June 15, 2024, 8:43 pm

Delhi G-20 Summit: G20 को लेकर जारी हुआ नोटिस, घरों की खिड़कियां रखें बंद, छतों पर ना चढ़े और…

Written By: गली न्यूज

Published On: Friday August 25, 2023

Delhi G-20 Summit: G20 को लेकर जारी हुआ नोटिस, घरों की खिड़कियां रखें बंद, छतों पर ना चढ़े और…

Delhi G-20 Summit: दिल्ली में 9 और 10 सितंबर को होने वाले जी-20 समिट (Delhi G-20 Summit) को लेकर तैयारी जोर-शोर से चल रही है. इस दौरान हिंडन एयरपोर्ट (Hindon Airport) से दिल्ली तक की यात्रा के दौरान पड़ने वाली बिल्डिंग, घरों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की खिड़कियों को बंद करने की कार्रवाई तेज कर दी गई है. इसके लिए मकान मालिकों को नोटिस जारी किए हैं. नोटिस में 9 से 11 सितंबर के बीच खिड़कियों को बंद रखने को कहा गया है.

नोटिस में क्या-क्या कहां गया है

बता दें कि, मकान मालिकों को नोटिस दिए जा रहे हैं. ऊंची इमारतों में रहने वाले लोगों को भी नोटिस देकर उन्हें इस दौरान छतों पर नहीं चढ़ने की हिदायत दी जा रही है. 9 से 11 सितंबर के बीच घरों की खिड़कियों को बंद रखने और छतों पर नहीं चढ़ने के लिए लोगों को नोटिस जारी किए हैं. हिंडन एयरपोर्ट से लिंक रोड होते हुए विदेशी मेहमान दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के जरिए दिल्ली में प्रवेश करेंगे. इस दौरान बीच में पड़ने वाली सभी जगहों को सुरक्षा एजेंसियों द्वारा गंभीरता से जांचा जा रहा है.

दिल्ली सरकार ने जारी की गाइडलाइन 

जी-20 समिट (Delhi G-20 Summit) में हिस्सा लेने वाले अतिथियों की सुरक्षा के मद्देनजर प्रदेश सरकार ने गाइडलाइन जारी की है. दूसरी तरफ, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण ने हिंडन एयरपोर्ट के आसपास बसी कॉलोनी की रोड साइट की खिड़कियों को बंद करने के लिए कार्रवाई तेज कर दी है. इसके लिए जीडीए के प्रवर्तन विभाग के स्टाफ को लगाया गया है. माना जा रहा है कि जी-20 में हिस्सा लेने वाले अतिथि हिंडन एयरपोर्ट पर उतरेंगे, जो लिंक रोड होते हुए दिल्ली जाएंगे. उत्तर प्रदेश शासन ने जो गाइडलाइन जारी की है, उसमें तमाम विभागों को हिदायत दी गई है. कहा गया है कि कही भी नाली टूटी न हो, उसकी मरम्मत की जाए. नाली ढकी हो और चेंबर पर ढक्कन लगाया जाए.

नाली और सड़क के बीच में इंटरलॉकिंग टाइल्स लगाई जाए और रास्ते में कहीं जलभराव की समस्या हो तो निकासी के स्थाई प्रबंध किए जाएं. खंभों पर लाइट जलती होनी चाहिए. स्पाइडर लाइटिंग की व्यवस्था की जाए. इस बीच अगर कोई हैंड पंप खराब हो तो उसकी मरम्मत कराई जाए. सड़क के किनारे मलवा नहीं होना चाहिए. सड़क किनारे गमले में सूखे पौधे न होंं. अगर गमले टूटे-फूटे हों तो उन्हें बदल दिए जाएं.

ये भी पढ़ें-

Delhi high court on pregnant working women: दिल्ली हाईकोर्ट का प्रेग्नेंट वर्किंग विमेन पर कमेंट्स! कहीं बड़ी बात…

बता दें कि, जी-20 समिट के दौरान 29 देशों के मेहमान भारत आएंगे. इस दौरान कुछ विदेशी मेहमानों का विमान आईजीआई एयरपोर्ट पर उतरेगा. कुछ मेहमानों का विमान गाजियाबाद के हिंडन एयरपोर्ट पर उतरेगा. यह समिट दिल्ली में आयोजित किया जा रहा है. इसके लिए एक हजार स्पेशल कमांडो की तैनाती भी की जाएगी, जो एयरपोर्ट से समिट स्थल तक तैनात रहेंगे. इस दौरान चप्पे-चप्पे पर की इनकी पैनी नजर रहेगी. ऊंची इमारतों से भी ये कमांडों आसपास के क्षेत्र पर नजर रखेंगे. इस दौरान विदेशी मेहमानों की सुरक्षा के लिए खास बंदोबस्त किए जा रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.