February 6, 2023, 5:59 am

US President Joe Biden: जो बाइडेन के घर पर FBI का छापा, 13 घंटों की तलाशी, खुले कई राज!

Written By: गली न्यूज

Published On: Sunday January 22, 2023

US President Joe Biden: जो बाइडेन के घर पर FBI का छापा, 13 घंटों की तलाशी, खुले कई राज!

US President Joe Biden: अमेरिका के संघीय जांच ब्यूरो (US Federal Bureau of Investigation) ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden)  के विलमिंग्टन (Wilmington) स्थित घर की करीब 13 घंटों तक तलाशी ली. छापेमारी में बाइडेन के घर से 6 गोपनीय दस्तावेज बरामद किए गए हैं. FBI ने जो बाइडेन के कुछ हाथ से लिखे नोट भी अपने कब्जे में लिए हैं. राष्ट्रपति के वकील बॉब बाउर ने बताया कि बाइडेन ने एफबीआई को अपने घर की तलाशी लेने कीअनुमति दी, लेकिन तलाशी वारंट नहीं होने के बावजूद यह घटना असाधारण है. शुक्रवार को बाइडन के घर की तलाशी ली गई.

राष्ट्रपति के वकील बॉब बाउर ने कहा कि FBI ने अपनी जांच के दायरे में मानी जा सकने वाली सामग्री को कब्जे में ले लिया, जिनमें गोपनीय दस्तावेज के तौर पर चिह्नित दस्तावेज और अन्य सामग्री शामिल हैं. इनमें से कुछ सामग्री राष्ट्रपति (बाइडन) की सीनेट सदस्य और उपराष्ट्रपति के तौर पर सेवाओं के समय की हैं. साथ ही अभियोजकों ने उपराष्ट्रपति के तौर पर बाइडन के कार्यकाल के दौरान उनके व्यक्तिगत रूप से हस्तलिखित नोट भी आगे की समीक्षा के लिए अपने कब्जे में ले लिए हैं.

लाइब्रेरी में मिले थे दस्तावेज

जो बाइडेन के वकीलों को लगभग एक हफ्ते पहले उनके घर की लाइब्रेरी में 6 गोपनीय दस्तावेज मिले थे. ये दस्तावेज उनके उपराष्ट्रपति कार्यकाल के समय से जुड़े थे. दस्तावेजों की खोज अमेरिका में एक राजनीतिक मुद्दा बन गया था. क्योंकि राष्ट्रपति पद से हटने के बाद डोनाल्ड ट्रंप के घर पर भी छापेमारी की गई थी और गोपनीय दस्तावेज जब्त किए गए थे. बाइडेन के लिए ये दस्तावेज सिरदर्द बन गए थे और ट्रंप से जुड़ी जांच को मुश्किल बना दिया था. इसे देखते हुए FBI ने तलाशी की है.

क्या कहा बाइडेन ने

बाइडेन ने कहा कि हमें कई दस्वावेज गलत जगहों पर मिले हैं. हमने तुरंत इन्हें आर्काइव और जस्टिस डिपार्टमेंट को सौंप दिया है. वह पूरी तरह से सहयोग कर रहे हैं और इस मामले का जल्द ही हल निकालना चाहते हैं. जिस दौरान घर की तलाशी ली गई तब राष्ट्रपति बाइडेन और उनकी पत्नी घर पर नहीं थे. अभी ये नहीं पता चला है कि क्या FBI बाकी जगहों पर सर्च करेगी या नहीं.

बाइडेन की मुश्किलें बढ़ी?

इन दस्तावेजों का मिलना बाइडेन के लिए ऐसे समय में राजनीतिक जवाबदेही बन गया है, जब वह फिर से चुनाव लड़ने के लिए अपनी दावेदारी पेश करने की तैयारी कर रहे हैं. यह घटना पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उतार-चढ़ाव भरे कार्यकाल के बाद अपने कार्यकाल को अमेरिकी जनता के सामने बेहतर दिखाने की बाइडेन की कोशिश को नुकसान पहुंचा सकती है.

1973 से 2009 तक सीनेटर रहे बाइडेन

आम तौर पर गोपनीय दस्तावेजों को अधिकतम 25 सालों के बाद सार्वजनिक किया जाता है, लेकिन कुछ रिकॉर्ड को अपेक्षाकृत अधिक समय तक गोपनीय रखा जाता है. बाइडेन ने 1973 से 2009 तक सीनेटर के तौर पर सेवाएं दी थीं. बाइडेन ने गुरुवार को कहा कि हमने पाया कि बड़ी संख्या में दस्तावेज गलत जगह पर हैं, तो हमने उन्हें तत्काल न्याय मंत्रालय को सौंप दिया. जब बाइडेन के घर की तलाशी ली गई, तो उस समय वह वहां नहीं थे. वह डेलावेयर के रेहोबोथ बीच स्थित अपने घर पर गए थे.

ये भी पढ़ें-

Noida crime: नोएडा के इस रेस्टोरेंट में तोड़फोड़, स्टंटबाजों ने भाई-बहन को पीटा, वीडियो आया सामने

अभी यह देखना बाकी है कि क्या अन्य स्थानों पर संघीय अधिकारी और तलाशी लेंगे या नहीं. बाइडेन के निजी वकीलों ने पहले रेहोबोथ बीच घर की तलाशी ली थी और कहा था कि उन्हें कोई आधिकारिक दस्तावेज या गोपनीय रिकॉर्ड नहीं मिला. इस मामले ने ट्रंप द्वारा राष्ट्रपति पद छोड़ने के बाद गोपनीय दस्तावेज और आधिकारिक रिकॉर्ड अपने पास रखे जाने संबंधी न्याय विभाग की जांच को जटिल बना दिया है. न्याय विभाग का कहना है कि ट्रंप 2021 की शुरुआत में व्हाइट हाउस छोड़ने के बाद गोपनीय के तौर पर चिह्नित सैकड़ों रिकॉर्ड अपने साथ ले गए थे और उन्होंने सरकार के अनुरोध के बावजूद महीनों तक उन्हें नहीं लौटाया, जिसके बाद उन्हें दोबारा आधिकारिक दस्तावेज पाने के लिए एजेंसी को तलाशी वारंट के तहत कार्रवाई करनी पड़ी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.