October 7, 2022, 6:29 am

Noida Dog Bite: एडमिनिस्ट्रेशन के एक्शन पर सवाल, पूछा- चेहरा और पद देखकर कार्रवाई क्यों ?

Written By: गली न्यूज

Published On: Tuesday July 26, 2022

Noida Dog Bite: एडमिनिस्ट्रेशन के एक्शन पर सवाल, पूछा- चेहरा और पद देखकर कार्रवाई क्यों ?

Noida Dog Bite: गौतमबुद्ध नगर के नोएडा के सेक्टर 137  स्थित पारस टीयरा सोसायटी में रहने वाली गाजियाबाद के एसडीएम को कुत्ते के काटने के बाद प्रशासन एक्शन में है। इस घटना के बाद एसडीएम ने मामले की शिकायत की तो आवारा कुत्तों को पकड़ने वाली टीम मौके पर पहुंची और तेजी से कार्रवाई करते हुए कई आवारा कुत्तों को पकड़कर ले गई।

एडमिनिस्ट्रेशन के एक्शन पर सवाल

नोएडा (Noida) में कुत्ते की काटने (Noida Dog Bite) की घटना के बाद प्रशासन  की इस कार्रवाई के बाद जहां डॉग लवर्स गुस्से में हैं वहीं एडमिनिस्ट्रेशन के इस एक्शन पर आम जनता भी सवाल खड़े कर रही है। लोगों का आरोप है कि एडमिनिस्ट्रेशन से जुड़े एक शख्स को जब कुत्ते ने काटा तो प्रशासन हरकत में आ गई लेकिन इसके पहले इसी सोसायटी में रहने वाली टीना को जब कुत्ते ने काटा और उस पर अटैक किया तब प्रशासन सोती रही। लोगों का आरोप है कि प्रशासन चेहरा और पद देकर कार्रवाई करती है।

यह भी पढ़ें:-

Noida: बेपनाह प्यार का अंत। कैंसर की बीमारी का पता चलते ही पति-पत्नी ने की आत्महत्या।

क्या कहती है आम जनता?

नोएडा में रह रहे और सोसाइटी के अंदर स्ट्रीट डॉग के खिलाफ अभियान चला रहे हैं जोगिंदर सिंह ने इस बारे में एक ट्वीट करते हुए वीडियो जारी किया है। जोगिंदर सिंह का आरोप है कि एसडीएम को आवारा कुत्तों द्वारा काटने पर कुत्ते उठाए जाने के लिए सारे सरकारी अमला लगा दिया गया और आम नागरिक टीना जी पर 5 कुत्तों द्वारा हमला करने पर हजारों सवालों की बौछार की गई ऐसा प्रशासन ने क्यों किया।

 

 

दरअसल नोएडा की पारस टीयरा सोसायटी में लंबे समय से आवारा कुत्तों का आतंक है। कुत्तों के काटने से कई आम निवासी परेशान और त्रस्त हो चुके हैं। जब गाजियाबाद के एसडीम को कुत्ते ने काटा तो प्रशासन हरकत में आई आम लोग प्रशासन की इस हरकत पर सवाल कर रहे हैं और पूछ रहे हैं कि पद प्रतिष्ठा और चेहरा देखकर प्रशासन क्यों कार्रवाई कर रहा है।

यह भी पढ़ें:-

Commonwealth Games 2022: खेल की शुरुआत से पहले भारत को बड़ा झटका। नहीं खेलेंगे ‘गोल्ड मेडल ब्वॉय’

Leave a Reply

Your email address will not be published.