June 15, 2024, 6:46 pm

आपके बच्चे के स्कूल टाइमिंग में हुआ बड़ा बदलाव, स्कूल भेजने से पहले यह खबर जरूर देख लें.. नहीं तो उठानी पड़ सकती है परेशानी

Written By: गली न्यूज

Published On: Thursday April 20, 2023

आपके बच्चे के स्कूल टाइमिंग में हुआ बड़ा बदलाव, स्कूल भेजने से पहले यह खबर जरूर देख लें.. नहीं तो उठानी पड़ सकती है परेशानी

एक तरफ कोरोना के बढ़ते मामले दूसरी तरफ भीषण गर्मी ने लोगों को भारी परेशान कर रखा है। भले ही आज दिल्ली-एनसीआर के मौसम में बदलाव दिख रहा हो लेकिन ये बारिश की फुहारें ज्यादा दिनों तक टिकने वाली नहीं है। ऐसे में आप सभी को इस बार जबरदस्त गर्मी का सामना करना पड़ सकता है। लिहाजा केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकार भी एक्शन में है।

नोएडा-ग्रेटर नोएडा के स्कूल टाइमिंग में बदलाव

भीषण गर्मी को देखते हुए गौतमबुद्ध जिला प्रशासन एक्शन में है। इसी एक्शन के तहत स्कूल टाइमिंग में बदलाव किया गया है। अब क्लास 1 से लेकर 8 तक के स्टूडेंट्स के लिए क्लास 1 बजे तक ही चलेंगे। जिला प्रशासन की ओर से इस बार में आदेश जारी कर दिया गया है और सभी स्कूलों को इसका पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

 

इस आदेश के बाद गौतमबुद्ध नगर के सरकारी और निजी स्कूलों में कक्षा एक से आठवीं तक पढ़ने वाले छात्रों की छुट्टी दोपहर एक बजे होगी। बेसिक शिक्षा अधिकारी ऐश्वर्या लक्ष्मी ने अत्यधिक गर्मी को देखते हुए छुट्टी के समय में बदलाव किया है। कई दिनों से दिल्ली-एनसीआर में गर्मी का प्रकोप बढ़ रहा है। गर्मी के कारण कई स्कूलों में छात्र बेहोश हो रहे थे। कई शैक्षिक संघ लगातार स्कूल के समय में बदलाव करने की मांग कर रहे थे। प्राथमिक शिक्षक संघ गौतमबुद्ध नगर के प्रतिनिधि मंडल ने बुधवार को जिलाधिकारी और बेसिक शिक्षा अधिकारी से समय बदलने की मांग की थी।

इस बारे में जिले के डीएम के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से भी ट्वीट कर जानकारी दी गई है।

भीषण गर्मी में सूरज ने अपना रौद्र रुप दिखा रहा है। इससे पारा लगातार चढ़ता जा रहा है। रविवार को दोपहर का अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस रहा, जो इस दिन पिछले वर्ष की तुलना में 2 डिग्री अधिक था। मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो दिनों में तापमान में हल्की गिरावट आने की संभावना पहले ही जताई थी। भीषण गर्मी के मद्देनजर डॉक्टर लोगों को सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं। अप्रैल माह में मई-जून के मुकाबले इस बार भीषण गर्मी पड़ रही है। दिन बढ़ने के साथ-साथ लू के थपेड़े लोगों को परेशान कर रहे हैं। आलम यह है कि लोगों को चेहरे पर कपड़ा बांधकर एवं छाता लेकर घर से निकलना पड़ रहा है। दोपहर के समय सड़कों पर आवाजाही कम देखी जा रही है।

उत्तर भारत में भयंकर गर्मी

देश के उत्तरी हिस्से में गर्मी चरम पर है. कई जगह तापमान 43-44 डिग्री को पार कर गया है. दिन में धूप इतनी तीखी होती है कि सड़कों पर ‘लॉकडाउन’ जैसे हालत दिख रहे हैं. बहुत जरूरी काम हो, तभी लोग दिन में घरों से निकलते हैं. ऐसी ही गर्मी की मार बंगाल के कई इलाके भी झे रहे हैं. इसी में एक है पश्चिम बंगाल का बर्दवान का इलाका. कुछ दिनों से भीषण गर्मी से बर्दवान का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. गुरुवार को बर्दवान में तापमान 44 डिग्री पार कर गया. तेज धूप और गर्म हवा से पूर्व बर्दवान जिले का जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है. यहां शहर की सड़कें सुनसान देखी जा रही हैं.

पश्चिम बंगाल के कई इलाके बैसाख महीना शुरू होते ही मौसमी कोहराम की चपेट में आ गए हैं. जैसे-जैसे दिन बढ़ता है, सड़कों पर सन्नाटा पसरता जाता है. लोग बेहद जरूरी काम के बिना सड़कों पर निकलने से डर रहे हैं. आम लोग गर्मी से निजात पाने और अपनी प्यास बुझाने के लिए लस्सी, फलों का रस, गन्ने के रस का सहारा ले रहे हैं. बर्दवान जिले भर में भयावह स्थिति बनी हुई है. लोग अब बारिश का इंतजार कर रहे हैं ताकि कुछ राहत मिले.

उधर ओडिशा भी भारी गर्मी और लू की चपेट में है. ओडिशा भर के सभी लोग पिछले कुछ दिनों से राज्य भर में चल रही भीषण गर्मी से त्रस्त हैं. इस गर्मी से सामान्य जनजीवन को बहुत नुकसान हुआ है. राज्य के कई स्थानों पर गुरुवार को तापमान 43 डिग्री से ऊपर रिकॉर्ड किया गया है. मौसम विज्ञान केंद्र की भविष्यवाणी के अनुसार, राज्य के कुछ स्थानों पर पारा का स्तर 45 डिग्री तक और बढ़ सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.