May 19, 2024, 1:10 pm

Ace City Society News: इस सोसाइटी में सैकड़ों लोग हुए डायरिया के शिकार, अस्पताल जा रहे निवासी

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday May 15, 2024

Ace City Society News: इस सोसाइटी में सैकड़ों लोग हुए डायरिया के शिकार, अस्पताल जा रहे निवासी

Ace City Society News: ऐस सिटी हाउसिंग सोसाइटी में डायरिया का प्रकोप बढ़ गया है। यहां पर पिछले कुछ दिनों से लगभग 200 लोग बीमार पड़े हैं। लोगों को पेट में दर्द, उल्टी और दस्त जैसी समस्या पैदा हो रही है। जिसकी वजह से अस्पताल में इलाज के लिए लोगों की लंबी लाइन लग रही है।

क्या है पूरा मामला

बतादें, ग्रेटर नोएडा के सेक्टर वन में स्थित ऐस सिटी (Ace City Society News) हाउसिंग सोसाइटी में डायरिया का प्रकोप बढ़ गया है। पिछले कुछ दिनों के दौरान करीब 200 से ज्यादा लोग डायरिया के शिकार हुए हैं। लोगों को पेट में दर्द, उल्टी और दस्त जैसी समस्या पैदा हो रही है। सभी वर्ग के लोग इससे परेशान हैं। जिसकी वजह से अस्पतालों में निवासियों की लंबी लाइन लग गई है। निवासियों का आरोप है कि पानी की समस्या की वजह से ऐसा हो रहा है। पिछले दिनों पानी की आपूर्ति प्रभावित होने की वजह से ऐसी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

अस्पताल पहुंच रहे लोग

ऐस सिटी हाउसिंग सोसायटी के निवासियों का कहना है कि करीब 2000 परिवार हाउसिंग सोसाइटी में रहते हैं। इनमें से करीब 200 लोग डायरिया से प्रभावित है। बच्चे और बुजुर्ग सभी लोग परेशान हैं। धीरे-धीरे ऐसे मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। निवासियों को कहना है कि पिछले दिनों हाउसिंग सोसायटी के भीतर पानी की आपूर्ति प्रभावित हुई थी। जिसकी वजह से बाहर से पानी की टैंकर बुलाए गए। लोगों का कहना है कि टैंकर का पानी पीने के बाद लोग बीमार होने लगे हैं।

यह भी पढ़ें…

Electric City Bus News: ग्रेटर नोएडा वेस्ट में चलेगी इलेक्ट्रिक सिटी बस, जानें पूरी खबर

एओए अध्यक्ष ने कहा- पानी में कोई कमी नहीं

इस मामले में ऐस सिटी हाउसिंग सोसाइटी के एओए अध्यक्ष नितिन शर्मा का कहना है कि पानी की वजह से डायरिया नहीं हुआ है। पानी के सैंपल दो लैब में भेजे गए हैं। उनमें से एक सैंपल आ गया है, जिसकी 410 टीडीएस दर्ज की गई। दूसरी लैब का सैंपल शुक्रवार को आएगा। सोसाइटी के अध्यक्ष का कहना है कि सभी टावर में पानी की टंकी की सफाई शुरू कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.