February 6, 2023, 5:01 am

Ghaziabad crime: कहीं आपके बच्चे भी तो नहीं खेलते ऑनलाइन गेम, इस बच्चे के चक्कर में इसके पिता ने गंवाए करीब 3 लाख रुपये

Written By: गली न्यूज

Published On: Saturday January 21, 2023

Ghaziabad crime: कहीं आपके बच्चे भी तो नहीं खेलते ऑनलाइन गेम, इस बच्चे के चक्कर में इसके पिता ने गंवाए करीब 3 लाख रुपये

Ghaziabad crime: आजकल बच्चे आउटडोर गेम खेलने के बजाय घरों में रहकर मोबाइल में ऑनलाइन गेम खेलना पसंद करते है. लेकिन कभी-कभी बच्चों के इस ऑनलाइन गेम के चक्कर में परिवार वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद (Ghaziabad) से सामने आया है. यहां ऑनलाइन गेम के चक्कर में एक परिवार को लाखों रुपए की चपत लग गई. घटना शुक्रवार की है.

जी हां, पीड़ित ने गाजियाबाद पुलिस (Ghaziabad Police) और साइबर सेल से शिकायत की है. पीड़ित परिवार ने साइबर पुलिस से मदद की गुहार लगाई है. यह ठगी बच्चे की बैटल गेम की लत के चक्कर में हुई है. साइबर ठग ने बच्चे से डेबिट कार्ड की जानकारी साझा करने को कहा, जिसके बदले वो कम पैसों में उसको बेहतर बंदूक देगा.

क्या है मामला ?

दरअसल, गाजियाबाद के नंदग्राम थाना इलाके में एक व्यक्ति अपने परिवार के साथ रहता है. बीते दिनों व्यक्ति का बेटा ऑनलाइन बैटल गेम खेल रहा था। उसी दौरान एक साइबर ठग ने गेम के जरिए बच्चे से चैटिंग की. चैटिंग के दौरान बच्चे को सस्ती कीमत में बैटल गेम के लिए गन देने का लालच दिया. साइबर ठग ने बच्चे से कहा कि वह डेबिट कार्ड की जानकारी साझा करें और काफी कम पैसों में उसको बेहतर बंदूक मिल जाएगी.

पीड़ित के मुताबिक उसके बच्चे ने साइबर ठग को अपने पिता के डेबिट कार्ड की सारी जानकारी साझा कर दी. जिसके बाद आरोपी ने 2.8 लाख रुपए अकाउंट से निकाल लिए, जब अकाउंट से पैसे कटने का मैसेज पिता ने देखा तो ठगी का अहसास हुआ. जिसके बाद पीड़ित ने इस मामले की शिकायत पुलिस से की है. पुलिस मामले की कार्रवाई कर रही है.

ये भी पढ़ें-

Delhi medical colleges: दिल्ली के मेडिकल कॉलेजों में शुरू होंगे नए कोर्स, मनीष सिसोदिया ने बताई वजह

 

बता दें कि, आजकल बच्चों को ऑनलाइन गेम खेलने की लत लग जाती है.  जिसकी वजह से परिवार को बड़ा हर्जाना चुकाना पड़ता है. गाजियाबाद और नोएडा में यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी काफी ऐसे मामले सामने आए हैं. साइबर ठग बड़े लोगों के साथ बच्चों को भी अपना निशाना बनाते हैं. ऐसे में जरूरी है कि परिजनों के साथ स्कूल में भी साइबर क्राइम के बारे में लोगों को जागरूक किया जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.