May 19, 2024, 1:20 pm

Society Issues: सड़कों पर उड़ रही धूल, सफाई व्यवस्था बदहाल…लोग हुए परेशान

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday May 15, 2024

Society Issues: सड़कों पर उड़ रही धूल, सफाई व्यवस्था बदहाल…लोग हुए परेशान

Society Issues: ग्रेटर नोएडा वेस्ट की सड़कों की सफाई व्यवस्था बहुत ही बदहाल स्थिति में पहुंच गई है। सड़कों पर उड़ती धूल यहां के लोगों की सेहत खराब कर रही है। सड़कों की साफ सफाई में खानापूर्ति हो रही है। इस क्षेत्र में पीएम 10 (धूल मिट्टी के छोटे कण) की मात्रा सामान्य से पांच गुना ज्यादा रही। यह स्थिति रोज की है। 20 से ज्यादा सोसायटियों के सामने धूल उड़ती नजर आती है।

क्या है पूरा मामला

बतादें, ग्रेटर नोएडा वेस्ट (Society Issues) की सड़कों पर उड़ती धूल यहां के लोगों की सेहत खराब कर रही है। सड़क किनारे घास और इंटरलाकिंग टाइल्स नहीं लगीं हैं। तेज हवा और वाहनों से धूल उड़ रही है। सड़कों की साफ सफाई में खानापूर्ति हो रही है। एक्यूआइ (वायु गुणवत्ता सूचकांक) के अनुसार ग्रेटर नोएडा वेस्ट की हवा सोमवार को भी खराब स्थिति में दर्ज हुई। उड़ती धूल पर काबू नहीं कर पाना यहां प्रदूषण की मुख्य वजह है।

सर्विस से लेकर मुख्य सड़कें भी जर्जर हालात में

इस क्षेत्र में पीएम 10 (धूल मिट्टी के छोटे कण) की मात्रा सामान्य से पांच गुना ज्यादा रही। यह स्थिति रोज की है। 20 से ज्यादा सोसायटियों के सामने धूल उड़ती नजर आती है। सर्विस से लेकर मुख्य सड़कें भी जर्जर हालात में हैं। ग्रेनो वेस्ट में चारमूर्ति से एकमूर्ति 130 मी. रोड, एक मूर्ति से अर्था सेज 45 मी. रोड, गोल्डन आइ से एस एस्पायर 45 मी रोड, हनुमान मंदिर से न्यू हरनंदी ब्रिज 60 मी, राइज चौकी से ऐस एस्पायर होते हुए चार मूर्ति तक, राइज चौकी से अरिहंत अंबर सोसायटी, अर्था एसइजेड से चौगानपुर गोल चक्कर, एक मूर्ति से रोजा गोल चक्कर और रोजा गोल चक्कर से रेलवे लाइन की ओर वाली सड़क, एसकेएस वर्ल्ड स्कूल से विक्ट्री वन अमारा सोसायटी, निराला एस्टेट से मेफेयर सोसायटी, मेफेयर से सर्वोत्तम स्कूल और समृद्धि ग्रैंड एवेन्यू, 14 एवेन्यू चौकी से वेदांतम सोसायटी की सर्विस मार्ग पर साफ तौर पर धूल उड़ती हुई देखी जाती है।

यह भी पढ़ें…

Fintech City News: जल्द ही बसने वाली है उत्तर भारत की पहली फिनटेक सिटी, लाखों लोगों को मिलेगा रोजगार

प्रदूषण नियंत्रण के इंतजामों में लापरवाही

ग्रैप (गेडेड रिस्पांस एक्शन) प्लान लागू होने पर सड़कों पर सफाई समेत पानी का छिड़काव देखा जाता है। निर्माण कार्य भी बंद कर दिए जाते हैं। ग्रैप हटते ही साफ सफाई बंद होने के साथ प्रदूषण नियंत्रण के इंतजामों में लापरवाही नजर आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.