February 25, 2024, 6:56 am

Delhi News: अंगीठी बनी जानलेवा, मां बेटे की मौत और तीन की हालत गंभीर

Written By: गली न्यूज

Published On: Monday January 29, 2024

Delhi News: अंगीठी बनी जानलेवा, मां बेटे की मौत और तीन की हालत गंभीर

Delhi News: दिल्ली एनसीआर के पूरे इलाके में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। जनवरी बीतने को है लेकिन ठंड का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में ज्यादातर लोग ठंड से बचने के लिए हीटर या अंगीठी का सहारा लेते हैं, जिससे निकलने वाली जहरीली गैस कई बार लोगों की मौत का कारण बन जाती है। ऐसा ही एक मामला राजधानी दिल्ली से सामने आया है, जिसमे अंगीठी से निकलने वाले धुएं से एक परिवार के दो लोगों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य सदस्यों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

क्या है पूरा मामला

खबर के अनुसार दक्षिण दिल्ली के मैदानगढ़ी थाना क्षेत्र में दम घुटने से महिला व दो साल के बेटे की मौत हो गई। परिवार के तीन सदस्य अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। पीड़ित परिवार शनिवार रात को अंगीठी जलाकर सोया था। सुबह पांचों सदस्य बेहोशी की हालत में मिले। पड़ोसियों की सूचना पर सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस की शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि कमरे से धुआं बाहर निकलने की कोई जगह नहीं थी। ऐसे में जहरीली गैस से सभी बेहोश हो गए।

Advertisement
Advertisement

दक्षिण जिला पुलिस उपायुक्त अंकित चौहान ने बताया कि सफदरजंग अस्पताल से रविवार सुबह 6:16 बजे मैदान गाड़ी थाना पुलिस को सूचना मिली कि दिनेश की पत्नी अंजलि (33) व बेटे शंभू को अस्पताल में मृत हालत में भर्ती कराया गया है। पूछताछ करने पर पता चला कि मूलरूप से मथुरा के नौहझील थाना क्षेत्र में लालपुर गांव निवासी दिनेश दस साल से असोला में किराये पर रह रहा है। बेटा दिव्यांश (6), बेटी देवांशी (4) और दिनेश अस्पताल में भर्ती हैं। दिनेश असोला के फार्म हाउस में माली है। दिनेश के भतीजे रवि ने बताया कि रविवार सुबह परिवार को जानकारी हुई कि चाचा व बच्चों की तबीयत खराब है और सभी सफदरजंग अस्पताल में भर्ती हैं। देर शाम दोनों शव लालपुर गांव आए तो मातम पसर गया। गमगीन माहौल में दाह संस्कार किया गया।दिनेश अस्पताल में उपचाराधीन होने के कारण शवों के साथ गांव नहीं आ सका। दिनेश के भाई के आठ साल के बेटे यश ने मुखाग्नि दी। दिनेश अंतिम बार पत्नी व बेटे का चेहरा भी नहीं देख सका।

यह भी पढ़ें…

Lok Sabha Election 2024: चुनाव सह प्रभारी बने सुरेंद्र नागर, गुर्जर बाहुल्य इलाकों में बीजेपी के लिए ऐसे करेंगे काम

Leave a Reply

Your email address will not be published.