July 17, 2024, 10:08 pm

Shortage Of Water: भीषण गर्मी में पानी की किल्लत, एक पंप हाउस के भरोसे कई सोसाइटियों का कनेक्शन

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday June 12, 2024

Shortage Of Water: भीषण गर्मी में पानी की किल्लत, एक पंप हाउस के भरोसे कई सोसाइटियों का कनेक्शन

Shortage Of Water: भीषण गर्मी में दिल्ली एनसीआर की ज्यादातर हाउसिंग सोसाइटियों में पानी की किल्लत बढ़ती जा रही है। सबसे ज्यादा समस्या ग्रेनो प्राधिकरण की सोसाइटियों के लोगों को हो रही है। यहां एक ही पंप हाउस के भरोसे कई सोसाइटियों का कनेक्शन चल रहा है। कई सोसाइटियों में टैंकर के माध्यम से पानी की सप्लाई हो रही है, लेकिन जो पानी टैंकर के जरिए आ रहा है, उसका टीडीएस 755 तक पहुंच गया है।

क्या है पूरा मामला

बतादें, दिल्ली एनसीआर में पानी का संकट (Shortage of Water) खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। अब ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित गैलेक्सी नार्थ एवेन्यू 2 हाउसिंग सोसाइटी में पानी का भारी सकंट आ गया। जिसकी वजह से सोसाइटी में रहने वाले करीब 1300 लोग परेशान हैं। कई सोसाइटियों में टैंकर के माध्यम से पानी की सप्लाई हो रही है, लेकिन जो पानी टैंकर के जरिए आ रहा है, उसका टीडीएस 755 तक पहुंच गया। ऐसे में लोगों की परेशानी बढ़ने लगी है। पिछले करीब एक महीने से नॉर्थ एवेन्यू 2 में पानी की समस्या बनी हुई है। ज्यादातर सोसाइटियों में एक ही पंप हाउस के कनेक्शन से कई सोसाइटियों में पानी की सप्लाई होती है। जिससे समस्या और भी बढ़ती जा रही है।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की लापरवाही बनी बड़ी वजह

इस मामले में लोगों का कहना है कि इस समय पानी की समस्या सबसे ज्यादा हो रही है। उसके बावजूद भी बिल्डर के द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के द्वारा जो पानी की मोटर है, वह खराब हो गई है। इसी वजह से इन दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। रोजाना सोसाइटी के भीतर बिल्डर की तरफ से 15-20 पानी के टैंकर बुलाई जाते हैं। जिनकी क्षमता 20 हजार लीटर होती है। यह काम ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को भी करना चाहिए, लेकिन ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण इस पर ध्यान नहीं दे रहा है।

पीने का पानी योग्य नहीं

सोसाइटी के निवासियों ने बताया कि टैंकर के माध्यम से जो पानी आ रहा है, वह पीने के लायक नहीं है। वह काफी खतरनाक है, क्योंकि उसका टीडीएस 755 तक पहुंचा हुआ है। इसलिए अब हाउसिंग सोसाइटी में रहने वाले निवासी बाहर से खरीद कर पानी ला रहे हैं और उसको पी रहे हैं। करीब एक महीने से यह समस्या बनी हुई है। इसकी शिकायत ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के तमाम अधिकारियों से की गई, लेकिन कोई भी सुनने के लिए तैयार नहीं है।

यह भी पढ़ें…

Illegal Encroachment: अतिक्रमण हटाने को लेकर हुई मारपीट, एक व्यक्ति हुआ गंभीर रूप से घायल

प्राधिकरण और बिल्डर की लड़ाई में फंसे घर खरीदार

प्राधिकरण और बिल्डर की लड़ाई में हमेशा घर खरीदार पिसते हैं। यह पहली बार नहीं हुआ है। रजिस्ट्री से लेकर तमाम मुद्दों में बीच में घर खरीदार ही लटक जाते हैं। अब पानी की समस्या हो गई तो बिल्डर और प्राधिकरण एक दूसरे के ऊपर आरोप लगा रहे हैं, लेकिन इनके बीच में केवल घर खरीदारों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इस समय पानी का संकट ग्रेटर नोएडा की मुख्य वजह बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.