February 6, 2023, 1:25 am

stray animals on noida road: नोएडा की सड़कों पर आवारा जानवरों का कब्जा, रोजाना ले रहे लोगों की जान

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday January 20, 2023

stray animals on noida road: नोएडा की सड़कों पर आवारा जानवरों का कब्जा, रोजाना ले रहे लोगों की जान

stray animals on noida road:  नोएडा (Noida news) में आवारा जानवरों का आतंक फैला हुआ है. यहां आवारा जानवर दिन-रात सड़क पर घूमते रहते है. जिससे रोजाना सड़क हादसे हो रहे है, यहां आए दिन कोई ना कोई इनका शिकार होता रहता है. कभी किसी की गाड़ी इनसे टकरा जाती है, तो कभी गाय या सांड किसी पर हमला कर जान ले लेते हैं. इसको लेकर प्रशासन की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. बता दें कि, बीते सप्ताह सेक्टर-63 के चोटपुर कॉलोनी में एक युवक को सांड ने जमीन पर पटक दिया. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. शहर में बीते कुछ महीनों में कई लोगों की मौत इस तरह से हो चुकी है.

बता दें कि, नोएडा शहर में आवारा पशु (stray animal) लोगों के लिए एक बड़ी चुनौती बन गए हैं. रोजाना यहां कई लोग अपनी जान गंवा देते है.

आवारा जानवरों ने ले ली लोगों की जान

नोएडा के सेक्टर-63 के चोटपुर कॉलोनी में एक युवक को सांड ने जमीन पर पटक दिया. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. इस से पहले भी कई घटनाएं हो चुकी हैं. इसी तरह बीते साल मई-जून में गढ़ी चौखंडी के पास एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. रक्षा बंधन के दिन भंगेल में अपने दादा के साथ भाई को राखी बांधने जा रही एक मासूम बच्ची को गाय ने पटक दिया. घटना में मासूम की मौत हो गई थी. वहीं अप्रैल महीने में सब्जी लेने गई एक महिला को सांड ने टक्कर मारी थी. जिसके बाद उसकी मौत हो गई. सलारपुर गांव में दो आवारा सांड लड़ाई कर रहे थे. उसी बीच ऑफिस से घर आ रहे संजय नाम के एक व्यक्ति की उनके चपेट में आने से मौत हो गई थी. इसके बावजूद प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है.

खुलेआम घूम रहे आवारा जानवरों के कारण हो रही दुर्घटनाओं और मौतों को लेकर नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority)
के ओएसडी इंदु प्रकाश ने कहा कि हमने नोएडा में दो गौशाला एक सेक्टर-93 और दूसरा सेक्टर 14 ए में बनाया हुआ है. हम खुले सांड, गाय को वहीं रखते हैं. स्थानीय लोगों की जहां भी शिकायत होती है. हम , हमारी टीम को मौके पर भेजते हैं और जानवरों को लाकर गौशाला में डाल देते हैं. लेकिन कई बार स्थानिय लोग ही इसका विरोध करने लगते हैं. इस कारण हमें जानवरों को छोड़कर आना पड़ता है और इस कारण लोगों की मौत होती है.

ये भी पढ़ें-

Ghaziabad news: गाजियाबाद में रिश्वत लेते पकड़ा गया JE, 17 लाख का बिल पास करने के बदले में ले रहा था घूस

 

इंदु प्रकाश ने कहा कि ऐसी घटना को प्रदेश में आपदा घोषित किया गया था. जिसके बाद ऐसी घटना में मृतक के परिवार वालों को चार लाख का मुआवजा जिला प्रशासन देता है. उसमें नोएडा अथॉरिटी का कोई रोल नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.