July 17, 2024, 10:44 pm

Rain Water Harvesting System: 80 प्रतिशत सोसाइटियों के रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बंद, भूगर्भ जल विभाग की रिपोर्ट में खुलासा

Written By: गली न्यूज

Published On: Wednesday June 26, 2024

Rain Water Harvesting System: 80 प्रतिशत सोसाइटियों के रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बंद, भूगर्भ जल विभाग की रिपोर्ट में खुलासा

Rain Water Harvesting System: गौतमबुद्ध नगर जिले की करीब 80 प्रतिशत सोसाइटियों में रेन हार्वेस्टिंग सिस्टम बंद गए हैं। इसका खुलासा भूगर्भ जल विभाग की रिपोर्ट में हुआ है। हाल ही में विभाग ने खामियां मिलने वाली सभी सोसाइटियों को दुबारा नोटिस जारी किया है। बताया जा रहा है कि बारिश के दौरान सोसाइटियों के बेसमेंट तालाब में तब्दील हो जायेंगे।

क्या है पूरा मामला

बतादें, भीषण गर्मी (Rain Water Harvesting System) के बीच अब कुछ ही दिनों में मानसून दस्तक देने वाले हैं। ऐसे में गौतमबुद्ध नगर की ग्रुप हाउसिंग सोसाइटियों में जल संचयन के लिए स्थापित किए गए रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम शोपीस बने हुए हैं। हाल ही में जिला भूगर्भ जल विभाग ने 90 सोसाइटियों में लगे हुए सिस्टम की जांच की है। जिसमे 80 प्रतिशत सोसाइटियों के रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम चोक पड़ें हुए हैं। हाल ही में विभाग ने खामियां मिलने वाली सभी सोसाइटियों को दुबारा नोटिस जारी किया है। बताया जा रहा है की बारिश के दौरान सोसाइटियों के बेसमेंट तालाब में तब्दील हो जायेंगे। साथ ही जल संचय नही हो पाएगा। भूगर्भ विभाग के मुताबिक संबंधित प्राधिकरण के अधिकारियों की तरफ से होने वाले सिस्टम की जांच में लापरवाही बरती जा रही है।

बारिश के मौसम में बेसमेंट भर जाता है पानी

जानकारी के अनुसार ग्रेनो वेस्ट में 300 से अधिक हाउसिंग सोसाइटी हैं। जिसमें काफी संख्या में परिवार रह रहे हैं। जबकि, कई प्रोजेक्ट निर्माणाधीन हैं। ऐसे आने वाले समय में लोगों को फ्लैट में पजेशन मिलने के बाद रहना शुरू कर देंगे। ग्रेनो के कई सेक्टरों में बड़ी बड़ी सोसाइटियों में हर साल बारिश के दौरान पानी की निकासी की व्यवस्था न होने से हाल बेहाल हो जाता है।

यह भी पढ़ें…

Fight on the Road: बीच सड़क पर भिड़े दो पक्ष,जमकर हुई मारपीट…ये है वजह

विभागीय अधिकारियों की लापरवाही से फंसे लोग

गौतमबुद्ध नगर विकास समिति की अध्यक्ष रश्मि पांडेय ने बताया की यह एक गंभीर विषय हैं। मानसून आने वाला है, मुख्य रोड के साथ ही सोसाइटियों में भी जल संचय के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। साथ ही पानी की किल्लत होने पर बोरिंग के जरिए जमीन से पानी खींचा जा रहा है। उन्होंने बताया की ग्रेनो प्राधिकरण की एसीओ अन्नपूर्णा गर्ग को सोसाइटियों में बंद पड़े रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को संचालित करने हेतु मांग की थी। लेकिन अभी तक इस मामले में कोई संज्ञान नही लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.