October 7, 2022, 6:16 am

Embezzlement of Money: नोएडा के इस सोसाइटी में 2 करोड़ का गबन, AOA अध्यक्ष ने बोर्ड के सदस्यों पर लगाए आरोप

Written By: गली न्यूज

Published On: Sunday August 21, 2022

Embezzlement of Money: नोएडा के इस सोसाइटी में 2 करोड़ का गबन, AOA अध्यक्ष ने बोर्ड के सदस्यों पर लगाए आरोप

Embezzlement of Money: गौतमबुद्ध नगर के नोएडा (Noida) स्थित सेक्टर 78 के द हाइड पार्क  (The hyde Park) सोसाइटी में चुनावी घोषणा होने के बाद भी राजनीति थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोसाइटी के रेजिडेंट्स ने बड़ी उम्मीदों के साथ अपार्टमेंट ऑनर एसोसिएशन का गठन किया था। लेकिन आपसी फूट की वजह से AOA दो गुटों में बंट गई है और दोनों एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने में लगे हुए हैं।

क्या है गंभीर आरोप ?

सबसे बड़ा आरोप पैसों के गबन को लेकर के हैं। द हाइड पार्क सोसायटी के अध्यक्ष अश्वनी त्रिपाठी ने AOA के ही कुछ सदस्यों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अश्विनी त्रिपाठी का आरोप है कि फर्जी तरीके से बैंक में ना केवल सिग्नेटरी बदल दिया गया बल्कि सोसाइटी के कॉर्पस फंड से भी अवैध तरीके से निकासी (Embezzlement of Money) की गई।  अश्विनी त्रिपाठी का कहना है कि यह सब इसलिए किया गया ताकि सोसाइटी की फैसिलिटी एजेंस को बचाया जा सके।

https://gulynews.com को मिली जानकारी के मुताबिक अश्वनी त्रिपाठी ने इस संबंध में एक चिट्ठी डिप्टी रजिस्ट्रार मेरठ को लिखी है। 4 अगस्त की चिट्ठी का हवाला देकर के द हाइड पार्क अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्वनी त्रिपाठी ने यह गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि ‘आरोपी बोर्ड के चार सदस्यों ने दो अन्य सदस्यों और एचडीएफसी बैंक सेक्टर 78 के ब्रांच मैनेजर श्रीमती कंचन डौंडियाल के साथ मिलकर एचपी एओए बैंक अकाउंट के मैंडेटरी सिग्नेट्री से एओए अध्यक्ष को हटाने और उसको बदलने की गुपचुप साजिश की है’।  इतना ही नहीं उन्होंने आरोप लगाया है कि मिलीभगत से अब तक करीब 2 करोड रुपए का गबन किया जा चुका है। चौंकाने वाली बात यह है कि अश्वनी त्रिपाठी का यह आरोप है कि फैसिलिटी एजेंसी लॉयन इंडिया लिमिटेड के करीब 3 महीने के बिल चेक पर करीब ₹10000000  (एक करोड़) को बिना अध्यक्ष को बताए और बिना इनवॉइस के वेरिफिकेशन के ही जारी कर दिया गया है।

यह भी देखें:-

किन पर आरोप ?

https://gulynews.com के पास अश्विनी त्रिपाठी को डिप्टी रजिस्ट्रार को लिखी एक्सक्लूसिव चिट्ठी मौजूद है। पैसों के गबन का यह आरोप अध्यक्ष अश्विनी त्रिपाठी ने लगाए हैं और इसके लिए कोषाध्यक्ष नितेश कश्यप,  सेक्रेटरी अतुल राज,  मेंबर पुष्पेंद्र सिंह और उपाध्यक्ष मुकेश सिंह का नाम सार्वजनिक तौर पर किया है। इन सभी पर आरोप है कि इन्होंने फर्जी तरीके से पैसों को बैंक से निकाला और फैसिलिटी मेंटेनेंस टीम को फायदा पहुंचाया।
बता दें कि सोसाइटी में जल्दी ही हाइड पार्क अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन का चुनाव होना है जिसकी तैयारी इलेक्शंस कमेटी कर रही है । अश्विनी त्रिपाठी का कहना है कि इन परिस्थितियों में ऐसे में बोर्ड भंग हो जाता है। उसके बावजूद भी बोर्ड के पदाधिकारी ना केवल लगातार फैसले ले रहे हैं बल्कि फर्जी निकासी कर रुपयों का गबन भी कर रहे हैं। इस बारे में अश्वनी त्रिपाठी ने एक चिट्ठी डिप्टी रजिस्ट्रार को लिखी है और उनसे कार्यवाही करने का अनुरोध किया है।

बता दें कि लंबे समय से हाइड पार्क सोसाइटी में एओए के भीतर गतिरोध है और इसी गतिरोध को देखते हुए निवासियों ने जीबीएम बुलाकर के चुनाव कराने का फैसला किया था। लेकिन अब जिस तरीके की गतिविधि नजर आ रही है उसमें बड़े बैंक फ्रॉड का आरोप लगाया जा रहा है । अब यह जांच के बाद ही साबित होगा कि किसका पक्ष सही है और कौन सच्चा है और कौन झूठा।

यह भी पढ़ें:-

Noida National Player: सिक्योरिटी गार्ड बनने को मजबूर हुआ नेशनल प्लेयर, सरकार की अनदेखी या खुद की गलती का शिकार बना

Leave a Reply

Your email address will not be published.