July 17, 2024, 10:16 pm

Agra Loan Fraud: कंपनी ने मां-बेटी को बनाया पोर्न साइट का एजेंट, जानें क्या है वजह

Written By: गली न्यूज

Published On: Saturday July 8, 2023

Agra Loan Fraud: कंपनी ने मां-बेटी को बनाया पोर्न साइट का एजेंट, जानें क्या है वजह

Agra Loan Fraud : सोशल मीडिया फ्रॉड के बारे में आपने सुना होगा. लेकिन आज हम जो आपको बताने जा रहे है. ऐसा फ्रॉड ना आपने कभी नही सुना होगा. एक महिला और उसकी बेटी ने एप से लोन लिया. कंपनी ने मां-बेटी को पोर्न साइट का एजेंट बना दिया. मां-बेटी 2277 रुपये के ऋण पर 3,458 की रकम दे चुकीं हैं, अब 50,000 और मांगे जा रहे हैं. मामले को लेकर पीड़ित पक्ष ने ट्रांस यमुना थाने में मुकदमा किया गया है.

क्या है पूरा मामला

बता दें की यूपी के आगरा की रहने वाली मां बेटी ने अपनी जरूरत के लिए ऑनलाइन ऐप के जरिये लोन लिया. और उसे चुका भी दिया. लेकिन ऐप के जरिये और पैसे चुकाने को कहा गया जिसका विरोध मां बेटी ने किया ऐसा न करने पर कंपनी ने मां बेटी को पोर्न साइट का एजेंट बना दिया. एप लोन कंपनी ने मां-बेटी को बदनाम कर दिया. कंपनी ने युवती को दिए लोन की राशि जमा करने के बाद और रकम मांगी. नहीं देने पर मोबाइल से डाटा चोरी कर मार्फ फोटो तैयार कर लीं. इसे परिचित और रिश्तेदारों के मोबाइल पर भेज दिया. उन्हें पोर्न साइट का एजेंट बता दिया.

अंजान लोगों के कॉल आने पर चला पता
युवती और उसकी मां के नंबर लिख दिए. अंजान लोगों के कॉल आने पर इस बारे में पता चला. मामले में थाना ट्रांस यमुना में मुकदमा दर्ज किया गया है। मां-बेटी ट्रांस यमुना थाना क्षेत्र की रहने वाली हैं। युवती को रुपयों की जरूरत थी. उसने इंटरनेट मीडिया पर ऑनलाइन लोन एप कंपनी लोन नाऊ का विज्ञापन देखा. कंपनी का एप डाउनलोड कर लिया. जिसके बाद ऑनलाइन आधार कार्ड, पैन कार्ड और मोबाइल नंबर ले लिया गया. एक वीडियो संदेश भी रिकॉर्ड कराया गया. सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद 22 जून को खाते में 2,277 रुपये भेज दिए गए. वह निर्धारित 7 दिन में लोन की रकम नहीं लौटा सकी. इस पर कंपनी से मैसेज आने लगे. ऑनलाइन और वायस काल भी किए गए. इस पर युवती ने दो बार में 3,458 रुपये जमा कर दिए. इसके बाद कंपनी की ओर से और रकम जमा करने के लिए दबाव बनाया जाने लगा.

आने लगे अंजान लोगों के कॉल

कंपनी के लोगों ने रकम जमा करने पर लोन खाता बंद करने का वादा किया था। लेकिन, ऐसा नहीं किया। कुछ दिन बाद करीब 3799 रुपये और जमा कराने का दबाव डालने लगे। फोन और मैसेज करते। रकम देने से मना करने पर फिर से कॉल करने लगे। व्हाट्सएप से युवती की फोटो काॅपी कर ली। इसे न्यूड महिला की फोटो के साथ जोड़ दिया। फोटो पर युवती और उसकी मां का नंबर लिख दिया। काॅन्टेक्ट लिस्ट से रिश्तेदार और परिचितों के नंबर निकालकर वायरल कर दिए। लोग कॉल करके मां-बेटी को परेशान करने लगे।

50 हजार मांगे, अवसाद में मां-बेटी

पीड़ित मां-बेटी ने पुलिस को बताया कि एप कंपनी के एजेंट की वजह से वह मानसिक पीड़ा में हैं। आरोपियों ने उनसे 50 हजार रुपये की मांग की। रकम नहीं देने पर फोटो अलग-अलग वेबसाइट पर डालकर बदनाम करने की धमकी देने लगे। व्हाट्सएप पर आरोपी रोजाना धमका रहे थे। इसकी चैट भी उनके पास हैं। इससे दोनों अवसाद में आ गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.