May 29, 2024, 5:03 pm

प्राधिकरण का चला बुलडोजर, अवैध दुकानों और झुग्गियों को हटाया

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday June 2, 2023

प्राधिकरण का चला बुलडोजर, अवैध दुकानों और झुग्गियों को हटाया

Noida news: नोएडा अथॉरिटी हर दिन शहर में अवैध अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चला रहे हैं। सड़कों पर दुकान और अवैध तरीके से झुग्गी बस्ती का निर्माण कर चुके लोगों के खिलाफ एक्शन लिया जा रहा है।इसके मद्देनजर नोएडा प्राधिकरण की ओर से बुधवार को  नोएडा के सेक्टर-18 कामर्शियल हब के पास 7130 वर्गमीटर जमीन पर बनी अवैध नर्सरी और दुकानों को बुधवार को प्राधिकरण द्वारा ध्वस्त किया गया। दुकानों का पक्का निर्माण किए जाने के साथ ही यहां कैंटीन चलाई जा रही थी।

आपको बता दें कि प्राधिकरण अधिकारियों द्वारा मशीनों की मदद से निर्माण को ध्वस्त किए जाने के दौरान भारी पुलिस बल मौजूद रहा। प्राधिकरण वरिष्ठ प्रबंधक ने बताया कि कामर्शियल जमीन होने के चलते इसकी कीमत करीब 300 करोड़ रुपये के आसपास आंकी जा रही हैं इस कार्रवाई में प्राधिकरण ने करोड़ों करोड़ रुपए की जमीन को मुक्त कराया है।

प्राधिकरण अधिकारियों के मुताबिक़ : जमीन पर चल रहा था अवैध निर्माण

प्राधिकरण विभाग के वरिष्ठ प्रबंधक  ने बताया कि डीएलएफ मॉल के सामने करीब 7130 वर्गमीटर जमीन पर काफी लंबे समय से अवैध निर्माण किया हुआ था। यहां पर अवैध तरीके से अवैध नर्सरी को पक्का मकान बनाया जा रहा था। जिसे अथॉरिटी के बुलडोजर ने तोड़ दिया है। इस जमीन की कीमत करीब 300 करोड़ होगी। खाली जमीन के चारो ओर फैंसिंग कराकर यहां प्राधिकरण का बोर्ड लगाया जाएगा। उन्होंने  आगे कहा की , “हम अवैध ढांचों को हटाने में आने वाली लागत को भी कब्जा करने वाले लोगों से वसूल करेंगे।इसलिए हम नियमों का उल्लंघन करने वालों को जल्द से जल्द अवैध ढांचों को हटाने की सलाह देते हैं।

विवाद हाईकोर्ट में विचाराधीन

आपको बता दें कि एक तरफ़ प्राधिकरण अधिकारियों द्वारा अवैध दुकानों को ध्वस्त किया गया दूसरी तरफ अवैध निर्माण करने वाले लोगों का कहना है कि जमीन को लेकर चल रहा विवाद हाईकोर्ट में विचाराधीन है। इसके बाद इसे ध्वस्त नहीं किया जा सकता है।प्राधिकरण की कार्रवाई किए जाने के दौरान मौके पर पहुंचे किसानों ने इसका विरोध किया। प्राधिकरण अधिकारियों ने किसानों को समझाया। इसके बाद वे शांत हुए। हालांकि, उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस मामले में आंदोलन किया जाएगा। हमारा सामान हटा दिया गया है। सारा सामान तोड़ दिया गया है।

प्राधिकरण वरिष्ठ प्रबंधक विजय रावल ने बताया

डीएलएफ माल के सामने करीब 7130 वर्गमीटर जमीन पर काफी लंबे समय से अवैध निर्माण किया हुआ था। इस जमीन को खाली कराया गया। यहां पांच नर्सरी को हटाया गया। नर्सरी संचालक अपना सामान निकालकर जमीन खाली कर रहे है। वहीं, पक्की बनी हुई सात दुकानों को ध्वस्त किया गया। इन दुकानों में कैंटीन चलाई जा रही थी। चेतावनी दी गई है कि दोबारा अतिक्रमण या अवैध निर्माण किया गया तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस जमीन के चारों ओर फैंसिंग कराकर यहां प्राधिकरण भूमि होने का बोर्ड लगाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.