February 21, 2024, 6:01 pm

Delhi Security Alert: लोकसभा चुनाव से पहले फिर से दहल सकती है दिल्ली, हो सकते हैं दंगे…पुलिस हुई अलर्ट

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday February 7, 2024

Delhi Security Alert: लोकसभा चुनाव से पहले फिर से दहल सकती है दिल्ली, हो सकते हैं दंगे…पुलिस हुई अलर्ट

Delhi Security Alert: आगामी लोकसभा चुनावों की पूरे देश में जोर शोर से तैयारियां चल रही हैं। लेकिन ऐसे माहौल में राजधानी दिल्ली से एक ऐसी खबर आई है, जो आपके होश उड़ा देगी। बताया जा रहा है की लोकसभा चुनावों के पहले दिल्ली का माहौल बिगड़ सकता है और खून खराबा और सांप्रदायिक दंगा भड़काने वाला गैंग एक्टिव हो गया है। ये खबर मिलते ही दिल्ली पुलिस की सभी टीमें बेहद अलर्ट हो गई हैं। स्पेशल ब्रांच के निर्देश में कहा गया कि सभी थाने सीएए/एनआरसी विरोधी आंदोलन और 2020 के दिल्ली दंगे में शामिल उपद्रवियों पर कड़ी नजर रखें।

क्या है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक (Delhi Security Alert) लोकसभा चुनाव 2024 से पहले देश की राजधानी दिल्ली में सांप्रदायिक माहौल बिगड़ने की आशंका है। ऐसे में संवेदनशील इलाकों में सांप्रदायिक तौर पर शांति बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस की स्पेशल ब्रांच ने सभी पुलिस स्टेशनों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। स्पेशल ब्रांच के निर्देश में कहा गया कि सभी थाने सीएए/एनआरसी विरोधी आंदोलन और 2020 के दिल्ली दंगे में शामिल उपद्रवियों पर कड़ी नजर रखें।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने हालिया घटनाक्रम जैसे अयोध्या राम मंदिर में प्रतिष्ठा, ज्ञानवापी तहखाने में प्रार्थना के आदेश और विभिन्न विध्वंस के मद्देनजर पुलिस स्टेशनों को एक एडवाइजरी जारी की है। घटनाओं से बचने के लिए कुछ विशेष कदम उठाने की सलाह दी गई। स्पेशल यूनिट के निर्देश में कहा गया कि कुछ तत्व माहौल बिगाड़ने की कोशिश कर सकते हैं।

पुराने अपराधियों तैयार हो रहा रिकॉर्ड

दिल्ली पुलिस की इस विशेष इकाई की एडवाइजरी में कहा गया कि पुलिस अधिकारी ऐसे लोगों की सूची बनाएं जो पहले से ही सांप्रदायिक माहौल खराब करने में शामिल रहे हैं। वहीं नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वे शहर में शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने पर लगातार नजर रख रहे हैं। यह भी बताया गया कि सीएए/एनआरसी से जुड़े विरोध प्रदर्शन, शाहीन बाग धरना और किसानों के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने वाले लोगों की सूची तैयार की जा रही है। सूची में पहले से ज्ञात समूहों के सदस्यों का भी उल्लेख करने को कहा गया है। यदि कुछ पुलिस जिलों या इकाइयों के पास पहले से ही ऐसे लोगों की सूची है, तो उन्हें इसे अपडेट करने के निर्देश मिले हैं।

यह भी पढ़ें…

Harda Factory Blast: हरदा का दौरा करेंगे सीएम मोहन यादव, ले सकते हैं बड़ा फैसला…ये अधिकारी हो सकते हैं बर्खास्त

दिल्ली दंगों में शामिल लोगों पर रखी जा रही है नजर

अधिकारी के मुताबिक, उत्तर-पूर्वी जिला पुलिस के पास लगभग 100 उपद्रवियों की सूची है जो अक्सर सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील मुद्दों या विरोध प्रदर्शनों में शामिल होते हैं। उत्तर-पूर्वी जिला पुलिस अधिकारियों को सूची को अद्यतन करने और फरवरी 2020 में सांप्रदायिक दंगों से कुछ दिन पहले जाफराबाद, सीलमपुर और यमुना विहार क्षेत्रों में विरोध प्रदर्शन में भाग लेने वाले लोगों को शामिल करने के लिए कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.