कविनगर और सिटी जोन में सबसे ज्यादा सीलिंग की कार्रवाई हुई है। इन दोनों जोन में ही 76 संपत्तियों को सील किया गया है। नगर निगम की तरफ से तीन हजार बड़े बकायेदारों की सूची तैयार की गई है, जिनसे बकाया वसूली के लिए इस माह बड़े स्तर पर अभियान चलाने के निर्देश अधिकारियों ने दिए हैं।

क्या है पूरा मामला

जानकारी के अनुसार गाजियाबाद में संपत्तिकर बढ़ाने पर उपजे विवाद के बीच नगर निगम ने बकायेदारों पर तेजी से शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। पिछले सात दिनों में निगम ने 146 परिसर सील कर दिए हैं। कविनगर और सिटी जोन में सबसे ज्यादा सीलिंग की कार्रवाई हुई है। इन दोनों जोन में ही 76 संपत्तियों को सील किया गया है। नगर निगम की तरफ से तीन हजार बड़े बकायेदारों की सूची तैयार की गई है, जिनसे बकाया वसूली के लिए इस माह बड़े स्तर पर अभियान चलाने के निर्देश अधिकारियों ने दिए हैं।

Advertisement
Advertisement

नगर निगम दिसंबर से अब तक 209 संपत्तियां सील कर चुका है। हालाकि, बकाया धनराशि का भुगतान होने के बाद 150 से अधिक परिसरों से सीलिंग हटाई भी जा चुकी है। गाजियाबाद के पांचों जोन में नगर निगम की 4.52 लाख संपत्तियां हैं। एक लाख से अधिक संपत्तिकर बकायेदारों से 313 करोड़ रुपये वसूलने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। निगम 185 करोड़ रुपये से अधिक बकाया वसूल चुका है। 31 मार्च तक 127 करोड़ रुपये वसूले जाने हैं।

निगम के मुख्य कर निर्धारण अधिकारी डॉ. संजीव सिन्हा ने बताया कि 10 से 16 जनवरी तक वसुंधरा जोन के इंदिरापुरम, वैशाली, कौशांबी, साइट-4, शक्तिखंड में 17 संपत्तियां सील कर 1.38 करोड़ रुपये, मोहननगर जोन के पसौंडा, गगन विहार, राजीवनगर, भोपुरा, शालीमार, लाजपतनगर में 25 संपत्तियां सील कर 34 लाख रुपये, कविनगर जोन के शास्त्रीनगर, कविनगर वार्ड-91, आरडीसी राजनगर व गोविंदपुरम में 30 संपत्तियां सील कर 49 लाख रुपये, सिटी जोन के वार्ड-19, मुकंदनगर, मालीवाड़ा, प्राणगढ़ी, लोहियानगर, कैला भट्ठा, सेवानगर हिंडन में 46 संपत्तियां सील कर 23 लाख रुपये और विजयनगर जोन के वार्ड 27, वार्ड 2, के-6, सेक्टर-9, माता कॉलानी, सर्वोदयनगर, राहुल विहार और प्रताप विहार में 28 संपत्तियां सील कर 10 लाख रुपये से अधिक बकाया वसूला गया है। निगम अधिकारियों ने बताया कि 31 जनवरी तक पांच प्रतिशत छूट के साथ संपत्तिकर जमा कराया जा सकता है। इसके बाद कोई छूट नहीं दी जाएगी।

यह भी पढ़ें…

Noida News: इस सोसाइटी में फिर से अटकी लिफ्ट, 40 मिनट तक बेहोसी की हालत में फंसी रही महिला

संपत्तिकर बढ़ाने पर जताया विरोध

पूर्व पार्षद जाकिर अली सैफी ने संपत्तिकर बढ़ोतरी का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि सदन से अस्वीकार प्रस्ताव को दरकिनार कर अपनी इच्छानुसार नियमों के विरुद्ध संपत्तिकर बढ़ाया गया है। यह पिछले सदन का अपमान है। यदि नगर आयुक्त को डीएम सर्किल रेट के हिसाब से कर बढ़ाना है तो प्रस्ताव को सदन के समक्ष रखें। सदस्य ही जनहित में फैसला करेंगे। व्यवसाय में काफी मंदी है। ऐसे में जनता पर कर का बोझ न बढ़ाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.