February 21, 2024, 6:22 pm

Delhi News: मांगे नहीं हुईं पूरी तो करेंगे हड़ताल, सफाई कर्मचारियों ने दी चेतावनी

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday January 11, 2024

Delhi News:  मांगे नहीं हुईं पूरी तो करेंगे हड़ताल, सफाई कर्मचारियों ने दी चेतावनी

Delhi News: राजधानी दिल्ली में सफाई कर्मचारियों ने बड़ी चेतावनी दे डाली है। कर्मचारियों का कहना है अगर मांगे पूरी नहीं हुईं तो हड़ताल की जाएगी। आक्रोशित कर्मचारियों ने निगम आयुक्त और मेयर को हफ्ते भर का समय देते हुए कहा कि यदि इनकी मांगे नहीं मानी गईं तो वह 27 फरवरी से काम बंद कर हड़ताल करेंगे। 1998 से सफाई कर्मियों की भर्ती नहीं हुई। कॉलोनियों की संख्या और दिल्ली की आबादी कई गुना बढ़ गई। यदि हफ्ते भर में इनकी मांगों पर कोई ठोस निर्णय नहीं हुआ तो दिल्ली में कूड़ा नहीं उठेगा।

क्या है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक सफाई कर्मचारियों ने नियमितीकरण समेत अन्य मांगों को लेकर सिविक सेंटर पर एक दिवसीय धरना दिया। आक्रोशित कर्मचारियों ने निगम आयुक्त और मेयर को हफ्ते भर का समय देते हुए कहा कि यदि इनकी मांगे नहीं मानी गईं तो वह 27 फरवरी से काम बंद कर हड़ताल करेंगे। धरने में निगम के 12 जोनों से हजारों सफाई कर्मचारी व निगम में नेता विपक्ष पूर्व मेयर राजा इकबाल सिंह भाजपा पार्षदों के साथ उपस्थित रहे। वहीं, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अरविन्दर सिंह लवली ने भी कांग्रेस पार्षदों और कार्यकर्ताओं के साथ हिस्सा लिया।

Advertisement
Advertisement

सफाई कर्मचारियों ने कहा, पिछले करीब 28 साल से ठेके पर काम कर रहे सफाई कर्मियों को नियमित किया जाए। 2003-04 में नियमित कर्मियों के एरियर का एकमुश्त भुगतान हो। इन्हें मेडिकल कैशलैस कार्ड की सुविधा मिले। सफाई कर्मियों की भर्ती हो। दिल्ली नगर निगम सफाई कर्मचारी कोर कमेटी के चेयरमैन राजकुमार धींगान ने कहा कि निगम में करीब 83 हजार सफाई कर्मी हैं, इनमें से करीब 50 हजार कर्मी नियमित होने हैं। 1998 से सफाई कर्मियों की भर्ती नहीं हुई। कॉलोनियों की संख्या और दिल्ली की आबादी कई गुना बढ़ गई। यदि हफ्ते भर में इनकी मांगों पर कोई ठोस वीजेनिर्णय नहीं हुआ तो दिल्ली में कूड़ा नहीं उठेगा।

डिप्टी चेयरमैन रणवीर सिंह चावरिया ने कहा, सफाई कर्मियों के लिए ग्लब्स, जूते और मास्क नहीं हैं। औजार और वर्दी का फंड पता नहीं कहां जा रहा। 2017 से वर्दी का पैसा नहीं मिला। तनूजा कल्याणी ने कहा, स्वास्थ्य विभाग में 1988 में लगे अस्थायी सफाई कर्मियों को नियमित नहीं किया। सूबे सिंह ने कहा सामुदायिक सेवा विभाग में सफाई कर्मियों ने 500-500 रुपये चंदा लगाकर लैपटॉप और प्रिंटर खरीदे हैं। निगम से इन्हें कोई सुविधा नहीं मिल रही।

यह भी पढ़ें…

Greater Noida News: नोएडा के जटायु की प्रतिमा अयोध्या के राम मंदिर में होगी स्थापित, बनाने वाले रामसुतार को भी मिला निमंत्रण

आप सरकार कर्मचारी विरोधी-इकबाल सिंह

निगम में नेता विपक्ष व पूर्व मेयर राजा इकबाल सिंह ने कहा, एक तरफ मेयर दिल्ली में साफ सफाई का जायजा लेने के लिए दौरे कर रहीं, दूसरी तरफ निगम के सफाई कर्मचारी अपने शोषण के खिलाफ आवाज उठाते हुए धरना दे रहे हैं। शुरू से ही आप सरकार की कार्यप्रणाली कर्मचारी विरोधी रही है। आप पार्टी पिछले दरवाजे से निगम में ठेकेदारी प्रथा को लाकर अपने चहेते ठेकेदारों को अनुचित लाभ दिलाना चाह रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.